Get Indian Girls For Sex

सेक्सी साली को रगड़कर चोदा रंडी की तरह – सेक्स स्टोरी हिंदी में

 

सेक्सी साली को रगड़कर चोदा रंडी की तरह – सेक्स स्टोरी हिंदी में : हैल्लो दोस्तों, दोस्तों मुझे एक दिन मेरी हॉट सेक्सी साली ने फोन किया और वो मुझसे पूछने लगी कि आप कैसे हो? आप कभी भी हमारी खैरखबर नहीं लेते हो कि हमारी तबीयत ठीक है कि नहीं और फिर से इलाज की ज़रूरत है कि नहीं? अब में तुरंत ही उसका वो इशारा समझ गया कि वो मुझसे किस तरह के इलाज के बारे में बोल रही है? इसलिए मैंने तुरंत ही हंसकर उसको पूछा कि आप ही बताए कि मुझे कब आना है? फिर वो कहने लगी कि मेरे वो भी कुछ दिनों के लिए घर से बाहर गए हुए है और आज रविवार का दिन है, इसलिए घर के सभी बच्चे भी बाहर रहेंगे वो सब देर तक लोटेंगे, इसलिए हम रविवार का विचार बनाते है। फिर मैंने अब उसकी वो बातें सुनकर तुरंत खुश होकर हाँ कह दिया और फिर वो मुझसे कहने लगी कि हम खाना घर पर साथ ही खाएंगे।

फिर मैंने उसको कहा कि हाँ में खाना अपने साथ में लेता आऊंगा, तभी वो बोली कि यह कैसे हो सकता है आप मेरे मेहमान हो? तब मैंने उसको कहा कि में किसी अच्छे से रेस्टोरेंट से अपनी पसंद का खाना ले आऊंगा आप ही उसका पैसा मुझे दे देना। अब वो मेरी इस बात को सुनकर खुश होकर मान गई और वो मुझसे कहने लगी कि में आपको उस काम को करने के लिए बहुत याद कर रही हूँ, आप आकर अपना वो काम जरुर पूरा करना जो अभी तक अधुरा ही है और उस आग में अब तक जल रही हूँ।

अब मैंने खुश होकर कहा कि नेकी और पूछ पूछ इतना अच्छा मौका कौन छोड़ता है। फिर वो ज़ोर ज़ोर से हंसने लगी, मैंने उसको कहा कि तुम्हे भी इस काम में अब बहुत मज़ा अनुभव हो गया? होगा वैसे में तुम्हे अपनी तरफ से एक नये प्रकार से नया मज़ा देना चाहता हूँ और अब उसने भी अपनी तरफ से मुझसे पूरा साथ देना का पक्का वादा किया। फिर मैंने उसको उसके घर पर ठीक शाम को पांच बजे पहुंच जाने का वादा दिया और उसको कहा कि में उसके लिए कुछ मस्त सेक्सी उपहार भी जरुर लेकर आऊंगा। फिर में उसको मिलने अपने काम को पूरा करने के लिए उसके घर से निकल गया और कुछ घंटो के सफर के बाद में उसके घर पर पहुंचा गया, क्योंकि हमारे घरो के बीच ज्यादा दूरी नहीं है।

सेक्सी साली को रगड़कर चोदा रंडी की तरह सेक्स स्टोरी हिंदी में

फिर मैंने दरवाजा खटखटाया उसने दरवाजा खोल दिया और अब में उसके सुंदर चेहरे पर वो चमक उसकी खुशी को देखकर तुरंत समझ गया कि उसके मन में क्या चल रहा है? फिर उसने बड़े ही प्यार भरे अंदाज में मेरा स्वागत किया और मुझे अंदर आने को कहा। फिर उसने मुझे सोफे पर बैठने को कहा अंदर आकर मैंने महसूस किया कि पूरे घर में बड़ी ही शांति थी, जिसका मतलब बिल्कुल साफ कि उस पूरे मकान में हम दोनों के अलावा और कोई भी नहीं था।

अब उसने मेरे हर रास्ते को पहले से ही साफ कर दिया था, जिसकी वजह से में मन ही मन बहुत खुश था। अब वो मुझसे पूछने लगी कि तुम मेरे लिए क्या क्या लाए हो? तब मैंने उसको कहा कि तुम थोड़ा सा इंतजार करो वो सब कुछ में तुम्हे जरुर बताऊंगा और दिखा भी दूंगा। अब मैंने उसको बोला कि तुम बड़ी खुश लग रही हो यह ड्रेस भी तुम पर बहुत जम रही है आज तुम्हारा बिजली गिराने का इरादा लग रहा है? वो काले रंग के बिना बाह का सूट पहने हुए थी और उसने आज बहुत ही सेक्सी कपड़े पहने हुए थे उन कपड़ो में वो बड़ी कमाल की सेक्सी लग रही थी। दोस्तों वो जब चलती तब उसके बूब्स ऊपर नीचे हिल रहे थे जिसकी वजह से वो ज्यादा सेक्सी लग रही थी और अब वो मेरे पास आकर सोफे पर बैठ गई।

फिर मैंने उसके पैरों पर अपने पैर के अंगूठे को फेरना शुरू कर दिया, उसने अपने पैर को दूर किया उसके बाद वो हंसने लगी। अब मैंने उसको कहा कि आज गरमी बहुत ही ज्यादा है और उसने हंसते हुए हाँ कहा। फिर उसने मुझसे कहा कि चलो अब हम भीतर ए.सी. वाले कमरे में चलकर बैठते है, उसने नौकर को ए.सी. चलाने के लिए कहा और ठंडा लाने को कहा और फिर जब नौकर ने वो काम कर दिया, उसके बाद वो उसको बोली कि तुम लोग अब जा सकते हो और उन लोगो को उसने काम से छुट्टी दे दी। फिर मैंने भी अब उसके साथ बैठकर ठंडा पीकर उसके मज़े लिए और तभी उसने उठकर घर का दरवाजा अंदर से बंद किया।

अब वो मुझसे कहने लगी कि आज रविवार था इस वजह से आज में थोड़ा देर से नहाई हूँ। फिर मैंने उसको कहा कि आज सचमुच गरमी कुछ ज्यादा ही है, में बाथरूम में जाकर नहाकर अभी आता हूँ और में उसको यह बात कहकर बाथरूम में चला गया। फिर कुछ देर बाद उसने बाथरूम के पास आकर मुझे टावल और लूँगी बनियान पहनने को दिए और उसी समय मैंने उसका एक हाथ पकड़कर उसको बाथरूम के अंदर खीच लिया और फुवारे को चला दिया, जिसकी वजह से उसके सारे कपड़े भीग गये। अब वो बोली कि यह क्या किया? चलो कोई बात नहीं अब खेल शुरू करो।

फिर मैंने उसको अपनी बाहों में भरकर चूमना शुरू किया और वो सिसकियाँ लेते हुए मुझसे कहने लगी ऊईईईई आह्ह्ह अब बस भी करो तुम्हारी यह बेसब्री कब खत्म होगी? में उसको बोला कि अब तो मेरा काम शुरू हुआ है और इतना कहकर मैंने अपने कपड़े उतारे और उसके भी कपड़े उतारने शुरू किए, भीगे बदन में वो और भी सेक्सी सुंदर लग रही थी। फिर हम दोनों जल्दी ही साथ में नहाए, हम दोनों ने एक दूसरे को साबुन लगाया मसलामसली करने लगे, मैंने उसके बूब्स को मसला उसने मेरे लंड के साथ साथ पूरे बदन को साबुन लगाकर रगड़कर धोया। अब मैंने भी उसके पूरे गरम बदन को मसलकर साबुन लगाया और अच्छी तरह से धोया ऐसा करने में हम दोनों को बड़ा मज़ा और उसके साथ जोश भी आ रहा था।

दोस्तों आज उसकी जांघो के बीच के हिस्से में भी बाल नहीं थे, वो मक्खन की तरह चिकना चमकता हुआ गोरा बदन नजर आ रहा था। अब वो मुझसे बोली कि में बाहर जाकर तैयार होती हूँ, में भी अपने बदन को साफ कर लूँगी। फिर में कुछ देर बाद बनियान पहनकर बाथरूम से बाहर निकला और बाहर उसको देखकर मेरी आंखे खुली की खुली रह गयी, उसने बड़ी ही सेक्सी कपड़े पहने हुए थे।

दोस्तों उसकी उस उमर का मस्त जवानी पर कोई भी असर नहीं था और में इस आकर्षक हुस्न को अपनी ललचाई नजरों से देखता रह गया, उसका वो गोरा गठीला जिस्म, उस पर वो बड़े बड़े झूलते लटकते हुए बूब्स, उसके नशीले होंठ, रस भरे गाल मानो जैसे वो कोई असमान से उतरी परी हो, सुंदरता की एक मूर्त मेरे सामने खड़ी थी। दोस्तों जिसको देखकर में बड़ा चकित हुआ और फिर मैंने उसको कहा कि में तो तेरे इस रूप पर मर जाऊ तुम आज क्या मस्त सुंदर सेक्सी काम देवी लग रही हो, में तुम्हारी इस सुंदरता के बारे में क्या कहूँ? मेरे पास कोई शब्द नहीं है मेरी जान क्यों आज तुम क्या गुल खिलाने वाली हो? अब मेरा लंड तनकर खड़ा था जिसकी वजह से मेरी लूँगी भी ऊपर उठ चुकी थी, वो भी मेरे लंड को देखकर हंसने लगी और अब उसने एक गाउन पहन लिया।

  कॉलेज की दोस्त को अपने कमरे में चोदा - सेक्स स्टोरी हिंदी में

अब वो मुझसे बोली कि पहले कुछ खा पी लो, उसके बाद बैठकर आगे के काम के बारे में विचार करेंगे, मैंने जल्दी से जूस पिया और कुछ बिस्कुट उसको दे दिए, मैंने भी खा लिए और फिर मैंने उसको ताश निकालने को कहा और बोला कि आज हम एक बिल्कुल नया खेल खेलेंगे। अब वो मुझसे पूछने लगी कि कैसा खेल? में उसको बोला कि तुम लाओ तो और वो एक नयी तरह की ताश ले आई वो बहुत अलग ताश थे, उसके बिच में नंगी लड़कियों के सेक्सी फोटो थी।

अब वो मुझसे पूछने लगी क्यों क्या खेलना है? मैंने तीन पत्तो का खेल बताया और उसको कहा कि जो भी इस खेल मे हारेगा वो अपना एक कपड़ा उतार देगा और फिर वो जो भी बोलेगा हारने वाले को वो काम करना होगा। अब वो मेरी बातें शर्ते सुनकर उनको मानकर मेरे साथ वो खेल खेलने के लिए एकदम तैयार हो गई, उसके बाद हमने खेल शुरू किया पहले वो हार गई, उसने अपना गाउन उतार दिया और कुछ देर बाद में हार गया, मैंने अपना बनियान उतार लिया। फिर वो हार गई उसने अब अपना टॉप उतारा, मैंने देखा कि उसके नीचे क्या मस्त आक्रति वाला सेट था में उसको अपनी चकित नजरों से देखता रह गया।

फिर में कार्ड्स को देखने लगा और में मन ही मन में सोचने लगा कि में अब कैसे जीतू? वो बोली कार्ड्स में क्या देख रहे हो? मैंने उसको कहा कि जब खुद अप्सरा ही मेरे सामने बैठी हो तो इन ताश की तस्वीरों को कौन देखेगा? फिर वो हार गई उसने अब एक पतला सा हल्के गुलाबी रंग का हल्का गाउन के नीचे का जुगाड़ भी खोल दिया और अब मैंने देखा कि उसके अंदर काले रंग की जालीदार पेंटी और जालीदार ब्रा थी और फिर वो हारी तो उसने अपनी पेंटी को उतार दिया।

फिर जिसकी वजह से अब तो वो सिर्फ़ काले रंग की ब्रा में थी जो उसके गोल गोल बड़े आकार के बूब्स को ठीक तरह से ढक भी नहीं पा रही थी उसके वो गोरे गोरे उभरते हुए बूब्स उस पर डोरी वाली ब्रा क्या मस्त हसीन लग रही थी। अब मैंने उसके बूब्स को पकड़ना चाहा, लेकिन वो तुरंत पीछे हट गई और बोली कि खेल अभी बाकी है, बीच में नियत खराब करना अच्छी बात नहीं है और वो इस बार फिर से हार गयी। अब उसने अपनी लेगी को भी उतार दिया जिसकी वजह से अब तो वो डोरी वाली पेंटी और ब्रा बस यही उसके शरीर पर बचे हुए थे और में सिर्फ़ लूँगी में था मेरा लंड बार बार ऊपर नीचे हो रहा था और वो एकदम तनकर खड़ा हो गया था वो मेरे खड़े लंड को देखकर बोली तुम अब इसको सम्भालो यह तो बड़ा ही बेशरम हुए जा रहा है।

अब मैंने उसको कहा कि तुमने ही तो इसको इतना बेशरम बनाया है और इस बार जैसे ही में हारा उसने मुझसे कहा कि मुझे उसकी ब्रा को उतारना होगा, लेकिन वो भी बिना हाथ लगाए। अब मैंने अपने मुहं से उसकी ब्रा और बूब्स का मुवायना किया। फिर उसके बाद कमर के पीछे अपने मुहं को ले जाकर दाँत से ब्रा की डोरी को एक ही झटके से खोल दिया, जिसकी वजह से उसके दोनों बूब्स उछलकर बाहर आ गये।

अब में उसके ऐसे सुंदर और बड़े आकार के उठे हुए बूब्स को देखकर मधहोश हुआ जा रहा था। अब अगली बार में हार गया, उसने मेरी लूँगी के ऊपर से लंड को पकड़ा और वो मुझसे बोली कि अब इसे तुम कब तक पर्दे के पीछे छुपाकर रखोगे और उसने इतना कहकर लूँगी को पकड़कर एक ज़ोर का झटका देकर खीच दिया। अब में एक बार फिर से हारा गया, वो अपने बूब्स की तरफ इशारा करके मुझसे कहने लगी कि तेरे पास तो अब कोई कपड़ा नहीं बचा इसलिए तू अब चूस ले इनका दूध और फिर में भी ज़ोर ज़ोर से उसके बूब्स को बारी बारी से दोनों हाथ से दबा दबाकर चूसने लगा।

दोस्तों उसके बूब्स आकार में इतने बड़े थे कि मेरे हाथ में वो पूरी तरह से नहीं आ रहे थे और उसको मेरे साथ यह खेल खेलने में बड़ा मज़ा आ रहा था, वो जोश में आकर मुझसे बोली कि हाँ और ज़ोर से चूसो आह्ह्ह्ह उफफ्फ्फ्फ़। फिर में और ज़ोर ज़ोर से दबाकर उसके बूब्स को चूसने लगा और वो सिसकियाँ भरने लही आहहह्ह ऊऊईईई हाँ आज तुम्हे जितना भी इसका दूध पीना है जी भरकर पिलो। अब में बिना रुके उसके 36 इंच के सेक्सी बूब्स को और ज़ोर से दबाने लगा और में उनको ज़ोर से चूसने लगा दर्द और जोश की वजह से वो चीखने लगी। अब वो मुझसे कहने लगी ऊफ्फ्फ् हाँ चूसो और ज़ोर से इसका सारा रस पी जाओ आईईईईई इसका सारा दूध ऊऊहह निचोड़ लो।

फिर मैंने उसको कहा कि अब थोड़ा इंतजार तो करो, अब यह हमारे खेल का आखरी मौका था और अब में फिर से हार गया और उसने इस बार अपनी पेंटी को बिना हाथ लगाए मुझे उतारने की शर्त रखी। दोस्तों उसकी पेंटी में भी एक डोरी थी जो उसकी कमरे से बँधी हुई थी, वाह क्या सेक्सी पेंटी थी वो उसको ज़्यादा सेक्सी लग रही थी। अब मैंने अपने मुहं से और दांतों से तुरंत ही उस डोरी को पकड़कर खीचकर तुरंत ही पेंटी को खोल दिया और फिर में उसकी गोरी चूत के दर्शन करके उस पर एक ज़ोर से चुम्मा किया।

दोस्तों वो चूत वाह क्या मस्त रसभरी थी? उसका पूरा बदन कांपने लगा था और वो सिहर उठी कहने लगी प्लीज अब चोदो भी नहीं तो में ऊओह्ह्ह् मेरी जान मुझे बड़ा मज़ा आ रहा है। अब मैंने उसको कहा कि अब हम रुककर कुछ खाते है उसने फ्रेंच फ्राइस फिंगर चिप्स निकाला, उसको हम दोनों खाने लगे मैंने एक चिप्स का टुकड़ा अपने दोनों होंठो के बीच में रखा और अपने होठों को उसकी तरफ बढ़ा दिया। अब उसने भी चिप्स का आधा हिस्सा जो मेरे मुहं से बाहर था, उसको अपने होठों को आगे करके खा लिया और मैंने उसके होठों को चूसा, हम ऐसे ही अब एक दूसरे को चिप्स का मज़ा देते रहे।

फिर मैंने केक निकाला और उसको भी हम दोनों ने एक दूसरे के होठों से खाकर खत्म किया उस केक के साथ बीच बीच में एक दूसरे के होठों को चूसने में हम दोनों को जोश के साथ बड़ा मज़ा भी आ रहा था। फिर हमने केक को मज़े लेकर खाया और मैंने उसको कहा कि में नूडल्स भी लाया हूँ, हम इसको भी खाते है यह नूडल्स का एक पूरा लंबा टुकड़ा है, यह इसकी ख़ासियत थी कि एक सिरे से इसको खाते जाओ तो धागे की तरह मुहं में लेते लेते दूसरे सिरे पर आप अपने आप पहुँचोगे।

अब वो सुनकर खुश होकर बोली अच्छा उसने पैकिट खोला और नूडल्स का एक सिरा पकड़कर अपने मुहं में ले लिया तो वो खीचता चला गया। फिर अचानक से उसने मेरे लंड की तरफ देखा जो बार बार उछाले मार रहा था और अब उसने मुझसे कहा कि आज में इसको बाँधती हूँ यह बहुत बदमाश हो गया है और फिर वो उस नूडल्स को रस्सी की तरह मेरे लंड पर लपेटने लगी। अब उसने पूरे लंड को ऊपर से नीचे तक नूडल्स से लपेट दिया और जब वो लंड को लपेट रही थी तब भी मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था।

  अनजान सेक्सी हाउस वाइफ की गांड में मेरा वीर्य पतन हुआ हिंदी सेक्स स्टोरी

फिर वो हंसकर कहने लगी अच्छा तो यह बात है, उसने मेरे लंड को अपने मुहं में डालकर ज़ोर से चाटना और नूडल्स को एक सिरे से खाना शुरू किया और बीच बीच में वो मेरे लंड को अपनी जीभ से चाट भी रही थी और कभी अपने दाँत से काट भी रही थी वाह क्या मज़ा था? जो मुझे पहले कभी नहीं मिला। अब मैंने उसको कहा कि तुम अब मुझे भी खाने दो, वो बोली कि हाँ खाओ ना मेरी जान तुम्हे किसने मना किया है? यह सब कुछ तुम्हारा ही है।

फिर उसके मुहं से वो जवाब सुनकर मैंने उसको अपनी गोद में उठाकर टेबल पर लेटा दिया और अब नूडल्स की कटोरी को उसके पेट पर डाल दिया और अब में उस नूडल्स के एक सिरे को अपने मुहं से खीचकर खा रहा था जो उसकी चूत की फाँक से होकर आ रहा था। अब उसको जो नूडल्स का गुदगुदा स्पर्श मिल रहा था उसकी वजह वो तो बिल्कुल मस्त हो गयी थी वो मुझसे बोली कि प्लीज आह्ह्ह्ह थोड़ा जल्दी जल्दी खींचकर खाओ बहुत मज़ा आ रहा है चूत के बीच से वो मुलायम नूडल्स डोरी की तरह उसकी चूत के होठों को रगड़ देते हुए खीच रहा था जिसकी वजह से वो मस्ती में बड़ी ज़ोर से हिल रही थी। अब वो बड़ी मस्त हो गई और मुझसे कहने लगी वाह क्या मस्त मजेदार विचार है आह्ह्ह्ह उम्म्म्म मज़ा आ गया।

फिर में भी बड़ा मस्त मज़ा लेकर नूडल्स को उसकी चूत के बीच से खीचकर खाए जा रहा था और उसको खाते हुए में उसकी चूत को अपनी उँगलियों से दबा भी रहा था। दोस्तों इस वजह से उसके मुहं से ऊओह्ह्ह्ह यह कैसा मज़ा है इसको में तुम्हे किसी भी शब्दों में बता नहीं सकती और फिर नूडल्स के ख़तम होने के बाद मैंने पूछा और क्या खाऊ? वो बोली कि जो भी तुम्हे खाना है खा लो में पूरी तुम्हारे सामने ही हूँ और वो मुझसे बोली कि अब तुम मुझको बेडरूम में ले चलो मेरे राजा।

अब में भी उनकी प्यासी तरसती हुई चूत को चाटने और उसकी चुदाई करने के लिए बहुत बेताब था और फिर कुछ देर बाद हम दोनों अब 69 के आसन में आ गये, कुछ देर हम ऐसे ही करते रहे। फिर हम दोनों पूरी तरह से जोश में आकर मज़ा ले रहे थे, मुझसे मेरी वो साली ज़ोर ज़ोर से कह रही थी आहह्ह्ह्ह मेरी जान मुझे तुम्हारे लंड को चूसने से बहुत मज़ा आ रहा है तुम अब मेरे बूब्स के निप्पल को ज़ोर से दबाओ ना आह्ह्ह्ह हाँ ज़ोर लगाकर दबाओ। अब हम दोनों बहुत देर तक एक दूसरे को चाटते चूसते रहे और फिर मैंने उसको सीधा लेटा दिया और उसके दोनों पैरों को ऊपर उठाकर अपना पांच इंच का लंड उसकी चूत में डालकर में उसकी चुदाई करने लगा।

फिर थोड़ी देर के बाद जब उसको ज्यादा मज़ा आने लगा, तब उसने मुझे पीछे की तरफ धक्का दे दिया और वो खुद मेरे ऊपर आ गई। अब में सीधा लेटा हुआ था और मेरी साली मेरे ऊपर बैठकर ज़ोर ज़ोर से उछल रही थी और वो मुझसे कह रही थी वाह मेरी जान मुझे आज तुमसे अपनी इस चूत की चुदाई करवाने में बहुत मज़ा आ रहा है, तुम मुझे ऐसे ही हर दिन प्यार किया करो ना, हाँ तुम बहुत अच्छी चुदाई करते हो मुझे तुम्हारे साथ चुदाई के असली मज़े आते है तुम अपनी तरफ से कोई भी कमी चुदाई में बाकि नहीं छोड़ते, इसलिए मेरी चूत इस तुम्हारे लंड को लेने के लिए हमेशा तैयार रहती है।

दोस्तों अब उसके एक बूब्स का निप्पल मेरे मुहं में था और उसके दूसरे बूब्स को में ज़ोर से दबाकर निचोड़ रहा था और मेरा लंड उसकी गीली कामुक चूत के अंदर उन तेज धक्को के साथ अंदर बाहर हो रहा था। अब मैंने उसको कहा उफ्फ्फ हाँ हाँ और करो प्लीज मुझे और मज़े दो ऊईईई आईईई तुम मुझे बहुत प्यारी लगती हो तुम अपनी बहन से ज्यादा सेक्सी और सुंदर भी हो तुम्हारे बूब्स तू बहुत प्यारे है। फिर वो मेरी आँखों में देखकर बोली तुम्हारा लंड भी बहुत प्यारा मज़े देने वाला है तुम बहुत सेक्सी हो। अब मैंने उसको कहा कि तू मेरा सारा लंड ले हाँ में तो तुझे बड़े प्यार से चोदकर तेरी प्यास को बुझाकर तेरी इस आग को आज बुझा दूंगा।

अब मेरी रंडी साली मुझसे बड़ी ही सेक्सी अदा में बोली हाँ में तो तुम्हारी सब कुछ हूँ प्लीज मुझे जल्दी से पूरा करो मेरी रंडी साली मज़े दे दो। फिर मैंने चिकनी साली को कहा कि तुम अब थोड़ा सा सबर करो, लेकिन तभी उसने दोबारा से झपटकर मेरा लंड पकड़ लिया और मेरी रंडी साली लंड को मसलने लगी में भी उसकी गर्दन से नीचे अपने हाथ को घुमाकर सहला रहा था जिसकी वजह से उसके मुहं मेरी रंडी साली ज़ोर से सिसकियाँ निकलने लगी, मेरी रंडी साली मुझसे कहने लगी आह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ में बहुत तड़प रही हूँ चूत चुदवाने के लिये प्लीज जल्दी से इस मेरी चूत की खुजली को तुम आज शांत कर दो ऊऊऊऊहह आह्ह्ह्हह्ह प्लीज करो। अब मैंने चिकनी साली को उठा लिया और बेड पर एकदम सीधा लेटा दिया और उसके दोनों गोरे पैरों को मैंने पूरा फैला दिया जिसकी वजह से उसकी गुलाबी चूत मेरे सामने खुल जाए।

फिर मेरी रंडी साली गरम गरम मलाई से भरपूर चूत मुझे अब जन्नत सी लग रही थी, जिसको अब चोदना बहुत ज़रूरी हो गया था और मैंने अपना लंड पकड़कर उसकी चूत के मुहं पर रखकर चूत को अपने लंड के टोपे से सहलाया और ऊपर नीचे रगड़ा। अब मेरी रंडी साली फिर से आह्ह्ह ऊईईई कर उठी और फिर मैंने एक धीरे से ज़ोर का झटका लगा दिया जिसकी वजह से मेरा लंड फच की आवाज़ के साथ उसकी गरम गरम चूत के अंदर तक समा गया।

अब मेरी रंडी साली अपनी दोनों आखें बंद करके मस्त होने लगी, में चिकनी साली को बोला तुम बहुत मस्त मस्त सेक्सी चीज़ हो और मेरी रंडी साली मुस्कुराने लगी और कहने लगी ह्म्‍म्म्मम मेरी रंडी साली तो में हूँ ही। अब मैंने अपने लंड को और ज़ोर से उसकी चूत में दबाया और अपने धक्को की गति को पहले से ज्यादा बढ़ा दिया जिसकी वजह से मेरा लंड अब जल्दी जल्दी से उसकी चूत में अंदर बाहर होने लगा।

अब मेरा लंड पूरे जोश से अंदर बाहर आ जा रहा था जिसकी वजह से उसके बूब्स भी हिल रहे थे, उसके दोनों बूब्स को मैंने अपने हाथ में भरकर अब उनको मसलना शुरू कर दिया था और उनके निप्पल को भी में अपने होंठो से चूसने लगा। अब मेरी रंडी साली बोली ऊओह्ह्ह्ह वाह यार बहुत मज़ा आ रहा है, हाँ ऐसे ही ज़ोर से धक्के देकर चोदो अपनी इस प्यासी साली को तुम आज इसकी इस चूत की चुदाई का पूरा मज़ा ले लो।

  सुहागरात का मजा गाँव की विधवा लड़की के साथ - सेक्स स्टोरी हिंदी में

दोस्तों मेरी साली की उस जवानी का भरपूर मज़ा लेकर दस मिनट तक अपने गरम लंड के इंजेक्षन से में उसकी चूत को मेरी रंडी साली आनंद देता रहा जिसकी मेरी रंडी साली अब तक मुझसे उम्मीद कर रही थी। फिर में चिकनी साली को वैसे ही मज़े दे रहा था और अब मेरी रंडी साली मुझसे कहने लगी आह्ह्ह ऊईईईईई उफफ्फ्फ्फ़ प्लीज अब तुम बस करो वरना में मर ही जाउंगी क्या मस्ती आहह्ह्ह्ह में आज अंदर तक हिल गयी हूँ।

फिर मैंने उसकी चूत से अपने लंड को बाहर निकाला और अपना गरम गरम वीर्य उसके ऊपर और नाभि के छेद में डाल दिया और में उसके ऊपर लेट गया, कुछ देर बाद मेरी रंडी साली एक बार फिर से मेरे लंड को अपने हाथ से पकड़कर आगे पीछे हिलाने लगी।

फिर कुछ देर मेरे लंड के साथ उनके यह करने से मेरा लंड दोबारा से तनकर खड़ा होने लगा, में बेड पर सीधा लेट गया और मेरी रंडी साली मेरे ऊपर आ गई उसके बूब्स नीचे झूल रहे थे और मैंने अपने मुहं से चूसना शुरू किया। अब में झटके से चूस रहा था मेरी रंडी साली ज़ोर से सिसकियाँ ले रही थी मेरी रंडी साली बोली हाँ ऐसे तो मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा है।

अब मैंने पूरा झटका देकर उसके बूब्स को चूसा अपने हाथ से ज़ोर से दबाया भी और बीच बीच में उसकी चूत में भी ऊँगली कर देता जिसकी वजह से मेरी रंडी साली अपने मुहं से सीईईइ आह्ह्ह कर रही थी। अब उसकी बारी थी और उसने बड़ी सेक्सी अदा से मेरी आँखों में देखा और लंड को झटके से पकड़कर अपने होंठो के पास ले गई मेरी आँखों में देखते हुए प्यार से लंड के टोपे पर चुम्मा किया और मेरी रंडी साली बोली आह्ह्ह तुम बहुत मेरी रंडी साली हो उसने एक नज़र लंड को देखा और अपने मुहं में डाल लिया।

अब मेरी रंडी साली मेरे लंड को लोलीपोप की तरह चूसने लगी मेरा पूरा लंड अब उसके मुहं में था और मेरी रंडी साली अब कभी धीरे धीरे कभी ज़ोर ज़ोर से मेरे लंड को चूस रही थी। अब उसके ऐसा करने से मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था और फिर अपने हाथ में लेकर मसल भी रही थी मेरी रंडी साली मेरे लंड से खेले जा रही थी।

अब मेरा लंड कुछ देर बाद एक बार फिर से फूंकार भरने लगा मेरी रंडी साली पूरा टाइट होकर तैयार था, मेरी रंडी साली कहने लगी मेरे सेक्सी राजा एक बार फिर मेरी चूत में यह इंजेक्षन लगा दो ना और गिदगिड़ाते हुए बोली मेरे बलमा तुम मेरे ऐसा जो इंजेक्षन लगाए हो उसका नशा मुझे अभी भी है। अब मैंने उसके बूब्स को दबाकर उसका हॉर्न भी ज़ोर से बजा दिया और मैंने भी बूब्स को दबाते हुए चिकनी साली को कहा तेरा बलम ऐसा जो हॉर्न भी बजाए फिर भी तू घड़ी घड़ी क्यों मुझसे बोल रही है।

अब मेरी रंडी साली बोली कि प्लीज अब जल्दी से इंजेक्षन लगा दो मैंने तुरंत ही अपने तैयार शेर को जैसे ही उसकी चूत की गुफा में जल्दी से अंदर कर दिया और में अब पूरी मस्ती में आकर चिकनी साली को धक्का देने लगा ऊह्ह्ह्ह आह्ह्ह्ह मेरी रंडी साली और भी ज़ोर से बोली हाँ करो ना आज दिखो दो कितना दम है? और मेरी रंडी साली भी नीचे से अपने कूल्हों को उछालने लगी और मज़ा करने लगी।

अब चिकनी साली को पूरा मज़ा आने लगा था और मेरी रंडी साली आअहह की आवाजे निकाल रही थी उसने अपने दोनों हाथ को मेरी कमर पर रख दिया और मैंने अपने धक्को की गति को बढ़ा दिया। फिर में उसके दोनों बूब्स को हाथों में लेकर ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने लगा, मेरी रंडी साली मुझसे कहने लगी हाँ और ज़ोर से धक्के देकर चोदो पूरा लंड अंदर तक डालो मुझे पूरा मज़ा दो आह्ह्ह्ह उफ़फ्फ़ प्लीज में ज़ोर से चोदो।

अब में इस तरह की बातें सुनकर और भी जोश में आ गया, में ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चिकनी साली को चोदने लगा मेरी रंडी साली बोली ऊओह्ह्ह्ह तुमने यह क्या जादू कर दिया है? अब तो में असमान में उड़ रही हूँ अहह ऐसा मज़ा में सारी जिंदगी याद रखूँगी मेरी रंडी साली उठकर मेरे होंठो पर चिपक गई और बोली डार्लिंग में तुमसे बहुत प्यार करती हूँ, अब तुम मेरी बहन के नहीं मेरे भी पति हो तुम मुझे हर दिन चोदा करो ना।

अब मैंने चिकनी साली को कहा कि हाँ में अपनी प्यारी साली को हर दिन इस तरह से ही मज़े देकर चोदा करूंगा, उसके कान में कहा कि हाँ मेरी रानी तुम भी आज से मेरी पत्नी हो और फिर मैंने जल्दी से उनकी गोरी मसल जाँघो को दूर किया। अब मेरी रंडी साली शांत हो चुकी थी और हम दोनों एक दूसरे की बाहों में लिपटकर लेट गये और मैंने चिकनी साली को कहा कि मेरी जान आज तो मज़ा आ गया, में ऐसा मज़ा हमेशा तुम्हारे साथ लेना चाहता हूँ।

फिर में चिकनी साली को एक ज़ोरदार चुम्मा करके उसके बदन से अलग हुआ और फिर बाथरूम में जाकर मैंने अपने लंड को पानी डालकर साफ किया और उसके बाद अपने कपड़े पहन लिए मेरी रंडी साली भी कपड़े पहनकर एकदम पहले जैसी शांत हो गयी। फिर इतने में दरवाजे पर लगी घंटी बजी जिसकी आवाज को सुनकर मेरी रंडी साली हंसने लगी और कहने लगी हमने सब कुछ एकदम ठीक समय पर खत्म किया, मेरी जान में तुमसे बहुत प्यार करती हूँ तुम बहुत अच्छे हो आज तुमने मुझे पूरी तरह से संतुष्ट बहुत खुश कर दिया है, में ऐसे मज़े तुमसे दोबारा भी लेने की उम्मीद करती हूँ और तुम हमेशा मुझे ऐसे ही जोश में आकर चोदते रहना।

अब मैंने भी चिकनी साली को कहा कि हाँ तुमसे बहुत प्यार करता हूँ, तुमने भी मुझे अपनी तरफ से बड़ा मज़ा दिया इस चुदाई में मेरा पूरा पूरा साथ दिया, जिसको पाकर में भी बहुत खुश हूँ। दोस्तों उसके बाद मेरी रंडी साली उठकर दरवाजा खोलने चली गई और कुछ देर उसके साथ हंसी मजाक बातें करने के बाद में अपने घर पर चला आया। दोस्तों यह थी मेरी अपनी साली की चूत चुदाई की सच्ची हिंदी चुदाई की कहानी