होमAntarvasna Hindi Sex Storiesचुदाई करने का न्योता दिया कामुकता से भरी कमसिन लड़की ने

चुदाई करने का न्योता दिया कामुकता से भरी कमसिन लड़की ने

दोस्तों आज की इस कामुकता से भरी अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी में आप पढ़ेंगे की कैसे किराये के मकान में सील पैक वर्जिन चूत की चुदाई करने का न्योता दिया कामुकता से भरी कमसिन लड़की ने एक शादी शुदा मर्द को और उसके साथ अवैध सेक्स संबंध बनाये : मैं दिल्ली में जॉब करता था और एक किराये के मकान में रहता था. मेरी बीवी गाँव गयी थी क्योंकि वो प्रेग्नेंट थी और इस वजह से मैं घर में अकेला ही था कुछ दिनों से. मैं किराये से जिस मकान में रहता था उसी मकान के ग्राउंड फ्लोर में एक परिवार रहता था जिसमे शबनम नाम की एक बहुत ही ज्यादा सेक्सी लड़की रहा करती थी.

जवान और सेक्सी शबनम उत्तर प्रदेश की रहने वाली थी. शबनम एक कुँवारी लड़की थी और अपने भैया भाभी के साथ रहती थी. दोस्तों उसकी भाभी भी दिखने में बहुत कड़क माल थी. वैसे उस वर्जिन लड़की की भाभी ने भी मुझे कई बार उनके साथ अवैध सेक्स संबंध बनाने का न्योता दिया था मगर मुझे कभी सही मौका नहीं मील सका उसकी चुदाई करने का. उस जवान और सेक्सी लड़की के भैया भाई दोनों नौकरी पर चले जाते थे जिस वजह से पूरा दिन वो जवान और सेक्सी माल लड़की घर में अकेली ही रहती थी कोई काम नहीं रहता था तो वो बोर हो जाती थी.

चुदाई करने का न्योता दिया कामुकता से भरी कमसिन लड़की ने अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी

चुदाई करने का न्योता दिया कामुकता से भरी कमसिन लड़की ने अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी

शबनम दिखने में बहुत ही कमसिन थी. बड़े बड़े स्तन पतली कमर, दूध के जैसा गोरा जिस्म कुल मिलकर बहुत सदा हुआ जिस्म था उस कमसिन लड़की का उसे देखकर लगता था की भगवन ने उसे बड़ी फुरसत से बनाया है. घर में मैं अकेला था इस वजह से मुझे कई दिनों से चुदाई करने के लिए चूत और गांड नसीब ही नहीं हुई थी इस लिए मैं उस कमसिन लड़की के नाम की मुठ मार मारकर काम चला रहा था.

सुन्दर और सेक्सी माल शबनम की याद मुझे रोजाना रात में आती थी और फिर मजबूरन मुझे उसके नाम की मुठ मार कर अपनी कामवासना शांत करनी पड़ती थी. दोस्तों मैं आये दिन उस कमसिन कुँवारी लड़की की चुदाई करने के सपने देखा करता था मगर मुझे क्या पता था की एक दिन मैं उसको अपनी रंडी बनाकर चोद पाऊंगा. अब ज्यादा मुँह चोदी करे बिना मैं सीधे मुद्दे पर आता हूँ. कमसिन शबनम के भैया भाभी तो दिन में जॉब पर चले जाते थे और वो कमसिन लड़की घर का सारा काम निपटा कर ऊपर मेरे पास आ जाती थी और फिर कहती थी बॉलीवुड के नए सोंग्स चला दो. मैं उसकी फरमाइश पर हिंदी फिल्मों के सोंग्स लगा देता वो सुनती और मुस्कुराते रहती थी. एक दिन की बात है मैं घर पर ही था दिन में.

वो नशीली लड़की मेरे कमरे में आ गयी और कुर्सी पर अपनी गांड टेक कर बैठ गयी. वो मुझे देखकर मुस्कुरा रही थी. मैंने मन ही मन सोचा की ना जाने क्या बात है शबनम मुस्कुरा रही है और सेक्सी अंगड़ाईयाँ ले रही है. बहुत खुश नजर आ रही थी वो जवान और सेक्सी माल लड़की उस दिन. मैं फोल्डिंग कुर्सी पर अपनी गांड टेक कर बैठा था वो चेयर पर मेरे सामने अपनी गांड टेक कर बैठी थी. अचानक वो उठी और मेरे गोद में अपनी गांड टेक कर बैठ गयी मात्र पांच सेकंड के लिए और फिर तुरंत ही वो चेयर पर बैठ गयी. मेरी धड़कन एकदम से तेज हो गयी. मुझे समझ आ गया था की वो वर्जिन लड़की मेरे लंड से अपनी सील पैक चूत की चुदाई करवाना चाहती है.

वो कुंवारी थी इस लिए मुझे थोड़ा डर लग रहा था की यदि मैं उसकी सील पैक चूत की चुदाई करूँ और वो वर्जिन लड़की मेरे बच्चे की माँ बन गयी तो बहुत दिक्कत हो सकती है. जब मैंने उस कुँवारी लड़की की तरफ देखा तो मैं खुद को रोक नहीं पाया और उसके साथ अवैध सेक्स संबंध बनाने के लिए कामवासना से भर गया. वो वर्जिन लड़की मुस्कुरा कर मुझे उसकी सील पैक वर्जिन चूत की चुदाई करने का न्योता दे रही थी मगर थोडा शरमा भी रही थी. शायद वो जानना चाह रही थी की मुझे बुरा तो नहीं लगा. मैं उसके चेयर के करीब फोल्डिंग पर ही बैठ गया. उसकी तरफ देखा और उसका गाल पकड़ कर ऊपर किया अपने तरफ.

वो शर्म के मारे अपने सर को झुकाने लगी. फिर मैंने उस कामुकता से भरी वर्जिन लड़की की मोटी मोटी जांघ पर हाथ रखा उसने कुछ नहीं कहा. मैं फिर से उसकी मोटी मोटी जांघ को सहलाने लगा तो उस जवान और सेक्सी लड़की ने अपना हाथ मेरे हाथ पर रख दिया. मैं अपना हाथ उसके पेट पर ले गया सहलाने लगा. वो वर्जिन लड़की मुस्कुरा रही थी तो कभी सीरियस हो रही थी , फिर मैं उसके चूचियों को छुआ तो वो बाहर देखने लगी शायद वो ये कह रही थी की दरवाजा खुला है. मैं उठा और बोला की दरवाजा बंद कर दूँ. तो वो बोली मुझे नहीं पता. मैं उठाकर दरवाजा बंद कर दिया. इतने में वो खड़ी हो गयी और बोली जा रही हूँ मुझे निचे जाना है.

मैं उसके करीब आया वो अपना सर वो झुका ली. मैं उसके सुन्दर से मुखड़े को फिर से ऊपर किया और उसके कपकपाते होठ को अपने होठों से मिलाकर चूसने लगा. वो कामुक कुँवारी लड़की अपनी दोनों आँखे बंद करके किसिंग में मेरा पूरा पूरा साथ देने लगी. मैंने उस कामुकता से भरी कमसिन लड़की के के मोटे मोटे स्तनों को मसलना शुरू किया वो आँखे बंद कर ली. मैं उसको अपना फोल्डिंग पर बैठाया वो बैठ गयी. मैं उसके समीज के ऊपर से हाथ अंदर घुसाया और उसके बड़े बड़े स्तनों को जोर जोर से मसलने लगा. मैं उसको लिटा दिया. और उसके ऊपर चढ़ गया. सलवार का नाडा खींच दिया और निचे कर दिया. देखा वो अंदर कुछ नहीं पहनी थी.

उस वर्जिन लड़की की सील पैक चूत पर झांट के बाल भी नहीं थे बिलकुल चिकनी चूत थी उसकी. मैंने तुरंत ही उस कामुकता से भरी कमसिन लड़की की समीज को ऊपर किया और उस वर्जिन लड़की के बड़े बड़े स्तनों को मसलने लगा और दांत से काटने लगा. वो कुँवारी लड़की तुरंत ही अपनी सील पैक वर्जिन चूत की चुदाई करवाकर सील तुड़वाने के लिए गर्म हो गयी. उसने मुझे पकड़ लिया और चूमने लगी अपनी बाहों में भरने लगी. मैं उसके चूत पर हाथ रखा तो अपना पैर फैला दी. मैं निचे आकर उस कुँवारी लड़की की सील पैक वर्जिन चूत को देखा तो पाया की उसकी चूत बिलकुल गुलाबी रंग की है और उसमें एक छोटा सा छेद है.

बिना झांट के बाल वाली उस चूत को अपने दोनो हाथों से चीर कर अंदर देखा तो अनुमान लगाया की इसकी सील पैक वर्जिन चूत तो बहुत ही ज्यादा सकड़ी है और अंदर मेरा लंड जाने की बिलकुल भी जगह नहीं थी. मुझे लग रहा था की कैसे मैं अपना मोटा लौड़ा डालूंगा इस वर्जिन लड़की की सील पैक चूत के अंदर. तभी शबनम ने कहा जल्दी से मेरी इस सील पैक वर्जिन चूत की सील तोड़ दो मैं अब और ज्यादा सब्र नहीं कर सकती. उसकी चुदने की ज्वलंत इच्छा को देखकर मैं भी चुदाई करने के आवेश में आ गया और फिर मैंने तुरंत ही अपना लंड निकाला और सेक्स करने के लिए उस नंगी लड़की के दोनों के पैर को अलग अलग किया और चूत में बीचोबीच लंड लगाया और घुसाने लगा.

वो कामुकता से भरी कमसिन लड़की वर्जिन थी इस वजह से उसको चुदाई करवाने में काफी ज्यादा दर्द हो रहा था और उसकी आँखों से आँसू की धारा बहने लगी थी. उस कामुकता से भरी कमसिन लड़की ने कहा अपना लंड धीरे धीरे अंदर डालो. मैंने फिर से अपना खड़ा लंड निकाला और उसपर थूक लगाया और फिर से कोशिश करने लगा. वो मुझे पकड़ ली. मैं फिर से उसके चूत पर लंड रगड़ा. वो और भी ज्यादा कामुक हो गई. मैंने चुदाई करने के लिए फिर से अपना खड़ा लंड उसकी नंगी टांगो के बीचोबीच लगाया और उसकी टाइट चूत के टाइट छेद के अंदर पेल दिया चुदाई करने के लिए. उस कामुकता से भरी कमसिन लड़की ने अपनी गांड उप्पर की तरफ उठा ली और इस दौरान वो दर्द के मारे जोर से कराह उठी.

उस कामुकता से भरी कमसिन लड़की की बड़ी बड़ी आँखों से मोटे मोटे आंसू बहने लगे थे. मैंने उस नंगी लड़की के बड़े बड़े स्तनों को बड़े प्यार से सहलाया और बोला बस अब दर्द नहीं सील चूत का टूट गया. और फिर लंड को अंदर डालने लगा. दो तीन झटके दिया. थोड़ा खून निकला और फिर लंड अंदर चला गया. अब मैंने उस कामुकता से भरी कमसिन लड़की की टाइट चूत को पुरे जोश के साथ चोदना शुरू किया और चुदाई करते करते उस कुंवारी लड़की के बड़े बड़े स्तनों को जोर जोर से दबाना शुरू किया. पहली चुदाई के दौरान उस नंगी लड़की के नशीले होठ चूसते हुए जब झटके देता लंड का तो वो आह आउच ओह्ह्ह आअह्ह करती. मैं जोर जोर से पेलने लगा.

उस नंगी लड़की के सेक्सी जिस्म और खूबसूरत होठ चूचियों को देखकर मुझ शादी शुदा मर्द से रहा नहीं गया और मैं उस दिन जल्दी ही झड़ गया. जब मैं उसके चूत को फिर से देखा तो लाल नजर आ रहा था. और अंदर फटा दिख रहा था. वो खड़ी हो गयी और मेरी बाहों में आ गयी. दोस्तों मैं करीब तिन साल तक उस किराये के मकान में रहा और मौका पाकर कई बार उस कामुकता से भरी कमसिन लड़की के साथ अवैध सेक्स संबंध बनाये. दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आप सभी को मेरी ये कामुकता से भरी अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी “किराये के मकान में सील पैक वर्जिन चूत की चुदाई करने का न्योता दिया कामुकता से भरी कमसिन लड़की ने” बहुत पसंद आई होगी…

RELATED ARTICLES

What's New

Most Popular