Get Indian Girls For Sex
   

(मेरी गांड से खून बहने लगा | लेकिन, किसी को कोई परवाह नहीं थी और दुसरे मे अपना लंड मुरी चूत मे घुसा दिया |इसका लंड ज्यादा मोटा और लम्बा था | मेरी चूत इसको नहीं झेल पायी और फटाक से फट गयी )

11257177_983211195043775_1541977615901470658_n

मेरा नाम नीलम है और मै एक बड़े शहर मे कॉलगर्ल हु | नीलम मेरा असली नाम नहीं है; ये नाम मुझे शरीर बेचने की गन्दी दुनिया मे आने के बाद मिला है | अपना असली नाम तो मैने बुला दिया है और अब याद भी नै रखना चाहती हु; क्योकि, अब मेरी पुरानी जिन्दगी का कोई भी रिश्ता मुझ से नहीं जुड़ा है और ना ही वो लोग मुझ से रिश्ता रखना चाहते है | मुझे कॉलगर्ल करीब १० साल हो चुके है और मुझे ये भी याद नहीं; कि, आज तक मै कितने लोगो के साथ सोई हु और कितने लंड, मैने अपनी चूत मे ले लिए है | मेरे कॉलगर्ल बनने के पीछे मेरे पति का हाथ था | जब भी, मै वो दर्दनाक हादसा याद करती हु; तो, मुझे अपनी जिन्दगी से नफरत हो जाती है |मै एक छोटे से शहर से ताल्लुकात रखती थी और उस समय मेरी उम्र करीब २२ साल होगी |

सब लडकियों के घर वालो के तरह, मेरे घर वालो ने भी मेरे लिए एक लड़का पसंद किया था; जो दुसरे शहर मे नौकरी करता था और उसकी तनखाह कोई ज्यादा नहीं थी | लेकिन, उसके घर वालो को शादी के ज्यादा जल्दी थी | तो, मेरे घर वालो ने हाँ कर दी और मै शादी करके उसके साथ बड़े शहर मे चली आयी | मैने भी वहां टीचर की नौकरी कर ली और मै  एक घर मे दो बच्चो को पढ़ाने लगी | उस घर की औरत फिर से माँ बनने वाली थी, और कुछ दिन के लिए अपनी माँ के घर चली गयी | बच्चे और उसका पति घर पर ही थे |उसके पति की नज़र काफी दिनों से मुझ पर थी और अक्सर, वो मुझे छुने की कोशिश करता था | मेरी मज़बूरी की वजह से, मै उसको कुछ नहीं बोलती थी | इनसब से उसकी हिम्मत और बड़ गयी | उसकी बीवी के जाने के बाद, उसने उस दिन बच्चो को अपनी बहन के यहाँ भेज दिया और जब मै वहा गयी; तो, मुझे अपने २ दोस्तों के साथ दबोच लिया | उन्होंने, सबसे पहले मेरे कपडे उतारे और मेरी कुछ नंगी तस्वीरे ली | अब उन्होंने मुझे बोला, अगर हमारे साथ नहीं किया; तो, तुम्हारे पति को सारी तस्वीरे भेज देंगे | मै डर गयी थी और उनका साथ देने लगी | अब तीनो लोग मेरे साथ नंगे हो चुके थे और अपने-अपने लंड मेरे मुह मे घुसाने लगे थे | मै भी मज़े के साथ सब के लंड मुह मे लेने लगी | फिर एक आदमी लेट गया और बाकी, दोनों ने मुझे उसके लंड के ऊपर बिठा दिया | अब एक लंड मेरी चूत मे घुसा हुआ, मुझे चोद रहा था और मेरे दोनों हाथो मे दो लंड थे |

मैने एक लंड को अपने मुह से चुसना शुरू कर दिया और दुसरे लंड का हस्त्मथुन करने लगी |मुझे नहीं मालूम था; कि, वो लोग मूवी बना रहे थे | धीरे-धीरे मुझे भी मज़ा आने लगा थे और मै उनका पूरा-पूरा साथ दे रही थी | अब उन तीनो ने मुझे एक आदमी के ऊपर लिटा दिया और उसने अपना लंड मेरी गांड मे डाल दिया | तीनो के लंड बहुत मोटे थे और मेरी चूत और गांड गुलाबी और छोटी थी |जब मैने अपनी गांड उस आदमी के ऊपर रखकर अपने को नीचे किया; तो, मेरी चीख निकल गयी | उस आदमी ने खूब सारा तेल मेरी गांड और अपने लंड पे लगाया था और चिकना होने की वजह से उसका लंड मेरी चूत मे सर्रर्रर्र से घुस गया और मेरी गांड फट गयी | मेरी गांड से खून बहने लगा | लेकिन, किसी को कोई परवाह नहीं थी और दुसरे मे अपना लंड मुरी चूत मे घुसा दिया |

इसका लंड ज्यादा मोटा और लम्बा था | मेरी चूत इसको नहीं झेल पायी और फटाक से फट गयी |तीसरा, आदमी अभी खड़ा हुआ अपना लंड हिला रहा था, उसे जोश मारा और उसने अपना लंड मेरे मुह मे घुसेड दिया |अब मैने तीन लंड अपने तीन छेदों मे ले रखे थे और मज़े से उछल रही थी | थोड़े देर मे, वो तीनो मेरे अलग-अलग छेदों मे झड गये और मै भी झड गयी | मुझे मालूम था; कि, मेरा रेप हुआ है; लेकिन, ये दर्दनाक हादसा मेरा पहली अच्छी कामक्रीड़ा थी | बाद मे, उन्होंने मुझे वो फिल्म दिखा दी और कहाँ, जब हम बोले, तब आ जाना, वरना हम ये फिल्म तुम्हारे घर भेज देंगे |मैने, उनकी बात मान कर कई बार उनको और उनके साथियो को खुश किया | एक दिन ये बात मेरे पति और घरवालो को पता चल गयी और उन्होंने मुझे छोड़ दिया | और उसके बाद से मै कॉल गर्ल बन गयी |