Get Indian Girls For Sex
   

माहवारी या मासिकधर्म के बारे में जानकारी – Family Health Service

 

मासिक धर्म - माहवारी

मासिक धर्म – माहवारी

  1. मासिकधर्म क्‍या है?
  2. लड़की को किस उम्र  में माहवारी शुरू हो जाती है? माहवारी किस उम्र में बंद हो जाती है?  
  3. क्‍या मुझे प्रत्‍येक महीने माहवारी अवश्‍य आनी चाहिए?
      • जी नहीं, सभी महिलाओं को प्रत्‍येक महीने माहवारी नहीं आती। किसी महिला का चक्र उसकी स्थितिके अनुसार अलग-अलग हो सकता है
      • एक माहवारी चक्र 21-35 दिनों का हो सकता है। चक्र की अवधि से तात्‍पर्य है, माहवारी आने के पहले दिन से लेकर अगली माहवारी आने के पहले दिन तक की अवधि

    उदाहरण के लिए:
    पिछली माहवारी का पहला दिन: 1 अक्‍तूबर
    मौजूदा माहवारी का पहला दिन: 29 अक्‍तूबर
    चक्र की अवधि: 28 दिन

    यौन रूप से सक्रिय किसी भी महिला में गर्भधारण की संभावना रहती है। यदि आपको माहवारी नहीं आई, तो कृप्‍या अपने स्‍वास्‍थ्‍य देखरेख प्रदाता से सलाह प्राप्‍त करें

    • जिन लड़कियों की माहवारी हाल ही में शुरू हुई और जो महिलाएं रज्‍जोनिवृत्ति की आयु पर पहुंचने वाली हैं, उनको अनियमित माहवारी आ सकती है
    • कुछ परिस्थितियों को हार्मोस के असंतुलन से जोड़ा जा सकता है, जिनकी वजह से माहवारी अनियमित हो सकती है। इनमें शामिल है:
      • वज़न सामान्‍य से अधिक अथवा कम होना
      • खान-पान संबंधी विकार होना (उदाहरण के लिए एनोरेक्सिया नर्वोसा होना)
      • बहुत अधिक कसरत करना
      • तनाव होना
      • कुछ दवाएं लेना (उदाहरण के लिए गर्भनिरोधक इंजेक्‍शन लेना)
      • मादक पदार्थों का सेवन करना
      • स्‍तनपान कराना
      • स्‍थाई (क्रॉनिक) बीमारियां होना, हार्मोन संबंधी विकार होना (उदाहरण के लिए पॉलिसि‍स्टिक ओवरी सिंड्रम, थायराइड बीमारी आदि)
      • ऐसी स्थितियां, जो डिम्‍बग्रंथि के कार्यको प्रभावित करती हैं
    • गर्भाशय के अंदरुनी हिस्से  विकार, पौलिप्स, सरविक्स अथवा योनि के संक्रमण, अथवा योनि के कैंसर आदि की वजह से दो माहवारियों के बीच में योनि‍ से रक्‍त-स्राव हो सकता है। इसकी वजह से ‘अनियमित माहवारी’ आने का भ्रम हो सकता है
  4. क्‍या मुझे बहुत अधिक माहवारी हो रही है?
    • भारी माहवारी से तात्‍पर्य है, मासिक रक्‍तस्राव बहुत अधिक होना अथवा इसकी अवधि अधिक होना
    • आपका रक्‍तस्राव बहुत अधिक हो सकता है, यदि:
  5. माहवारी का दर्द क्‍या है?
    • माहवारी का दर्द आमतौर पर माहवारी शुरू होने के कुछ समय पहले अथवा माहवारी शुरू होने पर होता है। आमतौर पर पेट के निचले हिस्‍से में हल्‍के से लेकर तेज़ पेट दर्द महसूस होता है
    • आमतौर पर भारी रक्‍तस्राव होने की स्थिति में तेज़ दर्द होता है
    • दर्द की वजह से पेट में गड़बड़ी हो सकती है, जैसे कि उल्‍टी आना अथवा पतला मलत्‍याग करना

गर्भाशय से नियमित तौर पर ख़ून और अंदरुनी हिस्से से स्राव होना मासिकधर्म अथवा माहवारी कहलाता है यौन रूप से सक्रिय किसी भी महिला में गर्भधारण,मासिकधर्म क्‍या है,मासिक धर्म – माहवारी,यौन ,माहवारी के बारे में जानकारी – Family Health Service,हार्मोन,रज्‍जोनिवृत्ति,चक्र,गर्भाशय से नियमित तौर पर ख़ून और अंदरुनी हिस्से से स्राव होना मासिकधर्म अथवा माहवारी कहलाता है यौन रूप से सक्रिय किसी भी महिला में गर्भधारण,मासिकधर्म क्‍या है,मासिक धर्म – माहवारी,यौन ,माहवारी के बारे में जानकारी – Family Health Service,हार्मोन,रज्‍जोनिवृत्ति,चक्र,गर्भाशय से नियमित तौर पर ख़ून और अंदरुनी हिस्से से स्राव होना मासिकधर्म अथवा माहवारी कहलाता है यौन रूप से सक्रिय किसी भी महिला में गर्भधारण,मासिकधर्म क्‍या है,मासिक धर्म – माहवारी,यौन ,माहवारी के बारे में जानकारी – Family Health Service,हार्मोन,रज्‍जोनिवृत्ति,चक्र,गर्भाशय से नियमित तौर पर ख़ून और अंदरुनी हिस्से से स्राव होना मासिकधर्म अथवा माहवारी कहलाता है यौन रूप से सक्रिय किसी भी महिला में गर्भधारण,मासि