दोस्तों आज की इस कामुकता से भरी अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरी में आप पड़ेंगे की कैसे गैर मर्द ने चोदा मेरी टाइट चूत को अपने लंबे मोटे लंड से मेरे नामर्द शराबी पति के कारण :- दोस्तों मैं एक शादी शुदा महिला हूँ मगर मेरा पति एक नंबर का शराबी है. मेरे शराबी पति के गुस्से की वजह से मैं उनसे बहुत ज्यादा परेशान हो गई थी मेरी शादी को इतने साल हो जाने के बाद भी वह अभी तक मेरे प्यार को नहीं समझ पाए थे. मैं उनके लिए बहुत कुछ करती लेकिन उसके बावजूद भी उन्हें कभी मेरी कदर नहीं हुई।

मेरी नामर्द पति को शराब की बहुत गंदी आदत थी जिसकी वजह से हर रोज हमारे घर पर झगडे होते थे, झगड़े होने की वजह से मेरा मेरे शराबी पति के प्रति रवैया पूरी तरीके से बदल चुका था और मुझे बिल्कुल भी उनसे अब किसी भी प्रकार की अपेक्षा नहीं थी. वह आए दिन मुझ पर हाथ उठाया करते थे। मेरे देवर का नेचर बहुत अच्छा था वह मुझे बहुत ही ज्यादा सपोर्ट करते थे उन्होंने कभी भी मुझे पैसे की तकलीफ नहीं होने दी और हमेशा ही वह मेरी मदद करते।

गैर मर्द ने चोदा मेरी टाइट चूत को शराबी पति के कारण अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरी

गैर-मर्द-ने-चोदा-मेरी-टाइट-चूत-को-शराबी-पति-के-कारण-अन्तर्वासना-हिंदी-सेक्स-स्टोरी

हम लोग साथ में ही रहते थे लेकिन मेरे शराबी पति कुछ भी काम नहीं करते थे वह सिर्फ शराब के आदी हो गए, मेरी देवरानी भी मुझे हमेशा समझाती थी की दीदी आप चिंता मत कीजिए एक दिन जरूर भाई साहब बदल जाएंगे, मैं उसे कहती कि मैं भी इसी आस में हूं कि कब उनके व्यवहार में परिवर्तन आए। एक दिन हम लोग आंगन में बैठ कर बातें कर रहे थे मेरी देवरानी मुझे कहने लगी दीदी कुछ दिनों के लिए आप मेरे साथ मेरे घर चलिए.

मैंने उसे कहा कुछ दिनों के लिए तो आना संभव नहीं है पर हम लोग एक दिन के लिए तुम्हारे घर चलते हैं, वह कहने लगी ठीक है एक दिन के लिए हम लोग मेरे घर चलते हैं और अगले दिन वापस लौट आएंगे. मेरी देवरानी का मायका हमारे घर से कुछ दूरी पर ही है, मैं जब उसके साथ उसके मायके गई तो उसके माता-पिता का व्यवहार बहुत अच्छा है वह लोग मुझे अपनी बेटी ही समझते हैं, वह लोग मुझसे मेरे शराबी पति के बारे में पूछने लगे और कहने लगे क्या उनके व्यवहार में बदलाव आया है?

मैंने उन्हें कहा वह तो अब शराब के आदी हो चुके हैं और उनसे यदि कोई सही तरीके से बात करता है तो उन्हें बहुत ही क्रोध आ जाता है इसलिए मैं उनसे बिल्कुल भी बात नहीं करती। हम लोग बैठ कर बात कर रहे थे तभी एक लड़का आया और वह कहने लगा चाचा जी कैसे हैं??? मैंने उस जवान लड़के को पहली बार ही देखा था मुझे नहीं पता था कि वह कौन है मगर उसे देखते ही मेरी अन्तर्वासना भड़क उठी थी. मेरी देवरानी ने मुझे उससे मिलाया उसका नाम राहुल है. राहुल मुझे कहने लगा मैं आपको बहुत अच्छे से जानता हूँ. मैंने उससे कहा लेकिन मैं तुमसे पहली बार मिली हूं मैंने तुम्हें आज से पहले कभी नहीं देखा.

वह कहने लगा हां शायद आपने मुझे नहीं देखा लेकिन सुजाता आपकी बहुत ही तारीफ करती हैं सुजाता मेरी देवरानी का नाम है। उस गैर मर्द राहुल को मेरे बारे में सब कुछ पता था और जब मैंने उससे उस दिन बात की तो वह मुझे बहुत ही समझदार लगा, उसने मुझे बहुत समझाया और कहने लगा आप चिंता मत कीजिए आपके दुख को मैं अच्छे से समझता हूं। उस गैर मर्द के साथ बात कर के मुझे एक अपनापन सा लगा और मैं एक शादी शुदा महिला होने के बावजूद उस गैर मर्द राहुल के प्रति चोदा चादी करवाने के लिए आकर्षित होने लगी.

वापस घर आते वक्त मैंने उस गैर मर्द राहुल से कहा कि तुम भी मुझसे मिलने के लिए समय निकलकर हमारे घर आ जाया करो. वह कहने लगा ठीक है मैं देखता हूं जब मुझे समय मिलेगा तो मैं आपसे मिलने आ जाऊंगा और अगले दिन ही हम लोग वहां से चले गए, कुछ दिनों बाद राहुल हमारे घर पर आया और जब वह घर पर आया तो मैंने उसे कहा तुमने बहुत अच्छा किया जो तुम मुझसे मिलने आ गए मैं तुम्हें याद ही कर रही थी।

राहुल के साथ बात कर के मुझे एक अपनापन सा लगता है, राहुल भी मुझे अच्छे से समझने लगा हम दोनों के बीच अब प्यार पनपने लगा था मुझे मेरे शराबी पति से कोई भी मतलब नहीं था लेकिन यह बात हम दोनों ने किसी को भी नहीं बताई थी मुझे डर था कि कहीं यह बात मेरी देवरानी को पता चलेगी तो वह मेरे और राहुल के बारे में क्या सोचेगी लेकिन मेरे पास और कोई चारा नहीं था मुझे भी किसी का प्यार चाहिए था जो कि उस गैर मर्द राहुल से मुझ शादी शुदा महिला को मिल रहा था.

राहुल मुझ अबला नारी का बहुत ही अच्छे से ध्यान रखता है और जब भी मेरे शराबी पति मुझ पर हाथ उठाते तो उस समय मैं राहुल को फोन करती थी राहुल से बात कर के और अपने दुःख दर्द बाँट कर मुझे बहुत अच्छा लगता. अब मैं राहुल के साथ ही अपना आगे का जीवन बिताना चाहती थी लेकिन मुझे डर भी था कि सब लोग मेरे बारे में सोचेंगे की मैंने अपनी हवस शांत करने के लिए एक बच्चे को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया है क्योंकि राहुल की उम्र मुझसे छोटी है और मैं नहीं चाहती थी कि मेरी वजह से राहुल पर सब लोग उंगलियां उठाएं, मुझे बहुत डर भी था।

राहुल कहने लगा कविता तुम चिंता मत करो मैं तुम्हारा साथ हमेशा देने के लिए तैयार हूं और मुझे अब किसी भी हालत में तुमसे शादी करनी है और तुम्हारे साथ ही आगे का जीवन बिताना है। मुझे वो गैर मर्द राहुल बहुत ही अच्छा लगने लगा था और मैं मेरे आगे का जीवन जसी गैर मर्द के साथ गुजारना चाहती थी लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा था कि कैसे मैं राहुल के साथ अपना जीवन व्यतीत करूं क्योंकि मैं बिल्कुल भी नहीं चाहती थी कि राहुल को मेरी वजह से सब लोग गलत कहे। हम दोनों के बीच कभी भी अवैध सेक्स संबंध नहीं बने थे.

फिर एक दिन जब हमारे घर पर कोई नहीं था उसस दिन वो गैर मर्द राहुल मेरे घर पर आ गया वह कहने लगा कविता आज मुझे तुम्हारे साथ चोदा चादी करने का दिल कर रहा है यदि तुम्हारी इच्छा मेरे साथ अवैध सेक्स संबंध बनाने की नहीं है तो बोल दो मैं तुम्हारी  जोर जबरदस्ती चुदाई नहीं करना चाहता हूँ. मैंने उस गैर मर्द से कहा आज तुम मेरे साथ चोदा चादी करने के लिए बहुत जोश में दिखाई दे रहे क्या बात है आज क्या खाकर आये हो मेरी जान??? वह मुझे कहने लगा आज पूछो मत मेरे एक मित्र ने मुझे ब्लू फिल्म दिखा दी तो मुझसे बिल्कुल नहीं रहा गया और मैं तुम्हारी चूत और गांड की चोदा चादी करने तुम्हारे घर चला आया।

मुझे उस जवान लड़के के साथ अवैध सेक्स संबंध बनाने में कोई आपत्ति नहीं थी क्योंकि मेरे और मेरे शराबी पति के बीच सेक्स नाम की जैसे कोई चीज ही नहीं थी। मैंने उसके सामने अपने सारे कपड़े खोल दिया जब उसने मेरे नंगे बदन को देखा तो वह मेरे बदन को ऊपर से लेकर नीचे तक चाटने लगा। उसने अपनी उंगली को जैसे ही मेरी चूत पर लगाया तो मेरे अंदर से करंट पैदा होने लगा। मैं उस वक्त खड़ी थी उसने मेरे होठों को बड़े अच्छे से चूसा, जब मेरे होठों पर उसने अपने दांत के निशान मार दिए थे.

मैं जो लिपस्टिक अपने होंठो पर लगाए हुए वो उस जवान लड़के के होठों पर भी लग गई। जब मैंने उसे कहा तुम मुझे बिस्तर पर लेटा दो उसने मुझे बिस्तर पर लेटा दिया। उसने मेरे दोनों पैरो को खोलते हुए मेरी टाइट चूत को अपनी जीभ से चाटनी शुरू कर दी, वह गैर मर्द अपनी जीभ से मेरी चूत को बहुत अच्छे से चाट रहा था। काफी देर तक उसने मेरी चूत का रसपान किया जब मेरी चूत से ज्यादा ही पानी का रिसाव होने लगा तो मैंने उसके लंड को पकड़ते हुए अपनी चूत पर लगा दिया। उसने भी अपने लंड को एक ही झटके में मेरी योनि के अंदर घुसा दिया। वह जिस प्रकार से मुझे धक्के मार रहा था मुझे बहुत अच्छा महसूस होने लगा उसने मेरे दोनों पैरों को चौड़ा करते हुए मेरी जांघो को अपने हाथों में पकड़ लिया।

मैंने उस गैर मर्द से कहा तुम ऐसे ही मजे से चोदते रहो मुझे उस दिन राहुल के साथ सेक्स करने में बहुत आनंद आ रहा था। वह लगातार तेज गति से मुझे चोद रहा था कुछ समय बाद जब उसका वीर्य पतन हो गया तो वह मुझसे लिपट कर लेट गया था। वह कहने लगा मैने आज तुम्हारे साथ पहली बार सेक्स किया है इसलिए मैं तुम्हें कुछ गिफ्ट देना चाहता हूं। मैंने उसे कहा तुम भला मुझे क्या गिफ्ट दोगे।

वह गैर मर्द कहने लगा मैं तुम्हारे लिए कुछ लेकर आया हूं उसने मुझे एक सोने की अंगूठी पहनाई और कहां यह मैं तुम्हारे लिए लाया हूं मैंने काफी समय से पैसे जमा किए थे मैने सोचा मैं तुम्हें कुछ दे दू। जब उसने मुझे सोने की अंगूठी पहनाई तो मैंने भी उसे कहा मैं तुम्हें कुछ देना चाहती हूं। मैंने उसके लंड को हिलाते हुए दोबारा खड़ा कर दिया मैने तब तक उसके लंड को संकिग किया जब तक उसके लंड का पूरा पानी मैंने निकाल नहीं दिया। अपने लंबे मोटे लंड से मुझे एक रंडी की तरह चोकर वह गैर मर्द इतना ज्यादा खुश हो गया वह कहने लगा मैं अब तुम्हारे बिना एक पल नहीं जी सकता मुझे रोज तुम्हारी चूत चोदने के लिये और गांड मारने के लिए चाहीये।

मैंने उसे कहा मैं भी तुम्हारे लंड के बिना एक पल नहीं रह सकती लेकिन मेरी भी मजबूरी है। हम दोनों एक दूसरे से मिलते हैं और एक दूसरे के साथ सेक्स संबंध बनाते हैं लेकिन मैं अब भी राहुल के साथ अपना पति व्रता जीवन जी रही हूं और समाज की नजरो में ऐसे ही रहने तो हम रोज रोज सेक्स करा करेंगे,  मै अपने शराबी पति को नही छोड पा रही हूं। दोस्तों यदि आपको मेरी ये अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरी “गैर मर्द ने चोदा मेरी टाइट चूत को शराबी पति के कारण अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरी” पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करना…