दोस्तों मेरे और मेरी बुआ के अवैध सेक्स संबंध हैं. मेरे पापा की छोटी बहन मतलब की मेरी बुआ की अभी कुछ दिनों पहले ही नयी नयी शादी हुई थी मगर उनके पति अर्थात मेरे फूफा जी मेरी बुआ के साथ शारीरिक संबंध नहीं बनाया करते थे और मेरी बुआ शादी शुदा होने के बावजूद वर्जिन ही थी. फिर जब बुआ अपने ससुराल से मायके रहने आई तो मैंने कमान संभाली और उनके दुःख को दूर करने की जिद पकड़ी. कामुकता से भरी अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी में मैं आप को बताऊंगा की कैसे मैंने शादी के बाद अपने ससुराल से मायके लौटी वर्जिन बुआ की सील पैक चूत का उद्घाटन करा और तो और घोड़ी बनाकर उनकी गांड भी मारी…

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राकेश है और में 27 साल का हूँ. मेरी बुआ जिसकी उम्र 35 साल है और मेरी कामुक बुआ दिखने में सेक्स की देवी लगती है, उसका नाम बबिता है. मेरा सामूहिक परिवार है, इसमें 8 अंकल, 8 आंटी, 15 भाई बहन है और इन लोगों के बीच में मैंने कैसे अपनी बुआ की जमकर चुदाई की? ये बात में आज आपको बताने जा रहा हूँ. ये बात उन दिनों की है जब बुआ की शादी हो गई थी, तब में 20 साल का था और बुआ 30 साल की थी. मेरी कामुक बुआ शादी के बाद पहली बार अपने ससुराल से मायके आई थी और काफ़ी दिनों तक रहने वाली थी.

ससुराल से मायके लौटी वर्जिन बुआ की सील पैक चूत का उद्घाटन करा अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी

ससुराल से मायके लौटी वर्जिन बुआ की सील पैक चूत का उद्घाटन करा अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी

शादी के बाद अपने ससुराल से मायके लौटी मेरी बुआ मुहे खुश नहीं दिखाई दे रही थी मुझे दाल में कुछ कला लग रहा था इस लिए मैंने उनके उप्पर नजर रखे हुआ था. फिर एक दिन जब मेरी बुआ से जब उनकी दोस्त मिलने के लिए आई तो बुआ उन्हें अपने और अपने पति की सेक्स लाइफ के बारे में बता रही थी और इस दौरान मुझे पता चला कि फूफा जी ने अभी तक मेरी बुआ के साथ शारीरिक संबंध ही नहीं बनाये हैं. ये बात सुनकर मुझे बहुत ही ज्यादा कुशी हुई और मैं उस दिन से ही अपने ससुराल से मायके लौटी वर्जिन बुआ की सील पैक चूत का उद्घाटन करने का मौका तलाशने लगा.

मेरी कामुक बुआ मेरे ही कमरे में अलग पलंग पर सोती थी और उनके गहरी नींद में सो जाने के बाद मैं रात में कई बार उन्हें देखकर मुठ मारा करता था. एक दिन गर्मी से बैचेन होकर मेरी कामुक बुआ रात को अपनी साड़ी और ब्लाउज खोलकर सो गई. अचानक से मेरा ध्यान उनकी तरफ गया तो मेरी आँखे फटी की फटी रह गई. अब उनका पेटीकोट ऊपर उनके पेट पर था, तो में नजदीक जाकर उनकी सेक्सी गांड को देखने लगा और देखते-देखते ही मेरा लंड तनकर 8 इंच का हो गया. अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था तो में उनकी गांड को सूंघने लगा. इस दौरान मेरी वर्जिन बुआ गहरी नींद में सोई हुई थी उन्हें पता नहीं था की मैं उनके जवान और सेक्सी जिस्म के साथ क्या काण्ड कर रहा हूँ.

अपनी शादी शुदा बुआ की सेक्सी गांड को सूंघने के के कारण मेरे अंदर कामवासना बहुत ही ज्यादा बुरी तरह से भड़क उठी और अब मुझसे सब्र नहीं हुआ तो मैं उनकी सेक्सी गांड को अपनी जीभ से चाटना शुरू कर दिया. जैसइ ही मैंने मेरी बुआ की गांड को चाटना शुरू करा वैसे ही उनकी गहरी नींद टूट गयी और वो अचानक से जागकर बैठ गई. तो मैंने हिम्मत करके उनसे कहा कि बुआ आप अपनी सील पैक वर्जिन चूत का उद्घाटन मेरे लंड से करवा लो आप को चुदाई का आनंद भी मील जायगा और घर में किसी को कुछ पता भी नहीं चलेगा. पति की बेरुखी के कारण मेरी वर्जिन बुआ भी चुदवाने के लिए भूखी थी तो उन्होंने मुझे उनकी सील पैक वर्जिन चूत का उद्घाटन करने की आज्ञा प्रदान कर दी.

मेरा खड़ा लंड अभी भी खड़ा ही था तो मेरी कामुक बुआ ने मेरे लंड को पकड़कर अपने मुंह में ले लिया और किसी रंडी की तरह उसे चूसने लगी. जब मेरी बुआ मेरे लंड को अपने मुंह में लेकर चूस रही थी तो मुझे बड़ा आनंद आ रहा था आज से पहले मुझे कभी किसी ने ब्लोजॉब जो नहीं दिया था. करीब दस मिनट तक मेरी बुआ मेरे लंबे और मोटे लंड का मज़ा लेती रही. फिर दस मिनट के ब्लोजॉब के बाद मैंने उनके मुँह से अपना लंड बाहर निकालकर उनकी सील पैक वर्जिन चूत का उद्घाटन करने के लिए उनके पेटीकोट के नाड़े को खोल दिया, तो उनका पेटीकोट नीचे आ गया. अब मेरे सामने उनकी काली- काली झाटों से भरी चूत और बड़ी सी गांड थी.

ससुराल से मायके लौटी वर्जिन बुआ की चूत का उद्घाटन करने से पहले मैं उनकी गांड का करना चाहता था इस लिए मैं उन्हें घोड़ी बनाकर पीछे से उनकी गांड पर अपना लंड रगड़ने लगा. मेरी कामुक बुआ अपनी गांड की चुदाई करवाने के लिए अब बहुत ही ज्यादा बैचेन हो उठी थी क्योकि आज से पहले कभी उन्होंने अपनी गांड में किसी मर्द का लंड जो नहीं लिया था यहाँ तक की उनकी शादी के बाद उनके पति ने भी उनकी सेक्सी गांड के साथ कोई गलत काम नहीं करा था. अब में अपना लंड उनकी गांड में घुसाने लगा, तो मेरी कामुक बुआ दर्द से आहें भरने लगी, लेकिन फिर भी उसने मना नहीं किया.

मैं कुंवारा लड़का ये देखकर धीरे-धीरे अपना लंड उनकी सेक्सी गांड में अंदर डालने लगा. अब उनके मुँह से उईईईई माँ में मरी, बाहर निकाल की आवाजे आने लगी थी, लेकिन में अपने लंड को उनकी गांड में अंदर ही डालकर कुछ देर तक उनके बड़े बड़े स्तनों को मसलने लगा, तो मेरी कामुक बुआ जोश में आ गई और मेरे धक्के लगातार चलने लगे. अब मेरी कामुक बुआ भी मेरा पूरा साथ दे रही थी, उनकी गांड क्या मस्ती और शानदार थी? अब मेरा मन तो कर रहा था कि उनकी गांड से अपना लंड ही नहीं निकालूं.

अब मेरी कामुक बुआ भी जोर-ज़ोर से कह रही थी, मेरी जान तू मेरी गांड और ज़ोर-ज़ोर से मार और तेज-तेज, तूने मेरी गांड को मरकर आज मुझ अभागन महिला को जन्नत की सैर करा दी. फिर इस तरह से उनकी गांड को करीब 30 मिनट तक चोदने के बाद में उनकी सेक्सी गांड के छेद के अंदर ही झड़ गया और उनकी गांड में अपना लंड डालकर उन पर लेटा रहा. क्या बताऊँ दोस्तों? आज पहली बार किसी के साथ सेक्स करने में मुझे बड़ा मज़ा आया था. में ये सब ब्लू फिल्मों में देखकर ही एक्सपर्ट हुआ हूँ. फिर कुछ देर के बाद बुआ बाथरूम से वापस आई और मुझे चूम लिया और मेरे लंड को एक किस दे दिया, अब मेरी कामुक बुआ भी मुझसे खुल गई थी.

फिर उन्होंने मुझे अपने पलंग पर बुलाया और बोली कि राकेश मेरा दूध पिएगा, चूसेगा. फिर में भी उनके बगल में लेटकर उनके बूब्स को चूसने लगा. अब मेरी कामुक बुआ अपने एक हाथ से अपने बूब्स को चुसवा रही थी और आहें भर रही थी. अब उनकी आँखें बंद थी और मेरी कामुक बुआ ऊहहहहह आहह कर रही थी. अब इधर मेरा लंड भी खड़ा हो रहा था और अब उसने मुझे लेटाकर मेरे लंड को झुककर अपने मुँह में ले लिया था और ज़ोर-ज़ोर से चूसने लगी थी. ब्लोजॉब के दौरान मेरी तो जान ही निकले जा रही थी. थोड़ी देर के बाद में उनके मुँह में ही झड़ गया और मेरी कामुक बुआ मेरा पूरा माल अपने मुँह में लेकर कुत्तिया की तरह चाट-चाटकर की पी गई और अब में ढीला हो गया था.

फिर मेरी कामुक बुआ एक कुर्सी पर बैठ गई और अपने दोनों पैरों को पूरा फैला लिया और बोली कि राकेश मेरी चूत को तो देख, तुमने क्या हाल कर रखा है? ये बह रही है, इसकी गर्मी को उतार मेरी चूत की खुजली को मिटा दे और मुझे रगड़कर चोद, आज तक मेरी चूत को किसी ने नहीं चोदा है, तुम ही इसका उद्घाटन कर दो. अब उनकी चुदासी भरी बातें सुनकर मैंने भी जोश में आकर मेरे पापा की शादी शुदा बहन की टाइट चूत पर अपना मुँह लगा दिया. अब मुझे पहली बार चूत की खूशबु मिल रही थी.

अब में कुत्ते की तरह मेरी नंगी बुआ की टाइट चूत के नामिकिन पानी को चाटने लगा था और मेरी कामुक बुआ सिसकारियां भरने लगी यहह ओह और जोर से चूसो मेरे राजा, खा जा मेरी चूत को इसने काफ़ी दिनों से परेशान किया हुआ है. इस तरह से में अपनी जीभ को मेरे पापा की शादी शुदा बहन की टाइट चूत के अंदर ले गया और अपनी जीभ से ही अपनी नंगी बुआ की टाइट चूत को चोदने लगा. फिर उन्होंने अपनी दोनों जाँघो के बीच में मेरे सिर को दबा लिया और मेरे मुँह में ही अपनी चूत के नमकीन पानी को गिरा दिया. बुआ की सील पैक वर्जिन चूत के पानी की एक-एक बूँद को पी गया, वाह क्या टेस्ट था? में बता नहीं सकता.

फिर उसके बाद उन्होंने मेरे लंड को पकड़कर चूसना शुरू किया, तो मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया. फिर मैंने वर्जिन बुआ की सील पैक वर्जिन चूत का उद्घाटन करने के लिए उन्हें पलंग पर लेटाया और उनकी सील पैक वर्जिन चूत में थूक लगाकर अपने लंबे मोटे लंड का सुपड़ा घुसा दिया. लंड का सुपाडा चूत के मुंह में जाते ही मेरी नंगी बुआ ज़ोर से चीख उठी उई माँ आह… मेरी शादी शुदा बुआ अभी तक वर्जिन ही थी और उनकी चूत काफ़ी टाईट भी थी. फिर उस शादी शुदा रंडी ने मुझसे कहा कि मेरे मुँह में मेरी पेंटी डाल दो और मेरी चिंता छोड़कर अपना लंड मेरी चूत में डाल दो और मेरी इस सील पैक वर्जिन चूत का उद्घाटन कर दो आज.

फिर मैंने वैसा ही किया और उनके मुँह में उनकी पेंटी डालकर अपने लंड से एक जोरदार धक्का लगाया तो मेरा 4 इंच लंड मेरे पापा की शादी शुदा बहन की चूत के अंदर चला गया. में इसी तरह से धक्के लगाता रहा, तो उनकी टाइट चूत से खून निकलने लगा, लेकिन मैंने धक्के मारते हुए मेरे पापा की शादी शुदा बहन की टाइट चूत में अंदर तक अपना पूरा लंड डाल दिया और धीरे-धीरे उनकी चुदाई करने लगा. अब मेरी कामुक बुआ भी अपनी कमर आगे पीछे करने लगी थी, तो मैंने उनके मुँह से कपड़ा निकाल दिया. अब हम दोनों जोश में आ चुके थे और अब पूरे रूम में पच-पच की आवाजे आ रही थी.

अब मेरी कामुक बुआ मुझे गंदी-गंदी गालियाँ दे रही थी और कह रही थी हरामी की औलाद तेरी माँ बहुत से चुदवाती है, तू मेरी चूत का बुलंद दरवाजा बना दे. इस बात से में काफ़ी जोश में आकर उन्हें रगड़-रगड़कर चोदने लगा. अब इस दौरान मेरी कामुक बुआ चुदवाते चुदवाते करीब तिन बार झड़ चुकी थी और अब में भी 45 मिनट की चुदाई के बाद झड़ने वाला था. मैंने मेरी नंगी बुआ से पूछा कि मेरा माल झड़ने वाला है जल्दी से बताओ वीर्य किधर टपकाना है? तो चुदते चुदते मेरी नंगी बुआ ने वीर्य उनकी टाइट चूत के अंदर ही छोड़ने को कहा. में तेज़ी से मेरी नंगी बुआ की टाइट चूत में धक्के लगाने लगा और फिर एक जोरदार धक्के के साथ मेरी कामुक बुआ की टाइट चूत के अंदर ही झड़ गया.

अपनी बुआ की चूत में माल निकालने के बाद मैं निढाल होकर उनके उप्पर ही लेट गया. बुआ की चुदाई करने के बाद कब मुझे गहरी नींद आ गई पता ही नहीं चला. फिर सुबह 10 बजे मेरी नींद खुली, जब मुझे बुआ जगाने आई थी. अब मेरी कामुक बुआ काफ़ी खुश लग रही थी. फिर उन्होंने मुझको किस किया, तो फिर मैंने भी झुककर उनकी साड़ी उठाकर मेरे पापा की शादी शुदा बहन की टाइट चूत को चूम लिया. अब मुझे जब भी कोई मौका मिलता है तो मैं मेरी जवान और सेक्सी बुआ के साथ अवैध सेक्स संबंध बना लेता हूँ मेरी बुआ भी मुझे कभी उनकी चुदाई करने से नहीं रोकती उल्टा अब वो बहुत खुश रहने लगी है. दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आप सभी को मेरी हिंदी सेक्स कहानी “अपने ससुराल से मायके लौटी वर्जिन बुआ की सील पैक चूत का उद्घाटन करा” बहुत पसंद आई होगी…