होमAntarvasna Hindi Sex Storiesब्लू फिल्म देखकर चाची को घोड़ी बनाकर चोदा उनके मायके में

ब्लू फिल्म देखकर चाची को घोड़ी बनाकर चोदा उनके मायके में

दोस्तों मैं एक कुंवारा लड़का हूँ और मुझे ब्लू फिल्म देखने और ब्लू फिल्म देखकर मुठ मारने का बड़ा शौक है. और मैं हर रात सोने से ओपहले ब्लू फिल्म देखकर मुठ मारता हूँ. दोस्तों मेरी एक चाची है जो दिखने में बहुत ही ज्यादा सुन्दर और सेक्सी है. मेरे उनके साथ अवैध सेक्स संबंध हैं और मैंने करीब करीब कामसूत्र की हर सेक्स पोजीशन में उन्हें चोदा है. मेरी चाची की मोटी गांड और बड़े बड़े स्तनों को देखकर हर कोई उसका दीवाना बन जाए और उनके साथ अवैध सेक्स संबंध बनाने के लिए तड़प उठे. आज की इस कामुकता से भरी अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरी में आप पढ़ेंगे की कैसे मैंने ब्लू फिल्म देखकर मुठ मारने के बाद मेरी कामुक चाची के साथ अवैध सेक्स संबंध बनाये और उनके मायके में उन्हें घोड़ी बनाकर डॉगी स्टाइल सेक्स पोजीशन में चोदा.

दोस्तों सेक्सी माल चाची के साथ अवैध सेक्स संबंध बनाने और उन्हें घोड़ी बनाकर डॉगी स्टाइल सेक्स पोजीशन में चोदने की ये सुखद घटना उस वक्त की है जब मेरी कामुक चची को अचानक से उनके मायके जाना पड़ा था  क्योंकि उनकी माँ की तबीयत अचानक से खराब हो गई थी. मेरे चाचा शराबी हैं और उनका कुछ पता नहीं रहता की वो शराब पीकर किस किस रंडी के कोठे पर पड़े रहते है इस लिए मेरी मम्मी ने मुझे चाची के साथ उनके मायके भेजा था. चाची ने एक बैग लिया और बाइक लेकर हम दोनों उनके मायके के लिए निकल गए. दोपहर के 3 बजे हम चाची के मायके पहुंच गए.

ब्लू फिल्म देखकर चाची को घोड़ी बनाकर डॉगी स्टाइल सेक्स पोजीशन में चोदा उनके मायके में अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरी

ब्लू फिल्म देखकर चाची को घोड़ी बनाकर डॉगी स्टाइल सेक्स पोजीशन में चोदा उनके मायके में अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरी

फिर हमने एक बहुत बड़े डॉक्टर के यहाँ पर नानी को दिखाया. नानी को डॉक्टर के यहाँ दिखने में शाम हो गई थी. शाम को हम लोग घर आये और फिर खाना खाया. खाना खाने के बाद मैं दूसरे रूम में सोने चला गया  क्योंकि आज मैं बहुत ज्यादा थक चूका था. नानी का घर बहुत छोटा है और उनके घर में सिर्फ दो ही कमरे हैं, एक कमरे में मैं सोने चला गया और एक कमरे में नानी और चाची लेट गई. मुझे नींद नहीं आ रही थी तो मैं मेरे मोबाइल फोन पर ब्लू फिल्म देखकर मुठ मारने लगा. मैं पूरा नंगा होकर हस्तमैथुन करने में लगा हुआ था. जब मैंने ब्लू फिल्म देखकर मुठ मार रहता था तभी अचानक से चाची आ गई, मैंने ध्यान नहीं दिया.

चाची ने एकदम से मेरे खड़े लंड को पकड़ लिया. मैं हड़बड़ा उठा. मैंने मेरी चाची से पूछा की आप यहां? वो बोली- माँ दवा खाकर सो गई है बेटा अब जल्दी से मुझे घोड़ी बनाकर चोद डालो. मैंने कहा- वो जाग गई और हमें चुदाई करते देख लिया तो? चाची बोली- मैंने माँ को बोल दिया कि मैं हिमांशु बेटा के कमरे में सो जाऊँगी तुम इधर आराम से सो जाओ. अब चाची ने घोड़ी बनकर चुदवाने के लिए अपनी साड़ी ब्लाउज उतार दिया और ब्रा पैन्टी में मेरे बिस्तर पर आ गई चुदवाने के लिए. जब मैंने पहली बार मेरी चाची को चोदा था तब मुझे पता चला था की उन्हें घोड़ी बनकर पीछे से चुदवाना बहुत पसंद है.

मैं ब्लू फिल्म देखकर मुठ मार रहा था इस लिए पहले से नंगा था और अब चाची ने कमान अपने हाथों में ले ली और मेरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया. मैंने अपना मोबाइल फोन टेबल पर रख दिया मगर उसमें अभी भी ब्लू फिल्म चल रही थी जिसकी नशीली आवाजें मेरे हम दोनों को सुनाई भी दे रही थी. फिर मैं मेरी जवान और सेक्सी माल चाची की ब्रा खोलकर उनके मोटे मोटे स्तनों को जोर जोर से मसलने लगा. चाची ने मुझे ब्लोजॉब देने के लिए मेरा लंड अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. ब्लोजॉब के दौरान मैं झटके लगाने लगा और मेरी कामुक चाची के मुंह की चुदाई करने लगा.

जब मैं मेरी कामुक चाची के मुंह की चुदाई कर रहा था तब मेरा लम्बा और मोटा लंड उनके गले तक जा रहा था जिस वजह से उन्हें बार बार खांसी आ रही थी. कुछ ही देर बाद मैंने चाची की पैंटी उतार दी और चाची को नंगी करके चोदने के लिए लिटा दिया. अब हम दोनों मुखमैथुन करने के लिए कामसूत्र की 69 सेक्स पोजीशन में आ गए और एक-दूसरे के यौन अंगों को चूसने व चाटने लगे. चाची के मायके में हमें रोकने वाला कोई नहीं था और अब हम दोनों अवैध सेक्स संबंध बनाने के लिए बहुत ही ज्यादा गर्म हो गए थे. मुखमैथुन करने के बाद मैंने चाची को चोदने के लिए नीचे लिटा दिया और ऊपर चढ़कर चूत में लन्ड घुसा दिया और अंदर बाहर करके उनके साथ चोदा चादी करने लगा. होंठों पर होंठ रखकर चोदना शुरू कर दिया.

अब मेरी कामवासना से भरी चाची अपनी मोटी गांड उठा-उठा कर मेरा साथ देने लगी. आज की रात हम दोनों की रात थी. अब मैंने चाची की एक टांग उप्पर उठा कर चोदना शुरू कर दिया. ‘आहहह ऊहह अहह म्मह’ करके मेरी नंगी चाची पुरे जोश के साथ मेरा लंबा मोटा लंड अपनी बुर में ले रही थी. नंगी चाची के साथ चोदा चादी करते करते अब मैं भी जोश में आ गया और तेज़ तेज़ धक्के लगाने लगा. दोस्तों मेरी चाची के पति तो एक नंबर के शराबी थे इस लिए चाची को कुछ भी काम होता था तो वो मुझे ही बुलाया करती थी. धीरे धीरे मेरे और चाची के बीच नजदीकियां बढ़ने लगी थी और फिर हम एक दुसरे के इतना करीब आ गए की एक दुसरे के साथ अवैध सेक्स संबंध बना बैठे.

दोस्तों आज से पहले भी हम दोनों ने पहले भी घर पर कई बार अवैध सेक्स संबंध बनाये थे लेकिन घर में घर वालों का डर रहता था की यदि किसी ने हमें अवैध सेक्स संबंध बनाते हुए देख लिया तो बहुत बदनामी होगी. मगर आज चाची के मायके में हम बिंदास होकर सेक्स का पूरा आनंद ले रहे थे  क्योंकि इधर हमें कोई डर नहीं था  क्योंकि चाची की माँ तो पहले ही नींद की गोली खाकर गहरी नींद में सो चुकी थी. अब चाची ने अपनी टांग चौड़ी कर दी और पलंग के नीचे झुककर घोड़ी बन गई. मैं पीछे से अपना लौड़ा उनकी टाइट बुर में डालकर उन्हें डॉगी स्टाइल सेक्स पोजीशन में चोदने लगा.

थोड़ी देर की चोदा चादी के बाद चाची की बुर ने बहुत सारा चिपचिपा पानी छोड़ दिया. अब उस चिपचिपे पानी की बझा से मेरा लंबा और मोटा लंड फच्च फच्च करके फिसलता हुआ उनकी बच्चेदानी तक जाने लगा. चुदते चुदते चाची की सिसकारियां तेज़ हो गई थी. अब मैंने अपने लौड़े को तेजी से अंदर-बाहर करना शुरू कर दिया. थप थप थप थप फच्च फच्च फच्च की आवाज कमरे में गूंजने लगी. हम दोनों कामवासना से चलते अब यह भी भूल गए थे कि बगल वाले कमरे में नानी सो रही थी.

चुदवाते चुदवाते एक बार फिर चाची ने अपनी चूत की पकड़ मेरे लंड पर बहुत मजबूत कर ली थी और मेरा लन्ड भी चुदाई करते करते एकदम से अपनी प्पुरी रफ्तार में आ चूका था. मैं चाची की चूचियों को मसलते मसलते उनकी टाइट छुट में जोरदार झटके लगाने लगा. अब दोनों तरफ से बराबर झटके लगने लगे थे. एकदम से हम दोनों के ही शरीर अकड़ गए और एक साथ पानी छोड़ दिया. मैं चाची के ऊपर गिर गया. मेरा लन्ड अब तक चाची की चूत में घुसा हुआ था. थोड़ी देर बाद दोनों अलग हुए चाची ने लंड चूस कर साफ़ कर दिया. फिर मेरी कामवासना से भरी चाची अपनी बुड्डी माँ के रुम चली गई.

मैंने ब्लू फिल्म देखकर अपनी कामुकता से भरी चाची को घोड़ी बनाकर चोदा उनके मायके में :- थोड़ी देर बाद चाची आई और बोली- हिमांशु बेटा मेरी माँ पर दवा का असर हो गया है अब वो गहरी नींद में सो रही है. यह सुनकर मैंने चाची को अपनी तरफ खींच लिया और उसके होठों को चूसने लगा; उसकी चूचियां को दबाने लगा. मैंने उसकी दोनों चूचियों को अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. अब चाची ने अपनी चूत खोल दी और लेट गई. मैंने देर ना करते हुए अपनी जुबान चूत में लगा दी. मैं किसी कुत्ते की तरह मेरी नंगी चाची की टाइट चूत को चाटने व चूसने लगा. हम दोनों ही अवैध सेक्स संबंध बनाने के लिए बहुत ज्यादा जोश में भर चुके थे. मैंने चाची को लंड पर बैठने को कहा, वो झट से मेरे लंबे मोटे लंड पर अपनी टाइट चूत रखकर बैठ गई.

पूरा लंड बड़ी आसानी से मेरी नंगी चाची की टाइट चूत के अंदर चला गया. ‘आहह उम्म्ह हहह आओहह’ करके चाची अपनी कमर ऊपर नीचे करते हुए मेरे लंड पर उप्पर निचे कूदने लगी. पलंग से आवाज आने लगी और चाची लंड पर उछल उछल कर गांड़ पटकने लगी. मैंने चाची को घोड़ी बनाया और चोदने लगा अब लंड सटा सट सटा सट अंदर बाहर होने लगा. अब चुदते चुदते मेरी घोड़ी बनी हुई नंगी चाची सिसकारियां भरने लगी और बोली- हिमांशु बेटा और तेज़ चोद और आज अपनी चाची की चूत फ़ाड़ डाल! आहह चोद मुझे अपनी रंडी छिनाल बनाकर बीटा उमह… उमह.. उई माँ..!

अपनी जवान और सेक्सी चाची को घोड़ी बनाकर चोदते चोदते अब मैं बहुत ही ज्यादा जोश में आ गया और बहुत तेज़ी से अपना लंड चाची की टाइट चूत के अंदर-बाहर करने लगा. चाची भी चुदवाते चुदवाते अपनी मोटी गांड आगे पीछे करने लगी और आहहह आहहह करके मस्ती में मेरा लंबा मोटा लंड लेने लगी. चुदाई करवाते करवाते करीब दस मिनट बाद मेरी नंगी चाची की चूत ने पानी छोड़ दिया. मेरी नंगी चाची की चूत से पानी बाहर निकलने लगा और चाची की जांघों पर आने लगा. दोस्तों अभी मेरे लंड से वीर्य निकलना बाकि था तो अब मैंने चुदाई करने की रफ़्तार बढाई और बहुत खतरनाक तरीके से चाची की चुदाई करने लगा.

चाची की चिकनी चूत में बहुत सारा पानी भर चूका था इस लिए चुदाई के दौरान मेरा गीला लंड फच्च फच्च फच्च की आवाज करने लगा था. मैंने चाची को घोड़ी बना दिया और उसकी मोटी गांड पर मेरा खड़ा लंड फेरने लगा. फिर मैंने मेरी नंगी चाची की गांड के छेद में थूक लगाया और लंड को अंदर उनकी गांड के छेद के अंदर पेल दिया. गांड की अंदर लंड घुसते ही दर्द के मरे उनके मुंह से बड़ी तेज चीखें निकल पड़ी. मैंने उसकी चूचियों को सहलाना शुरू कर दिया और मेरा लंबा मोटा लंड धीरे धीरे उनकी गांड के अंदर बाहर करने लगा. थोड़ी देर की गांड चुदाई के बाद जब उनकी गांड का दर्द कम हुआ तब उन्होंने ने अपनी गांड हिलाने की रफ्तार बढ़ा दी.

अब गांड की थप थप थप थप की आवाज़ कमरे में गूंजने लगी. आज चाची मेरे साथ अवैध सेक्स संबंध बनाते हुए बिल्कुल भी नहीं डर रही थी और चुदवाते चुदवाते अपनी सिसकारियों की आवाज़ तेज करती जा रही थी. अब मेरा लन्ड अपने आप तेज़ हो गया और झटके के साथ पानी छोड़ दिया. मैं चाची के ऊपर चिपक कर लेट गया लंड को चूत से निकाल लिया. हम दोनों एक-दूसरे से लिपटकर किस करने लगे और पता नहीं चला कब दोनों को गहरी नींद आ गई. दोनों नंगे बदन एक दूसरे को बांहों में लेकर गहरी नींद में सो गए थे. सुबह अचानक चाची की नींद खुली तो उसने मुझे जगाया फिर हम दोनों एक साथ बाथरूम गए.

बाथरूम से आकर दोनों किस करने लगे और एक दूसरे के अंगों को सहलाने लगे. अब चाची ने लंड चूसना शुरू कर दिया और उसकी चूचियों को मसलना मैंने शुरू कर दिया. मैंने चाची को लिटा दिया और चोदने लगा; लंड गपागप गपागप अंदर बाहर करने लगा. अब चाची की चूत में लन्ड आराम से जाने लगा था. हम दोनों एक-दूसरे को पागलों के जैसे चूमने लगे, मैंने उसकी चूचियों को मुंह में भर लिया और चूसने लगा. अब चाची ने कहा- हिमांशु बेटा, आज तुम मुझे अपनी गोद में उठा कर चोदो मैं आज कोई नयी सेक्स पोजीशन आजमाना चाहती हूँ. मैंने मेरी नंगी चाची को उनकी इच्छा के अनुसार अपनी गोद में उठाया और जोर जोर से झटके लगाने लगा.

अब उनके बड़े बड़े स्तन हवा में झूलने लगे. मेरी नंगी चाची चुदते चुदते ‘आहहह उम्माह हह आहहह हिमांशु बेटा … और तेज़ चोदो मुझे!’ चिल्लाती रही और मैं झटके पे झटके लगाने लगा. फिर चाची को मैंने पलंग पर झुका कर घोड़ी बना दिया और फिर पीछे से उनकी टाइट छुट को चोदने लगा. घोड़ी बनी हुई मेरी कामवासना में जल रही चची भी अपनी कमर हिला हिला कर चुदाई का पूरा आनंद ले रही थी. अब चाची ने मेरे लंबे मोटे लंड को अपनी टाइट चूत में बहुत बूरी तरह से दबा लिया और फिर उनकी चूत ने करीब एक घंटे की चुदाई के बाद पानी छोड़ दिया. अभी मेरे लंड से वीर्य की पिचकारी चलना बाकी थी तो मैंने मेरी नंगी चाची की चुदाई करने की गति बढाई और अपने लौड़े को तेज रफ्तार से नंगी चाची की टाइट चूत के अंदर-बाहर करना शुरू कर दिया.

एक बार फिर चाची को लिटाकर मैं उनका काम लगाने के लिए उनके ऊपर आ गया और लन्ड उनकी चूत में किसी नुकीले खंजर की भांति घुसा दिया. चाची की चूत चुदाई करवाते करवाते काफी पानी छोड़ रही थी जिस वजह से मेरा मुसल जैसा खड़ा लंड भी बहुत ही ज्यादा गीला हो चूका था और अब मेरा गीला लंड चाची की टाइट चूत में बड़ी आसानी से अंदर बाहर होने लगा था था. आज मैं मेरी जवान और सेक्सी चाची को उनके मायके में बिना किसी डर के बिलकुल नंगी करके किसी रंडी की भांति चोद रहा था उन्हें चुदवाने में काफी दर्द हो रहा था  क्योंकि मेरा लंड काफी ज्यादा लम्बा और मोटा है मगर मैं उन पर बिलकुल भी दया नहीं दिखा रहा था.

सेक्स करने के दौरान हम दोनों एक-दूसरे की कामवासना शांत कर रहे थे और एक दुसरे को चरम सुख देने की पूरी पूरी कोशश कर रहे थे. मैं मेरी चाची को बड़ी बेरहमी से चोद रहा था जिस वजह से उनकी सिसकारियां बहुत तेज होती जा रही थी. हम दोनों ने सेक्स करने की अपनी अपनी रफ़्तार बढ़ा दी थी. मेरी नंगी चाची की चूत पर झटके पे झटके लगने लगे और थप थप व फच फच की मादक आवाज़ पुरे कमरे में गूंजने लगी. करीब एक घंटे की खतरनाक चुदाई के बाद अब मेरे मुसल जैसे खड़े लंड ने भी चाची की टाइट चूत में वीर्य की पिचकारी छोड़ दि और फिर मैं निढ़ाल होकार मेरी नंगी चाची के उप्पर ही गिर पड़ा. दोस्तों यदि आप ने कभी सेक्स करा हो तो आप को पता होगा की सेक्स करने पर कितनी थकान हो जाती है और शरीर में बहुत कमजोरी सी लगने लगती है.

खैर सेक्स ख़त्म करने के बाद चुदाई की थकान से हम दोनों को ही ना जाने कब गहरी नींद आ गई हमें पता ही नहीं चला और हम दोनों नंगे ही गहरी नींद में सो गए. हम दोनों सुबह तक नंगे ही एक दुसरे से चिपक कर सोते रहे फिर जब सुबह अचानक से नानी की आवाज आई तो मेरी नींद खुली. फिर मैंने चाची को जगाया और मैंने अपनी अंडरवियर और बनियान पहन ली और नानी के पास चला गया और उनके ढ़ोक लगाकर उनका आशीर्वाद लिया. थोड़ी देर बाद चाची ने सबको चाय नाश्ता करवाया और फिर चाय नाश्ते के बाद हम सब अस्पताल पहुंच गए, वहां नानी का इलाज करवाया.

शाम को घर आकर खाना खाया और चाची की बुड्डी माँ के गहरी नींद में सोने के बाद चाची अवैध सेक्स सम्बन्ध बनाने के लिए मेरे पास आ गई. उस रात भी हमने ब्लू फिल्म देखने के बार करीब 4 बार अलग अलग कामसूत्र की सेक्स पोजीशन में खूब जमकर चुदाई करी मैंने उस रात भी मेरी सेक्सी माल चाची को घोड़ी बनाकर चोदा था. दोस्तों जब तक हम उनके मायके में रहे हमने खूब जमकार सेक्स करा क्योंकि ऐसा सुनहरा मौका बार बार हाथ नहीं लगने वाला था. दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आप सभी को मेरी ये अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरी “ब्लू फिल्म देखकर मुठ मारने के बाद चाची के साथ अवैध सेक्स संबंध बनाये उनके मायके में और उन्हें घोड़ी बनाकर डॉगी स्टाइल सेक्स पोजीशन में चोदा” बहुत पसंद आयी होगी और आप इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करेंगे…

RELATED ARTICLES

What's New

Most Popular