Get Indian Girls For Sex

इंडियन शादी शुदा औरत मज़बूरी में रंडी बन गयी फोटो देखें

XXX इंडियन शादी शुदा औरत मज़बूरी में रंडी बन गयी फोटो देखें : अर्थलाभ अर्थात पैसो के लिए लडकियों भाभियों और औरतो का गैर मर्द के साथ यौन संबंध बनाना वेश्यावृत्ति कहलाता है और इस प्रकार का काम करने वाली लडकियों और शादी शुदा औरतो को सामान्य शब्दों में रंडी बोला जाता है। दोस्तों पैसे की मज़बूरी के कारण आज कल लडकियाँ रंडी बनती जा रही है. आज कल की लडकियों को इज्जत से जायदा पैसा प्यारा है और वो पैसे के खातिर अपनी इज्जत भी बेचने को तैयार हो जाती है. किसी की माँ मज़बूरी में रंडी बन गयी तो किसी की बहन मज़बूरी में रंडी बन गयी. मर्दों को तो सिर्फ अपने लंड से रंडी की चूत में पानी निकालने से मतलब होता है.

एक शादीशुदा युवती अपने प्रेमी के साथ घर से भाग गयी कुछ दिनों तक तो उसके बॉयफ्रेंड ने उसे एक किराये के कमरे में रखा और उसका रोज बलात्कार करा करता और जव उसके बॉयफ्रेंड का उस लडकी की चुदाई करते करते मन भर गया तो वो उस लड़की का जिस्म पैसे लेकर गैर मर्दों. स्त्री को इंसानों में सबसे अधिक भावनात्मक माना गया है पर हम मर्दों ने उन्हें अपनी हवस मिटाने का साधन मात्र मान लिया है और बस उनकी गांड चूत और बूब्स मार ही अपनी नजरे गडाये रखते है.

इंडियन शादी शुदा औरत मज़बूरी में रंडी बन गयी फोटो देखें

आज के इस आधुनिक यूग में सेक्स ही सबकुछ है. बाप अपनी बेटी को रंडी बना कर चोदना चाहता है तो कंही एक पति ही अपनी पत्नी को रंडी बना कर उसका जिस्म बेचता है. आज हर मर्द को सेक्स करने के लिये रंडी चाहिये भले वो मर्द शादी शुदा ही क्यों ना हो. इंडियन लड़कियों के रंडी बनने के पीछे भी कई कारण होते है. कुछ लडकियाँ और शादी शुदा औरते पैसो के लालच में रंडी बन कर अपने शरीरे का पैसे में सौदा करने लगती है तो कुछ को जबर जास्ती ब्लैकमैल करके रंडी बना दिया जाता है. वंही कुछ ना चाहते हुए पैसे की मज़बूरी में खुद ही रंडी बन जाती है. आज कल खुलेआम होता है शादी शुदा औरतो और लडकियों के जिस्म का कारोबार. बड़े बड़े महा नगरो में चल रहे है शादी शुदा औरतो और लडकियों के जिस्म बेचने के लिये बदनाम बाजार जहां धड़ल्ले से होता है लड़कियों के जिस्म का सौदा.

‘रंडी’ शब्द लड़कियों के लिए ऐसे प्रयोग किया जाता है, जैसे हम किसी को ‘Hello’ कहते हैं. दरअसल, ये लड़कियों के कैरेक्टर को दिया गया एक तमगा होता है, जिसे हम अपने अनुसार ईनाम के स्वरुप दे देते हैं. हंस कर बात करना, छोटी स्कर्ट पहनना, कई लड़कों के साथ दोस्ती करना, रात में छत पर बात करना और बाइक पर लड़कों की तरह बैठना, अगर लड़कियां ऐसा करती हुए पाई गईं, तो मतलब ये है कि वो रंडी हैं. हालांकि, लड़कों को समाज ने हर मामले में विशेषाधिकार दे रखा है. ( इंडियन शादी शुदा औरत मज़बूरी में रंडी बन गयी फोटो देखें )

  सुन्दर लड़की मजबूरी में बनी रंडी एक तरफ बच्चा दूसरी तरफ ग्राहक

अर्थलाभ के लिए लडकियों और औरतो का गैर मर्द के साथ यौन संबंध बनाना वेश्यावृत्ति कहलाता है और इस प्रकार का काम करने वाली लडकियों और शादी शुदा औरतो को सामान्य शब्दों में रंडी बोला जाता है। इसमें उस भावनात्मक तत्व का अभाव होता है जो अधिकांश यौनसंबंधों का एक प्रमुख अंग है। विधान एवं परंपरा के अनुसार वेश्यावृत्ति उपस्त्री सहवास, परस्त्रीगमन एवं अन्य अनियमित वासनापूर्ण संबंधों से भिन्न होती है। संस्कृत कोशों में यह वृत्ति अपनाने वाले स्त्रियों के लिए विभिन्न संज्ञाएँ दी गई हैं। वेश्या, रूपाजीवा, पण्यस्त्री, गणिका, वारवधू, लोकांगना, नर्तकी आदि की गुण एवं व्यवसायपरक अमिघा है – ‘वेशं (बाजार) आजोवो यस्या: सा वेश्या’ (जिसकी आजीविका में बाजार हेतु हो, ‘गणयति इति गणिका’ (रुपया गिननेवाली), ‘रूपं आजीवो यस्या: सा रूपाजीवा’ (सौंदर्य ही जिसकी आजीविका का कारण हो); पण्यस्त्री – ‘पण्यै: क्रोता स्त्री’ (जिसे रुपया देकर आत्मतुष्टि के लिए क्रय कर लिया गया हो)।

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email. इस ब्लॉग की सदस्यता के लिए अपना ईमेल पता दर्ज करें और ईमेल द्वारा नई पोस्ट की सूचनाएँ प्राप्त करें।

Name *

Email *

Advertisement