Get Indian Girls For Sex
   

11887970_407583332773347_619312065257137497_n

हाय ,दोस्तों मेरा नाम सविता हे और में गुजरात की रहने वाली हूँ. दोस्तों मेरे घर में में और मेरा भाई हम दो ही रहते हे मेरी माँ हमें छोड़कर किसी और के साथ भग गयी. मेरी उम्र हे २७ साल में अभी तक क़वारी हूँ. और मेरे भाई ने लव मेरेज कर ली हे . मेरी और मेरी भाभी की बहुत अच्छी जमती हे. में हर रोज अपने भाई भाभी की चुदाई की आवाज सुनती हूँ.

सेक्स करने की आवाज पर ही मेरी चूत तो फुल फुल जाती हे. फिर तो पूरी रात मुझे चूत में ऊँगली करनी पड़ती हे दोस्तों में शरीर से और अदाओ से और दिल से भी सेक्सी सेक्सी हूँ. मुझे सेक्स की मजा बहुत ही अच्छी लगती हे में हर रोज रात को चूत में ऊँगलीया करके चुदाई करती हूँ.

दोस्तों में अपनी बात पर आती हूँ. एक दिन भाई और भाभी दिवाले के अवसर पर कुछ खरीदी करने के लिए बाजार गए हुए थे उन्हें लोटने में शाम होने वाली थी. में अपने दोस्त शंकर के पास बेठी थी. शंकर और मेरे बिच में हर बात होती थी खुलकर होती थी वो अपनी परेशानिया या कोई भी खुसी की बात हो मुझसे आके करता और में भी अपनी सारी बातें उसी से करती थी.

उस दिन भी हम दोनों अपनी अपनी उल्जन में ही थी शंकर अपने बारे में मुझे बता रहा था की उसे रातो को नींद ही नहीं आती मेने उसे पूछा क्यों क्यों तुजे नींद नहीं आती तो वो बोला की…….

मुझे हर रात को एसा होता हे की में किसी लड़की को चोदु मेरा लंड हर रात को टाइट हो जाता हे और जहा तक में उसे हिलाकर मुठ्ठी में ले के किसी की चूत के जेसे दबा कर शांत नहीं करता वह तक मुझे चेन ही नहीं पड़ता अब तू ही बता में क्या करू.

तो मेने कहा की किसी को रेडी कर ले चुदाई के लिए…तो वो बोला

किसको ……..कौन हे में ये बात एसी बात किसके आगे करू में तो तेरे सिवा किसी को अपने बारे में नहीं बताता तू जानती हे मेरा किसी के साथ कोई चक्कर भी नहीं हे की उससे कहू चुदाई के लिए… अब तू ही बता में क्या करू….

वो मेरे सामने हाथ टिकाए बेठा था मेने कुछ भी सोचा नहीं समजा नहीं और उसे कह दिया में हु ना तू मेरे होते हुए कहा इधर उधर नजरे घुमा रहा हे. तो वो बोला …

तू..?

क्यों क्या हुआ मुझसे तू चुदाई नहीं कर सकता …?मुझसे चुदाई की बाते कर सकता हे मुझे कामुकता में पागल कर सकता हे और मेरी चूत को हर रोज फुला कर चला जाता हे ओर चूत चोदने को बोला तो चोंक दिए ..मेरी चूत भी लडकियों वाली हे हे कुछ अलग नहीं हे समजा. और हां अगर तुजे चुदने का इतना ही मन करता हे तो आज ही समय हे मेरे भाई भाभी बाजार गए हुए हे तो वो लोग शाम को घर आयेंगे चल तुजे चोदना हे तो अभी का अभी भीतर.

में कहते हुए घर में चली गयी वो कुछ भी नहीं बोला बस मेरे पीछे पीछे अन्दर चला आया.जब वो अन्दर आ गया तो मेने दरवाजा बंद कर दिया और अपने कपडे निकाल दिए और अपने टाइट बूब्स उसके सामने ले के जा पहोंची.

वो मेरे बूब्स को सहलाने लगा थोड़ी देर तक उसने मेरे बूब्स को सहलाया और फिर वो मेरी चुचियो को चूसने लगा मेरी गुलाबी गुलाबी चुचिया हर किसी के मुह में पानी उभार सकती हे.उसके मुह में भी पानी उभर आया. वो मेरी चुचियो को चूसने में लग गया.

फिर बारी बारी मेरे बूब्स को वो दबाने लगा. देर तक उसने एसा किया. फिर वो मेरे होठो तक आया चूमता हुआ ओर उसने अपने गरम गरम होठ मेरे होठो पर रख दिए और फिर वो मजे ले ले के मेरे गुलाबी रसीले होठो को चूसने में लग गया.

किस भी उसने काफी देर तक की और फिर उसने मुझे बोला की में भी पूरा नंगा हो जाता हूँ तू भी पूरी तरह से नंगी हो जा मेने अभी मेरा घाघरा नहीं निकाला था तो उसके कहते ही मेने अपने तन पर से सारे कपडे निकाल दिए. और पूरी तरह से नंगी हो गयी.

अब उसने मुझे एक बारी की बैठक पर बिठाया और मेरी चूत  को हस्ते हुए देखने लगा मेरी चूत पर काले काले बाल थे जिन्हें वो अपने हाथो से कभी खींचता था कभी सहलाता था. अच्छा लग रहा था मुझे वो कामदेव जो भी करता था. में भी कामुकता देवी की तरह उसे साथ दे रही थी वो जेसे जेसे ही  मेरी  चूत को सहलाता था मेरी चूत के बालो को खींचता था.

में उसे पूरा साथ दे रही थी.अब में उसे  हटा कर उसके सामने सो गयी वो धीरे धीरे करके मेरे पुरे बदन को चूमने लगा और फिर पहोंचा मेरी सेक्सी सेक्सी मस्त चूत पर. दोस्तों उसने अपना ८ इंच लम्बा लंड मेरी चूत पर लगाया कुछ देर वेसे ही रख कर वो मेरे ऊपर सो गया.

मुझे कस के चिपका गया था वो. फिर उसने कुछ देर के बाद लंड  मेरी चूत में घुसाने लगा थोड़ी देर के बाद मेरी चूत की मलाई ने आसानी से लंड  को मेरी चूत में घुसा दिया पहले थोडा दर्द हुआ लेकिन फिर तो वो ज्यादा से ज्यादा मजा देने लगा वो मेरी चूत के अन्दर बहार कर रहा था लंड को जिससे मुझे और भी मजा आ रहा था दर्द को कौन याद करता हे.

फिर वो झोर झोर से धक्के लगता रहा एक घन्टे तक उसने मेरी चूत की चुदाई की और फिर वो बोला की सविता अब में झड़ने वाला हूँ तो मेने उसे केह दिया की तू तेरी सारी मलाई साले निकाल दे मेरी चूत में तो बस ५ से ६ मिनट तक चोद्ने के बाद वो मेरी चूत में ही झड गया. दोस्तों उस दिन हमें इतना मजा आया की अब तो चुदाई की आदत लग गयी हे हम दोनों कही न कही  चोदने के लिए रास्ता बना ही लेते हे और हर दिन या रात जब भी चोदना हो हम चुदाई करते हे.