Get Indian Girls For Sex
   

आप को नहीं मालूम होंगे कंडोम के ये साइड इफेक्ट्स

आप को नहीं मालूम होंगे कंडोम के ये साइड इफेक्ट्स

आप सभी ने अपने जीवन में कंडोम के बारे में पढ़ा, सुना होगा| यह बात कुछ ऐसी है जिसे आपके लिए हजम कर पाना मुश्किल होगा पर यह सत्य भी है, जी हाँ कंडोम के भी होते हैं साइड इफेक्ट्स| जहाँ टी. वी. और अखबारों में इसके गुणगान किये जातें हैं वहीं आपको यह भी बताना बेहद जरुरी है कि लगातार और अच्छे किस्म या क्वालिटी के कंडोम न उपयोग करने से आप बड़े संकट में भी पड़ सकते हैं|

विज्ञान निरंतर प्रगति कर रहा है पर कहीं न कहीं उस प्रगति की अवस्था में कुछ ऐसे तत्व छुट जातें है जो मानव को बेहद बड़े संकट में डाल देते हैं| कंडोम के प्रयोग से आपकी सेक्स लाइफ ही नहीं बल्कि आप कई अन्य यौन संबंधित बिमारियों के चपेट में भी आ सकते हैं| आइये जानते हैं कंडोम के कुछ साइड इफेक्ट्स :-

  • दर्द तथा गुप्तांग में एलर्जी :- कई बार कुछ ऐसे तथ्य देखने को मिले हैं, जहाँ देखा गया है कि सप्ताह में दो-तीन बार या इससे अधिक बार कंडोम के उपयोग से योनी की आतंरिक परते सबसे ज्यादा प्रभाभित होती है| योनी की आतंरिक परत और झिल्ली की प्रभावशिलता कम या कहिये समाप्त ही हो जाती है| यह योनी में सुखापन होने का एक बहुत बड़ा कारण है| इससे सदेव दर्द की अनुभूति होती है|
  • लेटेक्स से बनाये गए कंडोम :- आम रूप से यह देखा और सुना गया है कि लेटेक्स से बने कंडोम यौनी संक्रमण और अन्य रोगों से आपका बचाव करते हैं| जनन अंग में एलर्जी होने का एक मुख्य कारण लेटेक्स से बने कंडोम भी हो सकते हैं| यह यौनी के सूखापन और खुजली का एक प्रमुख कारण हो सकता है| जनन अंग पर दाने होना भी इसका एक मुख्य दुष्प्रभाव हो सकता है|
  • ग्रीवा में कटाव या घाव का होना :- कंडोम के अधिक प्रयोग से यह देखा गया गया है कि कई बार यौनी ग्रीवा में कटाव हो जाता है| अच्छी क्वालिटी का कंडोम का न होने से कई बार यौनी का आतंरिक भाग छिल भी जाता है| इस कारण से सूजन और दर्द का सदेव अनुभव होता है| कई केसों में यह देखा गया है कि गर्भाशय में कैंसर होने का भी यह एक प्रमुख कारण है|