Get Indian Girls For Sex
   

vlcsnap-2015-09-24-11h29m30s630
हाई दोस्तों मैं चंडीगढ़ से मनप्रीत, आज मैं आपको मेरी चुदाई की कहानी बताने जा रहा हूँ जो की एक सच्ची घटना हैं. यह मेरे लास्ट दिल्ली ट्रिप की बात हैं, मैं आईफोन का बिजनेश करता हूँ और इसी सिलसिले में मैं अक्सर दिल्ली आता जाता रहता हूँ. आईफोन 5 के लोंच के वक्त में यूके से आये पार्सल के लिए दिल्ली गया था. मैं यहाँ अक्सर आता जाता रहता हूँ और मैं एक जबरदस्त चुदक्कड हूँ इसलिए मैं यहाँ कुछ दल्लो को जानता हूँ. मैंने इस बार गुरु नाम के दलाल को फोन किया, वह हाई प्रोफाइल लडकियों को सप्लाय करता था हाँ उसके रेट हाई थे लेकिन चूत वोह मजेदार देता था. आज मैंने उस से एक जवान लड़की मांगी और उसने मुझे कहाँ की एक गोरी चूत हैं. फिलिपिनी लड़की हैं केवल 20-21 साल की लेकिन उसका रेट डॉलर के हिसाब से लगेगा.
गोरी चूत हैं तो डॉलर में रेट, वाह रे दल्ले….!

मैंने मनोमन सोचा बेन दा लंड गोरी भोसड़ी हैं इसलिए भाव खा रहा हैं. वैसे मेरे मन में भी गोरी चूत को लेने की तलब जाग उठी थी. मैंने रेट पूछा और उसने मुझे 100 $ बोला, रूपये में तब के रेट से 5500 होते हैं, मैंने सोचा चलो एक आईफोन 5 कम बेचा था ऐसा मान लेंगे. मैंने गुरु को कहाँ की भेज दे होटल नवीन में. मैने अपना रूम नम्बर उसे दिया साथ में यह भी तय किया की पैसे लड़की को ही देने हैं. मैं अब गोरी चूत की राह देखने लगा. मैं एक बरमूडा और टी-शर्ट पहने बैठा था, मैंने टीवी चला दी और ऍफ़-टीवी देख लंड को वार्मअप करवाने लगा.दल्ले को मैंने दुबारा फोन किया क्यूंकि मुझे उस से बात किये कुछ 15–20 हो गई थी और चूत और भुत किसीका भी ठिकाना नहीं था. उसने मुझे कहाँ की लड़की पहुँच चुकी हैं दो मिनिट में आ जाएगीं. तभी दरवाजे पर घंटी बजी और मेरा घंटा फडफडाना चालू हुआ. मैंने दलाल की लाइन काटी और अपनी दाढ़ी मुछे साफ़ करता हुआ दरवाजे पर पहुंचा. दरवाजा खोला और सामने एक 21 साल जितनी गोरी गोरी और छोटी आँखों वाली फिलिपिनो लड़की खड़ी थी…अरे यहीं तो थी मेरी डॉलर वाली गोरी चूत.
तो पहले क्या चाहिये…ठंडा या डंडा

यह फिलिपिनो लड़की किसी भी एंगल से कोलगर्ल नहीं लग रही थी, मेंघी टी-शर्ट, रे-बन के ग्लासिस और हाथ में मेंघी घडी….पता नहीं इतना सोचना मुझे अजीब लगा. दल्ले ने भेजी हैं और यह भी लंड लेने आई हैं अब यह कोलगर्ल हैं या फिलिपिन्स की रानी बेन्चोद मैं क्यों अपना भेजा खराब करूँ. वोह अंदर आई और सोफे पर अपनी पर्स गले से निकाल के बैठ गई. उसने मेरी तरफ चश्मा उतारते हुए देखा. मेरा लंड महाराज गोरी चूत के साथ लड़ने को तैयार था. मैंने इसे पूछा की ठंडा लेगी क्या. उसने कहा बाद में लेंगे…साली यह तो हिंदी भी बोल लेती हैं. साले वहाँ से यहाँ लंड लेने आते हैं और प्रोफेशनालिजम तो देखों अपनी भाषा भी सिख लीं. मैं कुछ कहूँ उसके पहले उसने अपनी टी-शर्ट उतार दी और उसके छोटे मगर कसे हुए चुंचे व्हाईट ब्रा से झलकने लगे. मेरा सामान तड़पने लगा था इधर. यह लड़की को नंगी करने में मुझे जरा भी जहमत नहीं उठानी पड़ी साली खुद कपडे उतारने लगी थी. उसकी गांड पतली कमर के निचे कमर से थोड़ी मोटी थी, और हमारी यहाँ बीवियों और आंटियों को देखो पिप के जैसा गांड होता हैं उनका लंड अकेला जाएं तो अनाउंसमेंट कराना पड़े के भाई लंड खो गया. इस लड़की ने जैसे ही अपनी पेंटी उतारी मेरे बारह बज गएँ…क्या चूत दोस्तों लाल होंठ और बिलकुल गोरी चूत जैसे पोर्न फिल्मो में सनी लियोन और दुसरे पोर्न स्टार की होती हैं ना बिलकुल वैसे. मैं सन्न खड़ा उसके नंगे होने तक उसे ही देखतां रहा.
फिलिपिनो ने फिर मुझे अपने हाथ से नंगा किया

यह लड़की अब नंगी पुंगी मेरी तरफ आई और इसने मेरी टी-शर्ट और बरमुडा उतार दीया, मैं तो अंडरवेर उतार के ही बैठा था पहले से. हम दोनों नंगे हुए और इसने मेरे लंड पर हाथ दिया…पंजाबी लंड की लम्बाई शायद इसे भा गई थी. अरे यार पंजाबी लौड़े होते ही कदावर हैं असली घी जो खाते हैं हम लोग. मेरी मन कर रहा था की इसके छोटे से मुहं में अपना 9 इंच का देसी लंड पेल दूँ. इस गोरी के चुंचो को मैंने अपने हाथ में लिए और उन्हें दबाने लगा. चुंचे बड़े ही मुलायम और सेक्सी थे. मैं उनको दबा रहा था और गोरी मेरे लंड को जैसे की नापतोल रही थी. वेश्या ऐसे लंड से इतना लगाव रखती हों वैसा मैंने पहली बार देखा, साली अभी तक तो जितनी मिली खोलो, ठोको और चुकाओ यहीं हिसाब वाली मिली थी…यह कुछ अलग अनुभव करवा रही थी मुझे. मैंने उसका सर पकड़ के अपने लंड को उसके मुहं में देना चाहा लेकिन इसने साफ़ मन किया की वो मुखमैथुन नहीं करेगी. साला…..सपना टूट गया मुहं चोदने का..चलो गोरी चूत में लंड दे देंगे भैया.
गोरी चूत बहुत टाईट थी, धंधे में नईं लगी हैं क्या?

मैंने इस रंडी को पलंग पर सुलाया और उसने मुझे अपने पर्स से कोहिनूर पिंक निकाल के दिया, साला गुलाबी चूत और गुलाबी कंडोम. मैंने कंडोम लंड पे चढ़ाया और मैं इस लड़की की टांगो के बिच के रास्ते जन्नत की शैर करने को तैयार हो गया. मैंने अपने लंड का सुपाड़ा इस गोरी चूत के होंठो पर रखा और फिलिपिनी जवानी हिलने लगी. मैंने उसकी गोरी चूत को थोडा फैलाया और उसमे धीमे से अपना लंड परोया. साली यह चूत तो बड़ी टाईट निकली, मुझे लगा था की रंडी हैं तो तुंरत घुस जाएगा और वीर्य निकलने में नाक में दम आ जाएंगा क्यूंकि चूत ढीली हो गई होगी लंड ले ले के. लेकिन यह तो एक टाईट चूत मिल गई थी मुझे, लगता है यह रंडी धंधे में नई आई हैं ऐसी गुरु की बात सच ही थी. मैंने थोडा दम लगाया और आधा लंड इस गोरी चूत के अंदर किया, लड़की कराह उठी क्यूंकि ऐसे ही मेरा 72 किलो का वजन उसके उपर पहले से पड़ा हुआ था और यह चुदाई. मैंने एक मिनिट राह देखी और दुसरे झटके में पूरा लंड इसकी चूत में धकेल दियां.
लंड और चूत की लड़ाई, जिसे लोग कहते हैं चुदाई

पूरा लौड़ा इस गोरी चूत के अंदर जाने के बाद में थोड़ी देर लंड को बिना हलाये ऐसे ही लेटा रहा. मैंने इस बिच इस फिलिपिनो लड़की के सेक्सी स्तन को चूस लिया और उसके होंठो पर भी प्यार भरी पप्पी ले ली थी. वोह भी मेरे होठ चूम रही थी. उसके होंठ बड़े ही रसीले थे और वो बिलकुल गोरो वाला किस कर रही थी, जबान से जबान लगा के. मैंने धीरे से अपना लंड इस गोरी चूत में चलाना चालू किया और यह लड़की आह आह कर कराहने लगी. इसने शायद 9 इंच के लंड का मजा पहली बार लिया था. मेरे लंड के उपर इस चूत की गर्मी और घर्षण दोनों लग रहे थे. मैंने अपने झटके चालू किये और साथ में मैं इसके स्तन को चूस रहा था. थोड़ी चुदाई के बाद गोरी भी हिलने लगी और उसने मेरी कमर पर अपना हाथ रख दियां और मुझे अपनी तरफ खींचने लगी. उसकी गांड अब हिलने लगी थी और चूत और लंड की लड़ाई यानी की चुदाई चरम सीमा पर पहुँच चुकी थी.
मैं इस गोरी चूत में ही निढाल हो गया.

मेरे झटको की स्पीड क्रमश: बढ़ने लगी और अब तो गोरी भी लंड से बिलकुल एडजस्ट हो चुकी थी. वो हिल हिल के लंड को जोर जोरे से अपनी गोरी चूत में लेके चुदवा रही थी. मुझे कपाल से पसीना छूटने लगा और मैं और जोर जोर से चोदने लगा. मैंने कुछ 5-7 मिनिट ही चोदा था की मेरे लंड का पानी छुट पड़ा, साला इतना जल्दी तो मैं कभी खाली नहीं होता लेकिन शायद यह गोरी चूत ज्यादा ही टाईट थी मेरे लंड के लिए….! मैंने रिसेप्शन पे फोन किया और दो कोक मंगा ली, लड़की ने कपडे पहने और मैंने उसे डोलर के हिसाब से बनते पैसे दे दियें, उसने मुझे अपना मोबाइल नम्बर दिया और कहाँ की जब चूत मारनी हो मैं उसे सीधा फोन करूँ ताकि वो कुछ कम पैसे मैं ही अपनी चूत मुझे दे सके. ठंडा पिने के बाद वो रूम से जाने लगी और मैं उसकी गांड की तरफ देखता रहा…….!!!

चंडीगढ़ के मनप्रीत (नाम बदला हुआ) का यह स्टोरी हमें भेजने के लिए तहेदिल से शुक्रिया…….मित्रो आपको इस गोरी चूत की कहानी कैसी लगी हमें यह जरुर से कमेन्ट में लिख भेंजे…आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी अपनी राय दे सकते हैं. आप से एक नम्र निवेदन हैं की कृपया इस साईट को राईट साइड में दिएँ सबस्क्राइब लिंक में अपना इ-मेल दे के सबस्क्राइब कर ले ताकि आपको प्रकाशित होने वाली स्टोरी की सुचना सीधे आपके इ-मेल में ही मिल सके. तो सिरिश को अभी इजाजत दें, मिलेंगे और किसी हॉट स्टोरी के साथ.