Get Indian Girls For Sex
   

सास की गांड चोदकर बदला लिया Hindi Sex Stories

Sexy mature woman Kendra Lust prefers big cocks in her beautiful cunt porn images Full HD Porn and Nude Images00016

Sexy mature woman Kendra Lust prefers big cocks in her beautiful cunt porn images Full HD Porn and Nude Images00016

सास की गांड चोदकर बदला लिया Hindi Sex Stories : हैल्लो दोस्तों, आप लोगों ने बहुत सी कहानियाँ पढ़ी होगी लेकिन यह इन सबसे अलग है। में आपको सबसे पहले अपना परिचय करता हूँ, मेरा नाम रोशन है और में मुंबई का रहने वाला हूँ, मेरी उम्र 32 साल है, में शादीशुदा हूँ और मेरे एक बच्ची है। मेरी शादी को 2 साल हो चुके है, मेरी शादी मेरे मम्मी की बहन की लड़की की लड़की से हुई है, जबकि में रिश्ते में उसका भाई लगता हूँ, क्योंकि मेरी सास का पति मेरे दूर के रिश्ते में मामू लगता है। मेरी पत्नी का नाम सानिया है, हमारी शादी में मेरी पत्नी की फेमिली में कुछ गलतफेहमी हो गयी थी कि में उसको अलग से रखूँगा और में अपने मम्मी, पापा से अलग रहूँगा और इसके लिए मुझे पुलिस और कोर्ट तक जाना पड़ा था फिर हमने फ़ैसला किया कि हम गाँव की पंचायत बैठाएँगे और फ़ैसला करेंगे।

फिर एक दिन गाँव की पंचायत बैठी और फ़ैसला हुआ कि लड़की को उसके पति के घर जाना होगा, क्योंकि हम गलत नहीं थे। चलो यह हुआ मेरा फेमिली का परिचय। में इतना चुदक्कड़ हूँ कि पहले रात से ही में अपनी पत्नी से बहुत सेक्स करता था, जिसका रिज़ल्ट था कि वो प्रेग्नेंट हो गयी। मेरी पत्नी ने मेरे सेक्स के बारे में अपने घर में अपनी मामी और अपनी माँ (मेरी सास) को बताया था कि में कितना सेक्सी और चुदक्कड़ इंसान हूँ? मेरी सास की उम्र करीब 42 साल की होगी, उसका फिगर अभी भी कमाल का है 36-34-38, वो गोरी और दिखने में एकदम सेक्सी है और थोड़ी हाईट में छोटी है। मुझे कभी-कभी ऐसा लगता था कि मैंने सानिया से शादी करके गलती की है, क्योंकि उसकी माँ तो एकदम पटाखा है। में अपनी सास, ससुर के घर नहीं के बराबर जाया करता था, क्योंकि उस झगड़े के बाद मेरे दिल में उनके घर जाने की कोई ख्वाइश ही नहीं थी, लेकिन मेरा मेरी सास का फिगर देखने का जब मन होता तो में चला जाता था।

फिर एक बार मेरे ससुर बहुत जिद करके मुझे अपने साथ पुणे ले गये और कहा कि हम वहाँ कामरली दरवेश की दरगाह जा रहे है और तुम भी चलो। अब में दरगाह की बात सुनकर ना नहीं बोल सका और उन लोगों के साथ हो लिया। उस दिन शनिवार था, अब हम लोग सुबह ही निकल पड़े थे। अब मेरे मामू यानि की मेरे ससुर आगे की सीट पर बैठे थे और में, मेरी पत्नी और सास बीच वाली सीट पर थे और मेरा साला और कुछ लोग पीछे की सीट पर थे। अब मेरी बच्ची मेरी पत्नी को बहुत परेशान कर रही थी, इसलिए मेरी पत्नी ने मेरी सास से अपनी सीट चेंज की और विंडो सीट ले ली, क्योंकि मैंने विंडो सीट देने से मना कर दिया था। अब मेरी सेक्सी सास मेरे बाजू में आकर बैठ गयी थी, उसकी जांघे एकदम गर्म, गर्म लग रही थी।

अब उसकी जाँघो की गर्माहट से मेरे लंड में सनसनी फैल गयी थी और वो खड़ा होने लगा था। फिर में कई बार अपना हाथ अपने लंड के ऊपर रखकर उसको दबाता रहा। अब मेरी सास यह सब देख रही थी और अब वो मुझसे चिपके जा रही थी। फिर मैंने सोचा कि मेरी पत्नी ने अपनी सेक्स की स्टोरी लगता है, सबको बता दी है, नहीं तो यह ऐसे नहीं करती। फिर जब हम नाश्ता करने बीच में उतरे, तो मैंने अपनी पत्नी से पूछा कि तुमने अपने सेक्स के बारे में किस किसको बताया है? तो उसने कहा कि सिर्फ़ मेरी मम्मी को और थोड़ा बहुत छोटी मामी को। फिर इस पर मैंने उसको बहुत डांटा और हम फिर से पूना जाने के लिए बैठ गये। फिर मेरी सास ने अपना पैर चलाना स्टार्ट किया, अब वो अपने पैरों से मेरे पैरों पर गुदगुदी कर रही थी और साथ में चिपके भी जा रही थी और बार-बार अपना एक हाथ खिड़की की और करते हुए अपने बूब्स को मुझसे चिपका रही थी। अब में समझ गया था कि यह मुझसे चुदवाना चाहती है, अब मुझे बस मौके के इंतज़ार था।

फिर हम जब पूना पहुँचे तो तब पता चला कि मेरे ससुर की माँ बीमार है और वो वहीं रुकेंगे, लेकिन मुझे सोमवार को काम पर आना था, इसलिए हम वापस आ गये और मेरी सास तबीयत का बहाना करके हमारे साथ चल दी। फिर मैंने ससुर से पूछा कि वो कब वापस आएँगे? तो उन्होंने कहा कि कल शाम तक आ जाऊंगा। फिर इस पर मैंने ठीक है कहा और हम मुंबई की ओर निकल दिए। फिर हम रात को करीब 9 बजे मुंबई पहुँचे। अब मेरी बच्ची ने बहुत परेशान किया था और इस वजह से मेरी पत्नी थक गयी थी और उसकी बॉडी भी दर्द हो रही थी, इसलिए वो सोने चली गयी। फिर मेरी सास ने उसको कॉफी बना कर दी और कहा कि भूखी मत सो और यह कॉफ़ी पी ले और अब मेरी बच्ची भी सो गयी थी, क्योंकि मेरी पत्नी ने जब वो सफर में परेशान कर रही थी, तो उसको नींद की दवा पिलाई थी। अब बचा में और मेरी सास, मेरी सास तो सेक्सी थी ही और मेरी नजर भी उस पर थी। मेरे सेक्स का अंदाज़ मेरी सास को मालूम था और उसको सुनकर वो तो कब से इसी इंतज़ार में थी कि कब मौका मिले? और फिर यह सुहाना मौका मेरी सास के हाथ लग गया।

अब में टी.वी. चालू करके केबल पर पिक्चर देख रहा था। फिर मेरी सास ने कहा कि वो नहाकर आती है। अब में उनसे पहले नहा चुका था तो मैंने ठीक है कहा और फिर वो नहाने चली गयी। अब 20 मिनट हो चुके थे तो मैंने सोचा कि चलो पानी पी लेते है और सोने चले जाते है, क्योंकि अब रात के 11 बज रहे थे। फिर में किचन में गया तो मैंने देखा कि मेरी सास नंगी बाहर निकलकर सामने वाले रूम में जा रही थी। अब उसका फिगर देखकर तो मेरा दिमाग ही खराब हो गया था। फिर मैंने जल्दी से पानी पिया और टी.वी. देखने वापस आ गया। फिर रात को जब हम सोने चले गये तो मेरी सास ने कहा कि सभी लोग ड्राइंग रूम में सोते है, तो मैंने हाँ कह दिया। फिर मैंने मेरी बच्ची को कोने में एक साईड पर सुला दिया और उसके बाजू में मेरी पत्नी को सुला दिया और उसके बाजू में, में सो रहा था।

अब मेरी सास पलंग पर सो रही थी। फिर करीब आधी रात के बाद मेरी सास उठकर मेरे बाजू में आकर सो गयी। अब में थका हुआ था और गहरी नींद में था तो मुझे ऐसा लगा कि बाजू में मेरी पत्नी ही होगी, तो मैंने उसके ऊपर अपना हाथ रख दिया। अब मेरी सास मेरा हाथ पकड़कर अपने बूब्स को सहलाने लगी थी। अब में इस हरकत से जाग उठा तो मैंने देखा कि मेरा हाथ मेरी सास के बूब्स पर था और मेरी सास मेरा हाथ पकड़कर अपने बूब्स मसल रही थी और अपने दूसरे हाथ से मेरे लंड को मसल रही थी। फिर मैंने कहा कि शहनाज आपा यह क्या कर रही हो? तो जवाब मिला कि में तुझसे चुदवाने के लिए तड़प रही हूँ और अब रहा नहीं जाता। फिर मैंने सोचा कि चल जो मेरे दिल में तमन्ना है, वो खुद ही कह रही है अच्छा है, आज इसको ऐसा चोदूंगा और पहले वाले झगड़े का भी बदला लूँगा। फिर मैंने कहा कि सानिया जाग जाएंगी। फिर उसने कहा कि उसने सोने से पहले मेरी पत्नी की कॉफी में नींद की गोलियाँ पिलाई थी, जिससे वो रातभर सोती रहेगी।

फिर हम वहाँ से उठकर दूसरे रूम में बेड पर आ गये और अब में उसके ऊपर झट से टूट पड़ा और ज़ोर-ज़ोर से उसके होंठो पर किस करने लगा, उसके होंठ अभी भी गुलाब की पंखुड़ियों जैसे थे और उसके बूब्स मेरी छाती के नीचे दबे जा रहे थे। फिर में करीब 5 मिनट तक ऐसे ही उसके होंठो को चूसता रहा। फिर शहनाज ने कहा कि नीचे किस करो, नहीं तो यह सूज़ जाएँगे और में किसी को जवाब भी नहीं दे पाऊँगी। फिर मैंने कहा कि मेरा मन करेगा वैसे में तुझे चोदूंगा, मैंने थोड़ी तुझे सेक्स करने को कहा था। अब मैंने फिर से उसको किस करना स्टार्ट किया, तो कभी उसके लिप्स पर, तो कभी गालों पर, तो कभी गले पर और साथ-साथ अपने एक हाथ से उसके बूब्स भी मसल रहा था। अब वो मेरे लंड को मेरी लुंगी के ऊपर से मसल रही थी। फिर उसने मेरा लंड तना हुआ महसूस करके कहा कि तेरा लंड बड़ा लगता है, चोदेगा तो संभलकर चोदना। फिर मैंने ऐसे ही हाँ कह दिया, क्योंकि मुझे तो बदला लेना था।

फिर मैंने आहिस्ता-आहिस्ता उसके कपड़े निकालना शुरू किया और पहले उसकी साड़ी निकाल दी और फिर उसका ब्लाउज निकाल दिया और फिर उसकी ब्रा के हुक खोलकर फिर से चुम्मा चाटी शुरू कर दी, तो कभी उसके बूब्स को मसलता, तो कभी उसके बूब्स को चूसता। अब में उसको इतना मसल रहा था कि उसकी मुँह से आआआहह दर्द होता है कि आवाज़ ही सुनाई देती। फिर मैंने उसका पेटिकोट उतार दिया, अब उसकी चड्डी उसकी कमर से नीचे उसकी गांड पर अपनी पकड़ बनाए थी, में ये इसलिए कह रहा हूँ कि जब मैंने उसकी चड्डी देखी तो उस पर सिर्फ़ चूत की जगह इतनी गीली थी, जैसे सिर्फ़ उतना ही भाग पानी में भीगोया हो। अब उसकी चड्डी पूरी उसकी चूत के छेद में घुस गयी थी। दोस्तों सोचो मेरी सास कितनी गर्म हो गयी थी? मुझे उसकी चड्डी निकालने के लिए पूरी ताक़त लगानी पड़ी थी और जब उसकी चड्डी निकली तो नज़ारा ही कुछ और था।

में सपने में सोचकर अपनी सास के नाम की मुठ मारता था, लेकिन वो उससे भी बहुत अच्छी चूत निकली थी, उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था, एकदम क्लीन शेव, ऐसा लगता था कि अभी ताज़ा ताज़ा निकली हो और गीली चूत जिससे उसकी चड्डी पूरी गीली थी, उसकी चूत गोरी, बहुत डार्क ब्राउन और थोड़ा सा खुला हुआ छेद गहरा पिंक नजर आ रहा था, उसकी चूत के छेद पर कुछ ताज़ा बूंदे चमक रही थी। फिर में उसके होंठो को