Get Indian Girls For Sex

वीर्य का पीला होना – वीर्य का पीलापन के कारण क्या हैं

वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीला होना – वीर्य  का पीलापन के कारण क्या हैं

वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीला होना – वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीलापन के कारण क्या हैं : वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीला होना किसी को भी मानसिक तनाव में डाल सकता है और ये बात भी सही है की बिना किसी कारण के वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के रंग में परिवर्तन नहीं होता| हमारे ब्लॉग के कुछ यूजर ने हमें ईमेल करके पुछा है की वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का रंग पीला क्यों होता है| यह भी देखे:- ससुर या देवर से होना चाहती हूं प्रेगनेंट पति से नहीं हो सकी मेरी चुत चुदाई… हमने उनसे वादा किया था की हम इसके बारे में जरुर लिखेंगे सो आज हम अपना वादा पूरा करने जा रहे हैं|

सामन्यतया, वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का असली रंग सफ़ेद होता है और यदि उसे कुछ देर बहार रख दिया जाए तो उसके रंग और रूप में परिवर्तन देखा जा सकता है जो की सामान्य बात है| वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के रंग में बदलाव होना अक्सर अस्थाई होता हैं और जो अपने आप सही हो जाता है| लेकिन यदि आपके वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के रंग में बदलाव लम्बे समय तक बना रहे तो ऐसा किसी स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी के कारण भी हो सकता है जिसके लिए आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेने की जरुरत होती है| नीचे वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीला होना से सम्बंधित कुछ कारण दिए गए हैं|

ऐसे बहुत से कारण हैं जो की वोर्य का पीलापन के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं जैसे

पुरुष की उम्र बढ़ना

पुरुष की उम्र बढ़ने के साथ वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के रंग में भी बदलाव होता है इसीकारण बड़ी उम्र के लोगों में वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का रंग सफ़ेद न होकर हल्का पीलापन लिए हुए होता है|

आपका खान पान

आप क्या खाते हैं भी आपके वोर्य के रंग को प्रभावित कर सकता है जैसे की सल्फर युक्त भोजन आपके वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) को पीला कर सकता है| सल्फर युक्त भोज्य पदार्थ जैसे लहसुन, प्याज, नट्स, पत्ता गोभी, ब्रोकोल्ली आदि खाने से आपके धातु का रंग पीला हो सकता है| इसलिए यदि आप सल्फर युक्त भोज्य पदार्थ खाते हैं तो आपको पानी अधिक पीना चाहिए ताकि जरुरत से अधिक सल्फर आपके शरीर से बाहर निकल जाए|

मल्टीविटामिन का सेवन

मल्टीविटामिन या supplements का सेवन भी वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के रंग को पीला कर सकता है जो की साधारण सी बात है| इसलिए यदि आप कोई मल्टीविटामिन ले रहे हैं तो आपको चिंता करने की कोई जरुरत नहीं|

लम्बे समय से यौन निष्क्रियता

यदि आप लम्बे समय से सखलित नहीं हुए हैं तो भी वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) पीला हो सकता है जिसका कारण होता है पुराने वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का बाहर निकलना जिसका रंग आमतौर पर पीलापन लिए हुए होता है| ऐसा वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) में पीलेपन के साथ साथ छोटे छोटे वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के पीले दाने भी बहार निकलते हैं|

वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) में पेशाब का मिलजाना

जब पुरुष यौन रूप से उत्तेजित होता है तब उसका पेशाब रुक जाता है लेकिन कभी कभी पेशाब की कुछ बूँदें वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के साथ मिल जाती हैं जिसके फलसवरूप वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का रंग पीला होने की संभावना रहती है|

स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी होना

कुछ स्तिथियों में वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीलापन किसी स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी होने की और इशारा करता है| वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का रंग पीला, हरा या सुन्हेरा होने के पीछे प्रोस्ट्रेट इन्फेक्शन भी जिम्मेदार हो सकता है| इसी प्रकार गाढे और जेली जैसे वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के पीछे हॉर्मोन की कमी जिम्मेदार हो सकती है| लाल, गुलाबी और गहरे भूरे रंग के वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के पीछे प्रोस्ट्रेट में खून आना की समस्या भी जिम्मेदार हो सकती है| इस स्तिथि में आपको डाक्टरी इलाज लेने की जरुरत होती है|

STD होने पर

यौन रोग जैसे chlamydia और gonorrhea होने पर भी वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) के रंग में बदलाव हो सकता है| इन्फेक्शन यानि यौन रोग होने की स्तिथि  में वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) में बदबू होना भी आम बात है|  chlamydia की स्तिथि में अक्सर रोगी को सख्लन के समय दर्द भी होता है| इस स्तिथि में आपको डॉक्टर से इलाज की जरुरत होती है डॉक्टर अक्सर इस रोग के लिए 100 mg doxycycline की खुराख दिन में दो बार ७ दिन के लिए लेने की सलाह देता है|

जैसा की आपने जाना की वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीला होना बहुत बड़ा चिंता का विषय नहीं होता| लेकिन यदि आप लम्बे समय से इस परेशानी से परेशान हैं तो डॉक्टर से इलाज लेना ही सही निर्णय होगा| ये भी ध्यान रखिये की वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का लाल होना शरीर में खून स्त्राव होने की तरफ इशारा करता है इस स्तिथि में आपको तुरंत urologist से मिलना चाहिए|

वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीला होना – वीर्य अर्थात मुठ ( सेक्स के समय लिंग से निकला पानी ) का पीलापन के कारण क्या हैं

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email. इस ब्लॉग की सदस्यता के लिए अपना ईमेल पता दर्ज करें और ईमेल द्वारा नई पोस्ट की सूचनाएँ प्राप्त करें।

Name *

Email *

Advertisement