Get Indian Girls For Sex
   

vlcsnap-2016-01-14-17h34m04s789

क्यों बे किस रांड को लेकर आया था चोदने के लिए

हैल्लो दोस्तों.. वो गर्मियों कि छुट्टियों का समय था और कनिका और मैंने डिसाईड किया कि हम कहीं घूमने बाहर जाएगे। फिर हमने शिमला जाने का प्लान बनाया और सामान पैक कर लिया और हम लोग शिमला तो पहुँच गये.. लेकिन वहाँ पर सीज़न था और सभी होटल पूरे फुल थे और हम लोगो को नहीं मालूम था कि सभी होटल फुल चल रहे होंगे.. मैंने ऑटो वाले से बोला कि यार कोई होटल तो दिला तो ऑटो वाले ने बोला कि साहब होटल तो है.. लेकिन वो थोड़ी दूरी पर है और आपके लायक नहीं है वो थोड़ा बदनाम होटल है में बोला ठीक है।
तो कनिका बोली कि सुनिए जी.. में बोला कि हाँ बोलो तो कनिका बोली कि मुझे बहुत ठंड लग रही है और फ्रेश भी होना है और मुझे बाथरूम आ रही है जल्दी होटल करिए कोई भी होटल चलेगा आख़िर हम लोगो को पूरा दिन घूमना ही तो है सिर्फ़ समान रखने के लिए होटल का रूम चाहिए.. जो भी होटल है ले लीजिए प्लीज ज़रा जल्दी कीजिए।
फिर में बोला कि ठीक है और मैंने ऑटो वाले से होटल लेकर चलने को कहा ऑटो वाले ने हमें होटल पहुंचा दिया। होटल ठीक ठाक था.. लेकिन आस पास की जगह बैकार थी और सामने एक शराब की दुकान थी और होटल में पहुंचने पर आस पास के लोग कनिका को बहुत बुरी नज़र से घूर रहे थे। हम लोगो ने उन्हें अनदेखा किया और होटल के अंदर चले गये वहाँ पर मैनेजर से हम लोगो ने एक रूम माँगा मैनेजर ने मुझसे धीरे से पूछा कि साहब कितनी देर के लिए रूम चाहिए? तो मैंने बोला कि हमे घंटे के लिए नहीं पूरे 3 दिन के लिए रूम चाहिए। मैनेजर बोला कि साहब लगता बड़ी फ़ुर्सत से आए हो है और हंसने लगा। तो मैंने बोला कि हाँ हम फ़ुर्सत से आए है।
फिर हम लोग रूम में फ्रेश हुए और घूमने चले गये.. पूरा दिन घूमने के बाद हम लोग होटल वापस लौटे और रात को होटल के बाहर अच्छी ख़ासी भीड़ थी और हम लोगो को कुछ शक हुआ कि इतनी भीड़ क्यों है? और होटल के बाहर ज़्यादातर लड़के लड़कियों से बात कर रहे थे और लड़कियाँ एकदम कम कपड़े और ज़्यादा मेकअप किए हुई थी। खेर हम लोग बहुत थके हुए थे इसलिए यह सब अनदेखा करके अंदर अपने रूम में चले गये। फिर थोड़ी देर बाद मैंने वेटर को बुलाया और दारू और कुछ चिकन के आईटम मँगवाए.. वेटर ने यह सब लाकर दिया और में बड़े आराम से दारू पी रहा था कि तभी एकदम से भयंकर सी हड़कंप मची और भागने की आवाज़े सुनाई देनी लगी।
मैंने अपने रूम से निकल कर देखा कि सभी आदमी औरत अपने अपने रूम से निकल कर इधर उधर भाग रहे है और उनमें से लगभग सभी लोग नंगे या फिर टावल में है। तभी एक आदमी वहाँ से भागता हुआ मुझे बोला कि अरे भाई जल्दी जल्दी भाग निकलो.. यहाँ पर पुलिस का छापा पड़ा है
फिर में बोला कि पुलिस का छापा किस बात का यार? तो वो आदमी बोला कि अब ऐसी जगह तो कभी भी छापा पढ़ सकता है.. ज्यादा बात करके वक़्त बर्बाद मत करो भागो वरना लेने के देने पढ़ जाएँगे। फिर में बहुत डर गया और तुरंत रूम में घुसा और कनिका को बोला कि लगता है इस होटल में कुछ गड़बड़ है और पुलिस का छापा पड़ा है और सब भाग रहे है.. हमें भी निकल जाना चाहिए अंजान शहर है.. कहीं कुछ गड़बड़ ना हो जाए और यहाँ पर फंस गये तो हमें कोई जानता भी नहीं है।
कनिका बोली कि नहीं नहीं हमें कोई गड़बड़ में नहीं फसना है जल्दी से चलो निकलते है यहाँ से। फिर हम लोग समान पैक कर ही रहे थे कि अचानक दरवाज़ा को धक्का मारकर पुलिस अंदर आ गयी और हमें पकड़ कर जीप में बाकी लोगो के साथ बैठाकर पुलिस स्टेशन ले गयी। हम सब बहुत डरे हुए थे और पुलिस स्टेशन पहुंचने के बाद हमे मुझे मालूम चला कि उस होटल में रंडीबाजी होती थी और वो होटल इसलिए बदनाम था क्योंकि वहाँ पर सब लोग रंडियां लेकर जाते थे और अब पुलिस यह समझ रही थी कि में भी वहाँ पर रंडी लेकर गया था और कनिका कोई रांड थी कनिका को बाकी रंडियों के साथ खड़ा कर दिया गया था और मुझे बाकी ग्राहकों के साथ।
में चिल्ला चिल्लाकर बोल रहा था कि हम लोग शरीफ लोग है और हमें मालूम नहीं था कि यह होटल कैसा है.. लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं था और जितने पुलिस वाले थे वो यही बोल रहे थे कि सब लोग पुलिस के पकड़े जाने के बाद यही बोलते है। फिर बहुत चिल्लाने के बाद में थक गया था और मैंने सोचा कि समझदारी इसी में है कि में डाइरेक्ट इंचार्ज ऑफिसर से बात करूं।
फिर मेरे पास में खड़े एक आदमी ने बोला कि डरो मत भाई कुछ नहीं होगा यह साला ऑफिसर बहुत कुत्ते किस्म का आदमी है.. घुसखोर है साला। कुछ पैसे वैसे दे देना चुपचाप छोड़ देगा और साला अगर सिर्फ़ पैसे से नहीं माना तो जिस रांड को तुम होटल में लाए होंगे उसे एक बार चुदवा देना.. वो तुम्हे बिना परेशान किए जाने देगा। तो में एकदम गुस्सा हो गया और बोला कि नहीं नहीं यार वो तो मेरी बीवी है। फिर वो आदमी बोला कि ओहह सॉरी सॉरी यार.. लेकिन ध्यान से पुलिस ऑफिसर टाईट है थोड़ा पैसे वैसे माँगे तो दे देना और रफ़ा दफ़ा कर देना.. नहीं तो यह बात तुम्हारे फोटो के साथ कल के पेपर में फ्रंट पेज में आ जाएगी।
में बोला कि ठीक है देखते हैं और थोड़ी देर में पुलिस वाला आया और उसने हम सब को जैल में डाल दिया और बोला कि अब एक एक करके अंदर भेजो। कनिका दूसरी लड़कियों के साथ लेडीस रूम में बंद थी और में जैल में दूसरे आदमी और दल्लो के साथ बैठा था।
फिर एक दल्ला मेरे पास आया और बोला कि तुम कौन सी रांड लाए थे और किस दलाल से खरीदते हो। में बहुत डरा हुया था और कुछ नहीं बोला। तो वो बोला कि कोई बात नहीं यार यह हमारा हर रोज़ का काम है और यहाँ में कई बार आ चुका हूँ और यहाँ के ऑफिसर का नाम भवानी सिहं है। वो साला वैसे तो बहुत कड़क पुलिस वाला है.. लेकिन उसकी कमज़ोरी पैसा और खूबसूरत लड़की है। तभी वो हर 2-3 महीने में छापा मारता रहता है और रंडियों को पकड़ कर बहुत ऐश करता है.. जो आसानी से मान जाती है उसे चोदकर जल्दी छोड़ देता है और जो नहीं मानती उसे यहीं पर जैल में रखता है और ज़बरदस्ती रेप कर देता है और वैसे ऐसी नौबत नहीं आती क्योंकि आख़िर लड़कियाँ सभी रंडी तो होती है आसानी से बचने के लिए अपनी चूत दे देती है और साला लड़कियाँ तो फ्री में चोदता ही है साथ में हमसे पैसे भी बटोर लेता है साला मदारचोद।
फिर यह सब बात सुनकर मेरी फट गयी कि साला पता नहीं कितने पैसे माँगेगा और कहीं इसकी कनिका को देखकर नियत ना बिगड़ जाए। फिर सब एक एक करके अंदर जा रहे थे किसी को घर जाने दे रहे थे और किसी को वापस जैल में डाल रहे थे और फिर 1 घंटे बाद मेरा नंबर आया और में ऑफीस के अंदर गया तो देखा कि अंदर ऑफिसर बैठा हुया था और उसके साथ एक लेडीस ऑफिसर भी बैठी हुई थी शायद वो लेडीस ऑफिसर इसकी जूनियर थी क्योंकि वो इसको सर सर कहकर बात कर रही थी.. ऑफिसर मस्त होकर अपनी दारू पी रहा था और लेडीस ऑफिसर सिगरेट फूंक रही थी। तो में समझ गया कि माहोल कुछ ठीक नहीं है और दोनों शक्ल से बड़े कड़क दिख रहे थे और में बस यही जानता था कि जितना जल्दी हो यहाँ से निकलना है चाहे कितने भी पैसे लग जाएँ।
ऑफिसर बोला : क्यों बे किस रांड को लेकर आया था चोदने के लिए?
फिर लेडीस पुलिस ने कनिका को बुलाया.. तो ऑफिसर ने देखा और एकदम उसकी आँखें फटी की फटी रह गयी वो उसको एकदम घूर रहा था और बोला कि यार आईटम तो एकदम झक्कास है एकदम टिप टॉप इसको पहले कभी इस बाज़ार में नहीं देखा कहाँ की आईटम है।
में बोला : नहीं नहीं सर यह उस टाईप की लड़की नहीं है यह तो मेरी बीवी है।
तो ऑफिसर हंसने लगा और बोला कि फिर क्या इसे बैचने आया था इस होटल में? लेडीस ऑफिसर और ऑफिसर दोनों ज़ोर ज़ोर से हंसने लगे। फिर बोले कि ठीक है लड़की को वापस रूम में डालो और तुम यहीं पर रुको।
फिर कनिका चली गयी और ऑफिसर मेरी तरफ देखा और बोला कि सच सच बता कहाँ से लाया इस माल को और कितने की है? तो मैंने बोला कि नहीं नहीं सर माँ कसम यह मेरी बीवी है। फिर ऑफिसर बोला कि तेरे पास क्या सबूत है? फिर मैंने कहा कि मेरे पास सबूत है सर.. लेकिन मेरे घर पर है यहाँ नहीं है। तो ऑफिसर बोला कि तो कैसे विश्वास करें कि तुम पति-पत्नी हो और यह भी तो हो सकता है कि तुम लोग आतंकवादी हो। तो मैंने कहा कि नहीं सर हम बहुत शरीफ लोग है। फिर ऑफिसर बोला कि यहाँ पर आकर सब शरीफ बन जाते है और फिर उसने लेडीस ऑफिसर की तरफ इशारा किया और मेडम मुझे बोली कि अच्छा ठीक है अभी तुम पास वाले रूम में जाओ और इंतज़ार करो।
फिर मैंने बोला कि सर जो भी है हम यहीं देख लेते है ना.. सर आप जितने पैसे बोलेंगे हम दे देंगे। तो ऑफिसर एकदम से गुस्सा हो गया और बोला कि क्या समझते हो मुझे.. साले जैल में डाल दूँगा? तो मेडम बोली कि तू रूम में जा में अभी आती हूँ। फिर में पास वाले रूम में इंतज़ार करने लगा.. कुछ 10 मिनट के बाद लेडीस पुलिस आई और उसने बोला कि यह तुमने क्या बोल दिया वहाँ पर.. कोई क्या सीधे ही ऑफर करता है? और यह सब बातें सबके सामने नहीं करते.. सर बहुत गुस्से में है और जब वो गुस्सा होतें है तो उनसे बात नहीं कर सकते और वो किसी की भी नहीं सुनते। तो मैंने बोला कि प्लीज मेडम आप ही बताए कि में क्या करूं? अब आप ही मुझे बचा सकती हो.. आप जितने पैसे बोलोगी में दे दूँगा और प्लीज हमें जाने दो.. हमने कोई ग़लत काम नहीं किया और वो असली में मेरी बीवी है हम लोगो ने ग़लती से वो होटल ले लिया था।
फिर लेडीस ऑफिसर बोली कि अब तुम्हारे पास सिर्फ़ एक ही रास्ता बचा है। तो मैंने कहा कि जो आप बोलो हमें कबूल है और जो आप बोलेंगी हम करेंगे.. बस हमें जाने दो.. प्लीज। फिर लेडीस ऑफिसर बोली कि ठीक है तो फिर ऑफिसर साहब तुमसे कोई पैसे वैसे नहीं चाहते। फिर मैंने बोला कि तो फिर क्या चाहते है वो? तो लेडीस ऑफिसर बोली कि सही में तो उनको तुम्हारी बीवी भा गयी है और उनको वो बहुत पसंद आई है और वो चाहते है कि आज रात वो उनकी दुल्हन बने। फिर में एकदम सहम उठा और बोला कि यह नामुमकिन है और ऐसा सोच भी कैसे लिया उन्होंने.. पुलिस वाले हैं तो क्या कुछ भी करेंगे.. में अभी जाता हूँ उनको सबक सीखाने।
लेडीस ऑफिसर एकदम कड़क होकर मुझे और कनिका को बोली कि देखो तुम लोग भूल गये क्या कि किस केस में अंदर आए हो? अगर वो चाहे तो 5-6 साल की तो सज़ा पक्की है तुम्हारी और अगर वो चाहे तो 2-3 झूटे गवाह से कोर्