Get Indian Girls For Sex

Hindi Intercourse Myth लेज़्बीयन बॉस को दूध पिलाया – सेक्स स्टोरी हिंदी में

हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम निशा है मैं आपको एक कहानी सुनाने जा रही हूँ जो मेरे साथ हुई थी, ये एक रियल स्टोरी है एक साल पहले ही मेरे हज़्बेंड की डेत एक आक्सिडेंट मे हो चुकी थी साथ मे मेरी 4 महीने की बच्ची भी एक्सपाइर हो गयी थी, मैं काफ़ी टूट गयी थी मगर टाइम के साथ सब ठीक हो गया मुझे एक अछी जगा जॉब मिल गयी थी मैं अपने मा और पापा के साथ रहने लगी एक प्राब्लम थी मेरे बूब्स मे काफ़ी दूध आता था क्योकि मेरी बच्ची की डेत हो चुकी थी तो दूध की वजा से मैं प्राब्लम मे रहती थी, मैं अपने बारे मे बताती हूँ मेरी, उमर 28 साल है और मेरा फिगर 38,28,36 है, एक दिन की बात है जब मैं ऑफीस मे थी तो मेरी बॉस मिस रीता ने मुझे अपने कॅबिन मे बुलाया, रीता एक 23 साल की लड़की थी जो ऑफीस के ओनर की बेटी थी उसका फिगर 30,24,32 था उसने मुझे एक फाइल निकालने के लिए बोला जब मैं फाइल उठा रही थी, तो फाइल मेरे हाथ से नीचे गिर गयी और मेरी सारी का पल्लू नीचे हो गया जिससे मेरे बूब्स ब्लाउस मे दिखने लगे, अचानक से रीता की नज़र मेरे बूब्स पर गयी, तो वो बोली वाउ यू हॅव ए वेरी सेक्सी बूब्स निशा.

मैं कुछ बोल ही नही पाई वो मेरे पास आई और बोली की आपका ब्लाउस इतना गीला कैसे हो गया, तो मैने बता दिया की इनमे से दूध आता है इसीलिए, रीता बोली क्या मैं इन्हे टच कर सकती हूँ, तो मैने गर्दन हिला कर कहा हान मगर धीरे से रीता ने धीरे से मेरे बूब्स छूकर देखे तो मेरे बॉडी मे अजीब सी सनसनी सी हो गयी, क्योकि मुझे काफ़ी टाइम हो गया था सेक्स किए हुए, पर मुझे अछा भी लग रहा था रीता ने फिर दूसरा बूब्स भी दबा दिया, तो मेरे मूह से अचानक से आहह की आवाज़ आने लगी, मैने कहा मेडम प्लीज़ थोड़ा धीरे अह्ह्ह्ह, मगर वो सुनने के लिए तैयार ही नही थी, फिर वो बोली मुझे एक बार तुम्हारे दूध देखने है, मैने कहा नही मॅम ये कैसे हो सकता है, तो मैं बोली की मॅम मुझे शरम भी आ रही है, रीता बोली मुझसे कैसी शरम प्लीज़ एक बार दिखाओ ना, तो मैं बोली ओके मॅम और मैने अपने ब्लाउस के हुक खोलने शुरू कर दिए, ब्लाउस खोलने के बाद मेरे बूब्स ब्रा मे से बाहर निकलने के लिए बेचैन हो रहे थे, रीता ने अपना हाथ मेरी ब्रा के अंदर डाल दिया और निप्पल को टच करने लगी, मुझे बहुत अछा लग रहा था मेरे मूह से अहह अहह की आवाज़े आने लगी.

तो रीता ने मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और मेरे चुचिया बाहर आ गयी, 38 साइज़ की चुचिया देखते ही रीता पागल सी हो गयी, वो मुझे अपने साथ अपने कॅबिन के अंदर वाले बेडरूम मे ले गयी और मुझे वाहा लेटा दिया और रीता ने अपने भी सारे कपड़े उतार दिए, उसके बूब्स बहुत छोटे थे और निप्पल भी ब्लॅक कलर के थे, जबकि मेरी चुचिया एक दम मोटी-मोटी थी और निप्पल भी एक दम लाइट ब्राउन पिंक थे, रीता मुझे बोली निशा मुझे बहुत भूख लगी है प्लीज़ मुझे थोड़ा सा दूध पीला दो, मैं कुछ बोल ही नही पाई क्योकि मैं भी यही चाहती थी और तो डॉक्टर ने मुझे बोला था अगर आपने ब्रेस्ट्फिड नही कराया तो आपको प्राब्लम हो सकती है, इसीलिए मैने हान मे गर्दन हिला दी रीता खुश हो गयी और बोली मुझे आपकी गोद (लॅप) पर सर रख कर दूध पीना है, मैने कहा ठीक है मॅम आइए लेट जाइए और वो मेरी गोद मे लेट गयी, . बच्चे लेट ते है, फिर मैने अपनी राइट साइड वाली चुचि का निप्पल रीता के लिप्स पर टच कराया और उसके लिप्स पर एक बूँद दूध की गिर गयी, जिसे वो अपनी जीभ से चाट कर पी गयी फिर उसने अपना मूह खोला और पूरा निप्पल मूह मे ले लिया.

मेरी पूरी बॉडी मे करेंट सा दौड़ गया और मेरे मूह से सिसकारिया निकलने लगी, मैं अहह अहह कर रही थी और रीता मॅम का सर अपने बूब्स मे दबा रही थी, रीता बड़े आराम से पूछ-पूछ कर के दूध पी रही थी और दूसरे बूब्स को दबा रही थी, मैं अपने एक हाथ से उसका सर अपने बूब्स मे दबा रही थी और दूसरे हाथ से अपनी चुचि को दबा रही थी, ताकि ज़्यादा दूध रीता मॅम के मूह मे जाए, रीता बड़े मज़े से मेरा दूध पी रही थी और निप्पल को दांतो से काट भी रही थी, मुझे बहुत ही ज़्यादा मज़ा आ रहा था, लगभग 30 मिनट तक वो मेरा स्तनपान करती रही, फिर उसने मेरा पेटिकोट और पैंटी उतार दी और मेरी चुत मे उंगली करने लगी और हम दोनो 69 की पोज़िशन मे आ गये और एक दूसरे की चुत चाटने लगे, मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और मैं बहुत तेज़-तेज़ अहह अहह कर रही थी, उसने मेरी चुत मे 3 उंगलियाँ डाल दी, मैं चिल्लाने लगी मगर रीता ने और तेज़ी से अंदर बाहर करना शुरू कर दिया जब हमारा दोनो का पानी निकल गया तो हम दोनो ने एक दूसरे की चुत का पानी जीभ से चाटा, लास्ट मे जब मैं रेडी होने लगी तब भी रीता ने मुझे जाने नही दिया.

बोली मुझे दूध पीना है और मेरी ब्रा फाड़ दी और दोनो चुचियों को दबाने लगी, मेरी चुचियाँ उसके हाथो मे आ नही रही थी, फिर भी वो दबाए जा रही थी और वो चेर पे बैठ गयी और मुझे खड़ा करके आराम से मेरी चुचियाँ चूसने लगी और दोबारा से स्तनपान करने लगी, मैं सिसकारिया ले रही थी और वो मेरे मोटे-मोटे बूब्स को आम की तरह चूस रही थी और मेरा मीठा-मीठा दूध पी रही थी, मैं फिर से गरम होने लगी थी क्योकि मैने काफ़ी सालो बाद सेक्स किया था तो मेरा मूड जल्दी ही बन गया, हमने फिर दोबारा मस्ती करने की सोची और हम दोनो वॉशरूम मे जाकर एक दूसरे की चुत चाटने लगी और फिंगर अंदर बाहर करने लगी, अगर आपको ये स्टोरी अछी लगी हो तो प्लीज़ अपने कॉमेंट्स आप नीचे दिए कॉमेंट सेक्षन मे या पर सेंड कर सकते है मैं जल्दी ही दूसरी स्टोरी के साथ फिर दोबारा आउन्गि थॅंक्स फॉर रीडिंग माय स्टोरी. कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके

Hindi Intercourse Myth लेज़्बीयन बॉस को दूध पिलाया – सेक्स स्टोरी हिंदी में

Hindi Intercourse Myth लेज़्बीयन बॉस को दूध पिलाया – सेक्स स्टोरी हिंदी में. Bhai bahan intercourse kahani,boss,chusai,lesbian,office. Bhai bahan intercourse kahani,boss,chusai,lesbian,office.

Related Post – Indian Sex Bazar