Get Indian Girls For Sex
   

247066_642471852537120_5467068424222862294_n
आज मैं आपको रात बार किये चुदाई के जागरण के बारे में बताने जा रहा हूँ जोकि मैंने अपने गॉंव में ही इंडियन चाची की चूत साथ किया था और वही मेरी जिंदगी का सबसे बड़ा कामुक सफर रहा है. दोस्तों मेरी चाची की नयी – नयी शादी हुई थी पर मेरे चाचा अपनी शादी के एक दिन बाद ही अपनी नौकरी पल चले गए. उन्होंने तो अपनी बीवी के साथ अच्छे से सुहागरात तक ना बनायीं थी और उनकी अधूरी प्यास का फ़ायदा उनके भतीजे ने पूरा किया. मैं चाची से मस्त में मजाक – मस्ती किया करता था जोकि कभी – कभी कामुक इशारों और छेड – खानी का रूप भी ले लेता था.

मेरी चाची की चूत बड़ी प्यासी थी

एक दिन रात को घर में सोते हुए मैं घर देर से पहुंचा तो मेरे लिए दल्लान में जगह ही ना बची थी जिस पर मेरी दादी ने मुझे अंदर वाले कमरे में मेरी चाची के धोरे ही दो जाने को कहा पर उन्हें नहीं पता था उन्होंने एक भेडीये को उसके शिकार के पास लाकर छोड दिया है. मैं पहले चाची के पास तो यूँही लेटा रहा पर जब मुझसे रुका ना गया तो मैंने उलटी मुडी चाची की कमर पर अपनी ऊँगली फिराने लगा. चाची उस दिन भी अपने लाल जोड़े में सो रही थी और मैं धीर – धीरे उनकी नंगी दिख रही कमर पर अपनी उंगलिय फिराने लगा. मेरी उंगलिया फिराने से मेरे लंड और चाची की चूत दोनों ही उत्तेजित होने लगे थे.

मैं तो चाची के पलटने से डर ही गया

अब अचानक से चाची मेरी तरफ को पलट गयी और मुझसे देखने लगी जिससे मैं बिलकुल डर गया तभी चाची ने मेरे हाथ को उठाते हुए अपनी कमर पर रखवा लिया और मेरे अंदर नया जोश और हौंसला भर आया. मैं मस्त में चाची की कमर को सहलाता हुआ उनके ब्लौस तक पहुँच उनके चुचों पर अपने हाथ को फेरने लगा. चाची ने अब अपनी आँख बंद कर ली और जैसे ही मैंने उसके ब्लाउस को खोलने की कोशिश की थी चाची ने फिर अचानक आगे बढते हुए मेरे होठों को अपने मुंह में भर लिया. चाची मेरे होंठो को जोर जोर से चूस रही थी और उसकी गर्म गर्म साँसे मेरी साँसों से टकरा रही थी. मुझे भी लगा की चाची की चूत की गर्मी आज सर चढ़ के बैठी है बिलकुल उसी तरह जिस तरह से मेरा लंड कब से खड़ा हुआ बैठा हैं. चाची के गर्दाये बदन पर मेरी नजर फिर रही थी, चाची की चूत बहार तो नहीं आई थी लेकिन मेरी आँखों से उसका पूरा बदन चक्षुचोदन करवाने लगा था.

चोली के पीछे क्या है, चुंदरी के निचे…?

हम दोनों एक दूसरे के होठों को मस्त तरह से चूस रहे थे और अब तक मैंने चाची के ब्लाउस को भी खोल चूका था उनके नंगे चुचों को चूस रहा था. चाची मज़े बिलकुल तर हो चुकी थी और नीचे से मेरे लंड को अपने हाथ में लेते हुए उसे पंसा रही थी. अब मैं चाची के उप्पर चढ़ गया उन्हें मस्त में चूम और चूसा रहा था. मैंने अब चाची की साडी को खोलते हुए उनके पेटीकोट का नाडा खोलते हुए उसे नीचे को खींच दिया. अब मैंने कसके पहनी हुए लाल पैंटी को मस्त में अतरंगी ढंग से उतार फेंका. चाची के निपल्स मस्त कड़े हुए थे जिन्हें मुहं में लेते ही चाची आह आह ओह ओह करने लगी, मेरा लंड भी कब से चाची की चूत की गर्मी को मिटाने के लिए बेताब था. चाची ने अपने हाथो से मुझे कस के दबोचा हुआ था और उनके बूब्स से मेरी छाती ऐसे चिपकी हुई थी की बिच में से हवा भी पास नहीं हो सकती थी.

चाची ने मेरे लंड को बहार करते हुए कहा, मेरी चूत कभी से प्यासी हुई है और मुझे भरोसा है की तू अपनी चाची की चूत की प्यास मिटाएगा. मैंने हँसते हुए कहा मैं तो चाची की चूत की प्यास मिटाने के लिए कब से बेताब हूँ. हम दोनों ने एक दुसरे को कस के आलिंगन लिया. चाची पागलों की मुझे कंधे और होंठो के ऊपर चूस रही थी. मैंने अपने दोनों हाथ चाची की चूत के ऊपर रख दिए. कुछ ही पल में दोस्तों,  मेरी उँगलियाँ चाची की चुत में घूम रही थी जिसके बाद दोस्तों, कुछ कहने और सुनने को रह ना गया था और कुछ बाकी था तो बस चुदाई. मैंने अपने पांसे हुए लंड को चाची की चूत के फटे हुए द्वार पट टिका दिया और उनकी चुत में झटके मार अंदर को देने लगा. अब मैं चची के उप्पर चढ़ उनके पागलों की तरह छोड रहा था और वो भी मेरी कमर को पकडे हुए मस्त में मेरी कमर को पकडे हुए मुझे सहयोग कर रही थी.

चाची की चूत में लंड ने छोड़ा स्विमिंग पूल

चाची मुझे कस के पकडे हुए थी और मैंने उनके चुंचो को मुहं में दबाये जोर जोर से चूस रहा था. चाची की कमर हिल रही थी और वोह मुझे जोर जोर से अपनी तरफ खिंच रही थी. मेरे लंड को चाची की चूत में अजब सा मजा आ रहा था. ऐसा मजा तो मुझे कितने दिनों से नहीं मिला था. मेरा लंड का मजा और भी दुगुना हो जाता था जब चाची अपनी चूत को कस के दबाती थी, मेरा लंड जोर से दब जाता था और उसके ऊपर अलग दबाव आता था. ऐसे ही एक दबाव में मेरे लंड ने अपना मोर्चा खो दिया. लंड के अंदर से वीर्य का एक बड़ा झरना निकला और चाची की चूत ने अंदर बहने ;लगा. मैंने जैसे ही चूत से लंड बहार निकाला, चूत के अंदर से वीर्य की बुँदे निचे टपकती हुई नजर आ रही थी…..!!!