Get Indian Girls For Sex
   

सेक्स संतुष्टि के लिए चाची के साथ नाजायज रिश्ता - चची की चुदाई करता हु सेक्स स्टोरीज

Sensual massage on a bed of roses for Kiera King fucking as doggy style playing with sex toys and Huge tits Big Boobs Full HD Porn00009

सेक्स संतुष्टि के लिए चाची के साथ नाजायज रिश्ता - चची की चुदाई करता हु सेक्स स्टोरीज : हई दोस्तों, मेरा नाम अरुण हैऔर मैं एन दिनों बंगलोरे मैं रह रहा हूँ. आज जो कहानी मैं बताने जा रहा हूँ वह बिलकुल मेरे असल ज़िन्दगी मैं घट चुकी हैं. यह तब की बात हैं जब मैं डेल्ही मैं रहा करता था. मैं एक जोइंट फॅमिली मैं रहता था और डेल्ही मैं अपनी XII की सिक्षा पुरी कर रहा था. मेरे परिवार मैं कुल ९ लोग थे. उनमे से एक मेरे चाची थी. उसके उम्र कुछ ३२ साल होगी, उसके एक ३ साल के बेटी भी थी जिसका नाम गुडिया था. मेरे पापा और चाचा कपडे के वाप्यर करते थें. इसलिए वोह लोग काफी बहार भी जाते थे वायपर के लिए.

अब मुझे अपनी चाची के बारे मैं बताने जा रहा हूँ. वोह एक मामूली हाउस्वाइफ के तरह नहीं थी, वोह काफी पड़ी लिखी थी और काफी स्मार्ट भी थी. वह देखने मैं काफी खुबसूरत थी. उनका चूची काफी अछी साइज़ के थे और उनका गांड बहुत मस्त था. उनका गांड बिलकुल गोल था. बेटी होने के बाद भी वोह काफी सेक्सी लगती थी. लेकीन इसके पहले मैंने उन्हें कभी ऐसे देखा नहीं था. वह मेरे एक दोस्त की तरह थी.

यह तब की कहानी हैं जब डेल्ही मैं काफी गर्मी पर रही थी. क्योंकी मेरा एक्साम निकट था इसलिए मुझे तेर्रस का रूम मिल गया था ता की मैं मन लगा के पढ़ सकू. परिवार मैं एक शादी का प्रोग्राम था. इसलिए घर के सब लोग जा रहे थे. मैं नहीं गया क्योंकि मेरे एक्साम सर पे थे. और मेरा ख्याल रखने के लिए मेरे चाची भी नहीं गयी. और गुडिया के तबियत भी कुछ अच्छी नहीं थी. मैं साम को घर वालो को बस स्टेशन छोर के घर आ गया. गुडिया के तबियत ठीक नही थी तो चाची ने कहा डॉक्टर के पास चलते हैं. मेरे पास मोटर साइकिल थी तो बोला आप तयार हो जाओ फीर चलते हैं. वोह अपने कमरे मैं चली गयी.थोरी देर बाद वोह तयार होके बहार आ गयी. उसने के सलवार सुइट पहना था. उसे अपनी चूची पे दुप्पटा दाल रखा था. उस ड्रेस मैं वोह काफी अछी लग रहे थी.

साम के ७ बजे होंगे और हम मोटर साइकिल पे डॉक्टर के लिए चल परे. कुछ ३० मिनट के दुरी पे डॉक्टर था. हम वहां ७:३० तक पहुँच गए. काफी लाइन लगी थे डॉक्टर से मिलने के लिए. थोरा इन्तेज्ज़ार करने के बाद हम डॉक्टर से मिले. उसने कहा की गुडिया को थोरा बुखार हैं, थोरा खाने पे ख्याल रखना और बोला हो सके तो कुछ दिनों तक स्तन का दूध ही दे. फिर हम दविआन लेके वहां से निकले . रात के ९:३० बजे होंगे औत थोरी थोरी बारिस होने लगे थी.मैं बइके जोर से चला रहा था ताकि हम भींग न जायं. तभी अचानक से एक कार ने मेरा रास्ता काट दिया और मेरा बैलेंस गड़बड़ा गया. मैं बइके लेके गीर परा और चाची मेरे ऊपर आ गिरी.

मैं मुह के बल गीरा और वोह मेरे ऊपर आ गीरी और पहली बार मैंने उनका चूची महसूस किया. उनके चूची काफी नरम थे बात उस वक़्त उस सब का टाइम नहीं था. मैं उठा और उनको े भी उठाया. मैं उनसे पुछा की चोट तो नहीं लगी उनसे कहा थोरी से लगी हैं टांगो मैं. गुडिया ठीक थी. मैंने उनसे कहा अब की बार दोनों तरफ टांग कर के बठे. मैंने गुडिया को सामने ले लिया और वोह मेरे पीछे आ गयी. उनको सायद काफी चोट लगी थी, उसने दोनों हाथ मेरे कंधे पे रखा और कहा चलो घर. क्योंकी गुडिया सामने थी तो बार बार उनके चूची मेरे पीठ को छु रहे थी. मुझे मज़ा आने लगा. मैंने एक दो बार जान भुज के भी ब्रेक मारा. हर बार उनके दो नरम नरम चूची मेरे पीठ को छु रहे थे.थोरी देर मैं घर आ गया. मैं बइके के सवारी के बहुत मज़े लिए. पहले बार लग रहा था की घर थोरा और दूर होता हो अच्छा होता.

हम लोग घर के अंदर गए. वोह सोफे पे जाके अपनी गांड टिका दी. उसे सायद काफी दर्द हो रहा था. मैंने पुछा कहा पे चोट लागी हैं, उनसे कहा घुटने के ऊपर. मैं कहा मुझे दिखाओ ज़रा इस पे वोह थोरा असमंजस मैं पर गयी क्योंकी चोट उनके झांग प लगी थी और सायद वोह मुझे अपनी झांग दीखाने मैं सरमा रही थी. मरे बार बार बोलने पे वोह मान गयी. उसने कहा की कपडे बदलने के बाद मैं देख सकता हूँ. फिर वोह अपने कमरे मैं चली े गए. थोरी देर बाद ड्रेस बदल के बहार आयी. उसने एक नीचे पहनने की रात की क़मीज़ पहने थी जो उनके गले से लेकर पाऊँ तक आ रही थी. वोह सोफा पे आके बैठी,मैंने उनको बोला अब दिखाओ तो उनसे कहा की ठीक हो जायेगा पर मैं बोलता ही गया. फिर वो मान गए और अपना गाउन ऊपर करने लगी.धीरे से उसने अपना गाउन घुटने तक ऊपर किया. चोट घुटने से थोरी ऊपर लगी थी. अभी मेरे सामने उनके नंगी टांग देख रही थी. मैं उनका गाउन लेके थोरा ऊपर किया तो मुझे चोट दिख गया. काफी कट गया था. मैंने बोला की मैं दुकान से दवाई ले के अता हूँ. फिर मैं जा कर दवाएं ले आया. मैं जब घर घुसा तब वो खाना बना रही थी. मैंने बोला मैं कुछ पट्टी ले आया हूँ ताकी चोट के ऊपर लगा सको. उसने बोला ठीक हैं पहले खाना खा लेते हैं फीर पट्टी बढ़ देना लकिन मैंने कहा नहीं अभी करते हैं. फीर उसने बोला ठीक हैं और अक सोफा पे बैठ गिये. मुझे अभी बहुत मज़ा आ रहा था क्योंकी मैं एक बार फीर उसके नंगी झांग को देख पाउँगा.

मैं सोफे के निचे बैठ गया और उसको गाउन उठाने को कहा. धीरे धीरे उसने गाउन को गुटने के ऊपर किया. उसके टाँगे बिलकुल साफ़ था, एक भी बाल नहीं था. उसके झांग बहुत गोरा था. उसके झांग देख के मेरा सब रिश्ते नाते खिडके के बहार चले गए. मैं उसके सेक्सी झंगो को निहारने लगा. फीर उसनसे बोला की चोट क्या ज्यादा हैं मैंने बोला नहीं ज्यादा गहरा नहीं हैं. फीर मैं उठा और थोरा गरम पानी ले आया ताकी चोट को साफ़ कर संको. एक कोटरी मैं थोरा गरम पानी लाया और साफ़ करने लगा. जब जब मैं उसके झंगो को छु रहा था महत बहुत मज़ा आ रहा था. और इसी मज़े मैं गलती से गरम पानी हाथ से गीर गया और उसके गाउन पे जा गीरा.पानी काफी गरम था और उसनेे एक झटका सा दिया.

उसे झटके मैं उसका गाउन थोरा ऊपर हो गया और क्योंकी मैं निचे बैठा था, मुझे उसका पैन्टी दिख गए. उसने लाल रंग के पैन्टी पहने थी. मुझे यह दृश कुछ पलो के लिए हे दिखने तो मिला. लेकिन उस मैं मैंने उसका चुत देख लिया था. उसके चुत के वहां बाल बिलकुल नहीं थे. बिलकुल साफ़ था. वोह पक्का चुत के बाल काट देती थी. इससे जादा मुझे कुछ नहीं दिखा. उसके गाउन पे पानी आ गे था तो उसने अपनी दूसरी टांग पर से भी गाउन उठा लिया. अभी वोह दोनों जांग तक नंगी थी. मैं भगवान को धन्वाद दे रहा था एक्सिडेंट के लिए. उसके बाद मैंने फीर मैंने उसके चोट पे दवाई लगाई. उसे काफी दर्द हो रहा था. मैंने बोला अभी मैं इस्पे पट्टी कर देता हूँ. उनसे बोला ठीक हैं. मैंने उसको अपने टांग थोरा उठाने के लिए बोला ताकी मैं पट्टी बांध सकू. उसने वैसे हई किया और फीर से मरे आखों के सामने ज़न्नत दिख रहा था. उसका गाउन उठ गया और उसका चुत मुझे दिकने लगा.

मैंने उसको बोला की तुम टीवी देखो तो सायद जादा दर्द नहीं होगा, असल मेरा प्लान था की को आराम से टीवी देखे और मैं आराम से उसका चुत देखू. मेरा प्लान चल गया और वोह टीवी देखने लगी. मैं भी आराम से उसका चुत देखने लगा. उसने एक लाल चड्डी पहनी थी जो काफी अच्छी ब्रांड का लग रहा था. उसका चड्डी थोरा पारदर्शी था और मैं उसका चुत उसके अन्दर से देख सकता था. उसका चुत काफी टंच था. वोह टीवी देखने मैं वैसत थी और मैं भी मोका पा के उसका चुत देख रहा था. उसका चुत काफी पींक रंग का था. मेरा लैंड तो ९० डिग्री पे खरा हो चूका था. थोरी देर बाद उसने पुछा की हो गया. मैंने फीर जल्दी से पट्टी लगाई और अपने कमरे मैं चला गया. मैंने तुरंत अपने खेरे हुए लैंड को निकला और हिलाने लगे. थोरी देर मैंने अपना सारा लैंड का माल नीकाल दिया. उसका चुत मेरे आँखों के सामने अभी भी झलक रहा था. फीर थोरी देर बाद मैं निचे आया. चाची तब खाना लगा रही थी. मैंने पुछा गुडिया कहा हैं तो उसने बोल वोह तो सो गयी. अभी मेरे मन में एक ही बात चल रही थी की कैसे फीर से चाची का चुत देखू. फीर मैंने एक प्लान सोचा, की अगर मैं चाची को मेरे कमरे मैं सोने के लिए मना लू तो रात तो सोने के बाद मैं कुछ और कर सकता हूँ.

मैंने चाची को बोला की गुडिया की तबियत भी ठीक नहीं हैं और आपको भी चोट लगी हैं, इसलिए आज आप लोग मेरे कमरे मैं सो जाओ ताकी कुछ ज़र्रोत परे रत को मैं मदद  कर सकू. उसने पहले तो न बोला फीर थोरा बोलेन पा मान गई. मैं बहुत खुस हो रहा था की मेरा हर प्लान कामयाब हो रहा था.. फीर हम खाने के लिए बैठे . फीर अचानक उसने कहा की मैं बहुत अच्छा हूँ और उनका बहुत ख्याल रक्ता हूँ.. उसने यह भी कहा की मैंने अपने चाचा जैसा नहीं हूँ.. पता नहीं उसने यह क्यों कहा लेकिन जो भी हो मुझे बहुत अच्छा लगा सुन के.. फीर खाने के बाद उसने बोल की गुडिया को लेकर ऊपर जाओ और वोह बाकी के काम ख़तम कर के १० मिनट मैं आ रही हैं. मैंने भी वैसा हई किया. मैंने गुडिया को मेरे बिस्तर पे सुला दिया. और मैं अपनी पढाई वाली टेबल पे जा बैठा. थोरी देर मैं चाची आ गयी. उसने अपना गाउन बदल दिया था, क्योंकी उस पे तो मैंने पानी गीरा दिया था. यह गाउन भी कुछ वैसा हई था लेकिन इस मैं के ऊपर की तरफ कुछ बटन थे. सायद रात को गुडिया को दूध पिलाने के लिए उसने ऐसा गाउन पहना था. मैं बहुत खुस था उसे देख के.

फीर वह बेड़ के एक तरफ जाकर सो गए. मैंने सारे लाइट बंद कर दिए और अपने टेबल का लम्प जला दिया. गुडिया बीच मैं सो रहे थी और चाची एक तरफ सो रही थी. मेरा टेबल उसी तरफ था. वो सर पे एक हाथ रख कर सीधे हो के सो रही थी. मैं अपनी किताब छोर के सिफ चाची को ही देख रहा था. उसके दोनों चूची गाउन के ऊपर उभर के आ रहे थे. उसका पेट भी एक दम चिकना था. मैंने कभी चाची को इस नज़र नहीं देखा था. लेकिन अभी मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. थोरी देर बाद अचानक उसने मुझे आवाज़ दिया और कहा की एक तकिया ले आओ ताकी वोह अपनी टांगो को उसपे रखे. मैंने एक बरा सा तकिया ला दिया. फीर मैंने उनसे कहा की अपनी गाउन को थोरा ऊपर कर ले ताके चोट खुले मैं रहे. चोट तो एक बहाना था मैं तो उनके नंगी जांग देखना था. इस बार चाची ने एक बार मैं ही मेरा बात मान लिया.

उनसे अपनी गाउन को ऊपर कर लिया और अपनी नंगी जांग को मेरे सामने खोल दिया. मेरा लंड फीर से खरा हो गया. गरमी भी काफी थी, मैंने सोचा टोइलेट जाकर थोरा लंड को आराम दे आता हूँ. गरमी काफी थी और कुलर चल रहा था. मैंने टोइलेट जाने से पहले कुलर तो चाची के तरफ कर के मैं टोइलेट चला गया. अन्दर जाकर मैं नंगा हो गया और शॉवर के निचे खड़ा हो गया. मेरा लंड पूरा खरा हालत मैं था. मैं चाची की चुत को सोच कर लंड को जोर जोर से हिलानी लगा. दो मिनट मैं मेरा सारा माल बहार आ गया. फीर नहा के मैं बहार निकला.

बाहर आने के साथ मैंने जो देखा मेरे तो होश उर गए. कुलर के हवा की वजह से चाची का गाउन काफी ऊपर जा चूका था. उसके जांग पुरे तरफ से नंगी थी. मैंने तुरंत जा के अपनी टेबल का लाइट भुजा दिया. फीर वापस आ के बेड़ के नीचे बैठ गया. वहां से मुझे उसका पूरा चुत और गांड दिकने लगा. उसने वही लाल चड्डी पहन राखी थी. चाची एक तरफ मुर के सो रही थी और मुझे उसका गांड भी दिख रहा था. उसके चड्डी उसके पुरे गांड को कवर नहीं कर रहा था. उसकी चड्डी वैसे वाली थी जो गांड के बीच मैं घुस जाती हैं. उसका लगभग पूरा गांड ही दिख रहा था. उसकी गांड के गोलाई देख के पागल हो रहा था. मैं उसके गांड को छूना चाहता था. फीर मेरी नज़र उसके चुत पर गयी. उसका चुत बड़े बड़े को मदहोश कर सकता था. पूरा टंच चुत था उसका. उसका चुत का उभार चडी के ऊपर से दिख रहा था. आब मुझसे राह नहीं जा रहा था.लेकिन मैं थोरा डरा भी था के कैसे मैं उसका गांड और चुत पर हाथ फेरु.

मैं अपने बेड़ के तरफ जा कर सो गया और प्लान बनाने लगा. थोरा डर भी था की अगर चाची को पता चल जाये और वोह ना माने और सुब्को बता दे तो मेरा तो वाट लग जायेगा. लेकिन मैं फीर भी चाची को छूना चाहता था.मैं जहा सो रहा था वहां से चाची के नंगी झांग तो दिख रही थी लेकिन चड्डी नहीं दीख रहा था. मैंने बहुत हिम्मत कर के अपना हाथ उसके कमर पे रखा. मेरे हाथ काप रहे थे डर के मारे. मैंने काफी देर हाथ वही रखा फीर जब लगा के चाची गहरी नींद मैं हैं. फीर मैं बहुत धीरे धीरे अपना हाथ नीचे ले जाने लगा. कमर से उसके गांड तक का सफ़र लगभग १५ मिनट मैं पूरा किया.

अभी मेरा हाथ उसके गांड के ऊपर था. धीरे धीरे मैं उसके गांड को सहालेने लगा. उसके गांड और मेरे हाथ के बीच मैं सिर्फ उसका गाउन और एक चड्डी ही रह गया था. थोरी देर गांड के ऊपर हाथ सहालेन के बाद मैं चाह रहा था की उसके गांड मैं हाथ डालू. धीरे धीरे मैंने उसका गाउन उपर की तरफ खेचेन लगा. थोरी देर खेचने के बाद मैं उसके गांड के ऊपर स ेगाउन हटाने में कामयाब रहा. अभी मैं उसके पुरे गांड देख सकता था.मैंने उसके नंगी गांड पे अपना हाथ रखा. ऐसा लगा जैसा ४४० का वोल्ट लग गया हो. उसका गांड एकदम टंच था. उसके गांड के उभार, उसके गांड के गोलाई सब मस्त था. मैंने पहले बार कीसी औरत का गांड पे हाथ दे रहा था. मैं खुशी से पागल हो गया. और उसके चड्डी भी इतने कम गांड को कवर कर रहा था की पुछो मत. उसकी चड्डी उसके गांड के बीच मैं हे थी बस. दो गांड पुरे खुले थे. मैं मन भर के उसके गांड पे हाथ फेरा. फीर मेरा हिम्मत थोरा बड़ा तो मैंने उसके गांड के बीच उंगली डालने की कोसिस सुरु की. उसका चड्डी उसके गांड के बीच थी. मैंने अपनी एक उगली से चड्डी के अन्दर हाथ डाला. मैं उसका गांड का छेद खोज रहा था. क्योंकी गुडिया बीच मैं सो रही थी मुझे थोरी दिक्कत हो रही थी उसके गांड के अन्दर उंगली डालने मैं. फीर मैंने सोचा की अब थोरी देर उसके चूची पर भी हाथ फेरु. मेरा हिम्मत काफी बढ़ गयी थी. चाची अभी भी काफी गहरी नींद मैं सो रही थी. सो मैंने मोका देख कर ऑपरेशन चूची को सुरु किया.

मैंने उसके गांड से हाथ नीकाल के मैंने अपना हाथ उसके कमर पे रखा. मैं यह भी देख़ रहा था की चाची जग न जाय. फीर थोरे देर इंतज़ार करने के बाद मैंने अपना हाथ धीरे धीरे उसके चूची की तरफ ले गया. थोरे ही समय मैं चूची के पास अपना हाथ ले जाने में कामयाब हो गया. मैंने उसे चूची को महसूस करने लगा. उसने ब्रा पहन राखी थी. मैंने उसके चूची के ऊपर हाथ फेरने लगा. उसके चूची बहुत गोलकर थी. मैंने उसके गाउन के ऊपर से ही चूची को सहलाने लगा. ब्रा ने उसके मस्त चूची को बिलकुल सही जगह पे रखा था. मैं अब उसका चूची का नीपल तलाश ने लगा.

पर मुझसे उसमे कामयाबी नहीं मिल रही थी. गुडिया बीच मैं सो रही थी तो और मुस्किल हो रहा था. फिर मैंने उसके गाउन के ऊपर बे बटन खोले ने लगा, मैंने उसके दो बटन खोल दिए. आब मेरा हाथ उसके चूची के ऊपर था. मैंने अपनी एक उंगली उसके दोनों चूची के बीच घुसा दिया. उसका चूची बहुत नरम था. मेरा लंड पागल की तरह खरा हो गया. उसके बाद मैंने अपनी उंगली को उसके चूची के अन्दर डालने लगा. मुझे उसका नीपल चाइए था. मैं लगबघ उसके नीपल के पास उंगली दिया हई था क्या इतने मैं गुडिया हिलने लगी. मैंने फटा फट अपना हाथ उसके चूची से नीकाल लिया. और तुरंत गुडिया रोने लगे. उसे सायद भूक लगी थी. मैं चुप चाप सोने का नाटक करने लगा. और अपनी बंद आँखों के किनारे से देखने लगा की चाची क्या करती हैं .

गुडिया के रोने से चाची उठ गए, और उसने देखा के उसकी पुरी गांड नंगी हालत मैं थी. उसने अपने गाउन के बटन भी खुले पाए पर उसने कुछ किया नहीं. उसने अपनी गांड भी खुले हालत मैं ही छोर दिया. अब मुझे इंतज़ार होने लगा की कब चाची अपनी चूची नीकाल के गुडिया को देगी. मैं सब देख रहा था. तभी उसने अपने गाउन के सारे बटन खोलने लगी.

मेरा दील ट्रेन की तरह धरक रहा था. पहले बार मैं किस का चूची देखने वाला था. फीर उसने अपने ब्रा का हूक भी खोल दिया और अपनी एक चूची को नीकाल के हाथ मैं ले लिया. उसका चूची बहुत मस्त था. बिलकुल गोल और सफ़ेद था. उसके नीपल बहुत बरे थे . चूची नीकाल के वोह सो गए और गुडिया उसका दूध पीने लगी. मुझे मेरे आखों पे बिस्वास नहीं हो रहा था की मैं अपनी चाची का चुत, गांड और चुची देखा रहा था. गुडिया के दूध पीने के आवाज़ सुन के मुझे भी उसका दूध पीने की इच्छा होने लगे. मैं दोनों के सोने का इन्तेज्ज़ार करने लगा. कुछ १० मिनट के बाद सब सन्नाटा हो गया. मैं थोरा उठ के देखा तो चाची सो चुकी थे. उसका चुची उसके गाउन से बहार लटक रही थी. मैंने धीरे धीरे उसके चुची पे हाथ फेरने लगा. उसकी चुची नहुत नरम थी, मेरा लंड तो मेरे पैन्ट को फार के बहार आने लगा. उसके बाद धीरे से मेरा हाथ उसके नीपल पर गया.

जैसे हे मैंने उसके नीपल को छुआ उसका नीपल एकदम से करा हो गया. उसके नीपल पर एक दो बूँद दूध के थे. मेरे उसका वोह दूध लेके अपने मुह मैं डाला. ऐसा दूध मैंने कभी नहीं पीया था. मुझे उसका नीपल चुसना था पर गुडिया बीच मैं थी सो मैं ठीक से उसके पास नहीं अ रहा था. मैंने उसके दूसरा चुची भी गाउन से नीकाल लिया . उसका दोनों चुची सामने नंगे हालत मैं थे. मैंने उसके नीपल पे चुटी काटी जिससे वोह थोरा सा हिल गयी. पर उसने कुछ किया नहीं. सायद उसे भी मज़ा आ रहा था. लेकिन तभी गुडिया फीर से जाग गयी. मैंने अपना हाथ तुरंत वापस ले लिया. थोरे ही देर मैं चाची उठ गयी और उठेते हे उसनसे देखा की उसके दोनों चुची बहार लटक रही हैं. लेकिन उसने उसे वसे नंगे हे छोर दिया. उसने गुडिया को गोद मैं ले लिया और थोरी हे देर मैं गुडिया सो गयी.

उसके बाद वोह उठ कर टोइलेट के तरफ चली गए. मैं अपने बंद आँखों से सब कुछ देख रहा था. थोरे देर चाची टोइलेट से आये और उसने गुडिया को एक तरफ कर के बीच मैं सो गए. वोह बिलकुल मरे बगल मैं आके सो गए. मुझे तो बिस्वास नहीं हो रहा था. सायद उससे भी मज़ा आ रहा था. वोह सीधे होके अपने सर पे हाथ रख कर सो गए. थोरे देर तक मैं शांत रहा और फीर चुपके से अपना हाथ उसके पेट के ऊपर रख दिया. धीरे धीरे मैंने अपना हाथ ऊपर के तरफ ले गया. थोरे देर मैं मैंने उसके चुचे के नीचे तक चला गया. मुझे थोरा नरम नरम महसूस होने लगा.

थोरा और उपार गया तो पता लगा की उसका ब्रा नहीं था. सायद टोइलेट मैं जाकर उसने अपना ब्रा खोल दिया था. सायद उसे भी यह सब अच्छा लग रहा था पर वोह सायद यह सब बस नींद के बहाने से करना था. मुझे भे मज़ा आ रहा था. सार उपर गया तो सरे बटन भे खुले थे. मैंने सीधा उसके गाउन के अंदर हाथ दाल दिया. उसके दोनों चूची के साथ खेलने े लगा. उसका चूची बहुत नरम थे. मैंने उसका नीपल पर हमला कर दिया. थोरे हे देर मैं उसके चूची से दूध आने लगा. उसका पूरा े गाउन दूध से भीगने लगा था. मुझे उसका दूध पना था सो मैंने धीरे धीरे उसका गाउन को उसके कंधे पर से खीच ने लगा. थोरे मुश्किले के बाद उसका एक तरफ का गाउन मैंने उसे हाथ से नीकाल दिया था.

उसका चूची को मैंने पुरी तरफ ने नंगा कर दिया था. एक तरफ से गाउन खोलने के बाद मैंने उसका दूसरा चूची भी बहल नीकाल दिया. फीर मैं थोरा उठ के बैठे गया और उसके नंगी छाती के तरफ देकने लगा. उसके दोनों चूची बिलकुल नंगी हालत मैं लटक रहे थी, मैंने हिम्मत कर के उसके नीपल पे अपना मुह रखा. ऐसा करते हे वोह थोरा सिहर गए लेकिन फीर भी सायद सोने का नाटक कर रही थी, फीर धीरे धीरे मैंने उसका नीपल चूस ने लगा. वोह कभी कभी थोरा आवाज़ कर रहे थी मगर अभी भी उसका आँखे बंद थी. उसके चूची से दूध निकलने लगा और मैंने खूब सारा दूध पिया. उसके दोनों चूची के साथ मैंने काफी देर तक खेलने के बाद मेरा आब उसके चुत के साथ खेलने का मन हुआ.

फीर मैंने उसके चूची को उसी नंगी हालत मैं छोर के अपना हाथ उसके चुत के ऊपर ले आया. उसका गाउन काफी ऊपर तक उठा था. मैंने पहले उसकेगाउन के ऊपर से ही उसके छूट को साह्लाने लगा. मैंने एक उंगली उसके गाउन के ऊपर से हे उसके चुत मैंने डालने लगा. मेरे उंगली थोरा अंदर भी घुस गया. उसके चुत काफी गिला था. फिर मैंने उसका गाउन को ऊपर खीच ने लगा.

थोरे देर मैं उसका गाउन उसके चुत से ऊपर हो गया. उसके पुरे नंगी टांग मेरे सामने दिखने लगी. सिर्फ उसका एक लाल चड्डी उसके चुत को छुपा रही थी. मैंने कभी सोचा भी नहीं था की चाची को मैं इस तरह नंगा करूँगा. ऊपर मैं उसके चुची नंगी थी और नीचे उसके बस एक छोटे सी चड्डी बची थी, और एह सब तब हो रहा था जब वो सायद नींद मैं थी. अब मुझे उसके चड्डी उतार नी थी, सो मैंने उसके चड्डी नीचे की तरफ खीच ने लगा. उसके चड्डी उसके गांड मैं फसी थी. मैं उसको निकाल नहीं पा रहा था, लेकिन तभी चाची ने अपने गांड को ऊपर किया थोरा सा और चड्डी निकल आयी. आब मुझे पाक्का यकीन हो गया था की वोह भी यह सब पसंद कर रही हैं.फीर धीरे धीरे मैंने उसका चड्डी उसके टांगो से निकल दिया. क्या दृश था वोह. उसका खुला हुआ चुत मेरे सामने खुला परा था. मैं तो पागल हो गया उसका चुत देख के. उसके चुत पे एक भी बल नहीं थी. पुर साफ चुत था. मैंने उसके चुत के ऊपर वाले हिस्से को चाटने लगा. उसका पूरा सरीर सिहर उठा.

फीर मैंने उसके टांगो तो फैला दिया ताके मैं उसका चुत मार सकू. उसने कोए विरोध नहीं किया जब मैंने उसके नंगी टांगो को फैला रहा था. उसका पुर खुला चुत मैंने सामने परा था. मैंने उसके दोंनो टांगो के बेच घुस गया और अपना मुह उसके चुत के सामने ले आया. फीर मैंने अपने एक उंगली उसके चुत के अंदर डाल दी जिससे वोह थोरा सा आवाज़ भी किया. मैंने उठ के देखा तोह आँखें अभी भी बंद थी और फीर अपने काम में लग गया. मैंने अपनी उंगली उसके पुरे चुत के अंदर घुसर दी. उसके चुत से पानी निकल ने लगा. फीर मैंने अपने एक और उंगली चुत मैं डाल दे. मैं उसके चुत के अंदर ग़दर मचा रहा था. उसके चुत से सफ़ेद पानी नल के तरह निकल ने लगा.

मैंने अपना मुह उसके चुत के ऊपर रखा और उसका चुत का पानी पीने लगा. उसका पूरा सरीर कापने लगा था. फीर मैंने अपने उंगली थोरे टेढ़ी के और उसके चुत के ऊपर वाले हिस्से को चुटी काटने लगा. वोह हिस्सा थोरा दाने दार था. बाद मैं पता चला वोह जी पॉइंट कह लता हैं. वहां उंगली डालते हे वह और हिलने लगे. मैं समझ गया उसे मज़ा आने लगा था. फीर मैंने अपने उंगली निकला उसके चुत से और उसके चुत को मैंने फैला दिया. मेरे आखों के सामने उसका फैला हुआ चुत देखने लगा. उसका चुत के अंदर बिलकुल पींक रंग का था. फीर मैंने अपना जीव उसके खुले हुए चुत मैं डालने लगा.

वोह बिलकुल हील से गयी. मैंने अपने हाथो से उसका चुत फार के रखा था और मेरा मुह उसके चुत मैंने घुसेर दिया. मैं उसके चुत को चूस ने लगा, उसके चुत से पानी निकल ने लगा और मैंने एक भी बूँद पानी का बर्बाद नहीं होने दिया. मैंने अपने पुरी जीव उसके चुत के अंदर डाल दे थी. मैंने उसके चुत को खा रहा था. उसने एकदम से एक ्जोर के सांस ले और उसका चुत पानी से भर गए. ऐसा लगा की उसके चुत मैं बाढ़ आ गयी और सारा बाढ़ का पानी मैं पी गया. फीर थोरी देर मैं सब सांत हो गया. मैंने भे वहीं पर अपना माल भी गीरा दिया. मुझे अभी भी बिस्वास नहीं हो रहा था की मैंने अपनी चाची के साथ ऐसा रात बिताया. फीर मैंने उसी नंगी हालत मैं छोर के अपने जगह आ के सो गया. अपने अपनी हाथ उसके चुची पे रखा और नींद मैं सो गया.

hindi sex stories , free sex stories , fread hindi xxx stories , xxx stories for free , chudai ke kahani , xxx kahani , gand marne ke kahani , हिंदी में चुदाई की स्टोरीज , सेक्स स्टोरीज , चुदाई की कहानी हिंदी में ,

Shameless mature masseuse young cute boy Jordi El Nino Polla suck her Big tits Boobs blowjob sex and Creampie Mom And Step Son Full HD Porn  , sex photo , fucking photo , big cock sucking photo , ass fucking photo , pussy fucking photo boobs sucking nude photo , FREE... full HD PORN Nude Indian Girls Big Juicy Boobs Photos , Big boobs sexy nude indian pictures house made girl bhabhi and auntiesमोटे बोबे वाली लड़की , full hd porn photo , नंगे फोटो , चुदाई के फोटो , गांड मारने के फोटो नंगे और गंदे गांड चूत और गांड के फोटोTender cutie fucks her older sister's boyfriend Full HD Porn and Nude Images xxx photo , xxx photo , Sexy blonde Capri Cavanni wants sex with her boss Full HD Porn and Nude Images xxx photo , xxx full hd photo , hindi sex stories , free sex stories , fread hindi xxx stories , xxx stories for free , chudai ke kahani , xxx kahani , gand marne ke kahani , हिंदी में चुदाई की स्टोरीज , सेक्स स्टोरीज , चुदाई की कहानी हिंदी में ,

full hd porn , free xxx download , free porn download  , Sexy stepsister Kylie Quinn rides the hard big cock of her step brother Free Full HD Porn and Nude ImagesSexy Jynx Maze loves taking dick doggystyle playing with sex toys and Huge tits Big Boobs Full HD Porn Sexy milf Amica Bentley loves the cock she is my sex toy big boobs classy pussy and big boobs Full HD Porn , Shameless mature masseuse young cute boy Jordi El Nino Polla suck her Big tits Boobs blowjob sex and Creampie Mom And Step Son Full HD Porn

Related Pages

indian College ladki ki nangi chut aur gand chudai photos - College se... indian College ladki ki nangi chut aur gand chudai photos - College sex photos Chudasi ladkiyo ko dekhe apne boyfriend ke sath blowjob, chut chudai ...
पंजाबन सुपरवाईजर की गोरी चूत... मैं सुदर्शन आज फिर हाजिर हूँ.. अपनी जीवन की एक नई कहानी लेकर। ये बात कॉलेज के समय की है.. जब मैं महीने में 6 दिन पार्ट टाईम जॉब भी करता था। मेरे एक ...
दीदी मैं तुम्हे और मम्मी को एक साथ चोदूंगा - Hindi Sex Stories... दीदी मैं तुम्हे और मम्मी को एक साथ चोदूंगा - Hindi Sex Stories दीदी मैं तुम्हे और मम्मी को एक साथ चोदूंगा - Hindi Sex Stories : स्कूल गेट के बाहर ह...
बलात्कार के बाद लड़की को नंगा घुमाया - सामूहिक बलात्कार किया... बलात्कार के बाद लड़की को नंगा घुमाया -  सामूहिक बलात्कार किया बलात्कार के बाद लड़की को नंगा घुमाया -  सामूहिक बलात्कार किया : इस्लामाबाद।। पाकिस्ता...
मम्मी ने टीचर के लंड को मुँह में लेकर चूसा हिंदी में चुदाई की कहाँनी... मम्मी ने टीचर के लंड को मुँह में लेकर चूसा हिंदी में चुदाई की कहाँनी मम्मी ने टीचर के लंड को मुँह में लेकर चूसा हिंदी में चुदाई की कहाँनी मम्मी ...

Indian Bhabhi & Wives Are Here