Get Indian Girls For Sex

शादी टूटने के बाद जिगोलो से अपनी प्यास बुझाई


desi porn stories, antarvasna

मेरा नाम आशा है मेरी एक दोस्त है उसका नाम रिया है हम दोनों बेस्ट फ्रेंड है। हम दोनों ने अभी अभी कॉलेज पूरा किया था और उसके बाद हम दोनों ने कॉल सेंटर में जॉब के लिए इंटरव्यू दिया। हम दोनों उसमें सेलेक्ट हो गए और अगले दिन से हमें जॉब पर जाना था। मैं और रिया साथ में जॉब पर जाया करते थे। मैं उसके घर उसे पिक करने जाती थी और फिर हम दोनों साथ में ही जाया करते थे। कुछ समय बाद मेरी शादी एक अच्छे घर में तय हुई यह बात मैंने अपने दोस्त रिया को बताई और उसके बाद हमने कॉल सेंटर से आ कर पार्टी की और खूब इंजॉय किया। उसके बाद हम दोनों घर चले गए थे और फिर जब दूसरे दिन हम ऑफिस जा रहे थे तब रिया ने मुझसे पूछा कि शादी कब की फिक्स हुई है। मैंने कहा एक हफ्ते बाद की फिर वह बोली कि इतनी जल्दी अभी तो हमने कुछ शॉपिंग भी नहीं की और शादी धूमधाम से होगी ना मैंने कहा मेरी शादी धूमधाम से नहीं होगी बस ऐसे ही सिंपल तरीके से शादी होगी क्योंकि मेरे पापा इतना अफोर्ड नहीं कर सकते। उसके बाद रिया ने कहा की शादी का थोड़ा खर्चा वह देगी और शादी धूमधाम तरीके से होगी। मैंने उसे मना किया लेकिन वह दोस्त होने के नाते मेरी मदद करना चाहती थी फिर कुछ दिनों बाद मेरी शादी हुई। सब लोगों ने खूब इंजॉय किया और मेरे दोस्त रिया मेरे ही साथ थी।

शादी होने के बाद मैं अपने ससुराल चली गई और कुछ दिन छुट्टी पर थी मैं और मेरे पति हनीमून के लिए गोवा गए थे। उसके कुछ दिनों बाद हम घर लौटे घर लौटने के बाद में सीधे अपने  ऑफिस के लिए गई। ऑफिस में रिया मुझसे पूछने लगी कि कैसा रहा हनीमून मैं शरमाते हुए अपने काम पर लग गई फिर वह भी अपने काम पर लग गई थी।

loading…

पहले तो हम दोनों हमेशा साथ में जाया करते थे लेकिन शादी के बाद ऐसा नहीं हुआ। एक दिन रिया मुझे फोन पर फोन किए जा रही थी लेकिन मैंने उसका फोन पिक नहीं किया। उसका फोन मेरे हस्बैंड ने पिक किया और कहा कि मैं आज ऑफिस नहीं आऊंगी। उसके बाद उन्होंने फोन कट कर दिया। दूसरे दिन जब मैं ऑफिस गई तो रिया ने मुझसे मेरे ऑफिस ना आने का कारण पूछा मैंने उससे कहा कि मेरी तबीयत कुछ ठीक नहीं थी इसीलिए मैं ऑफिस नहीं आ पाई। कुछ दिनों तक तो मैं ऑफिस आई लेकिन उसके कुछ दिन बाद मैं दो-तीन दिन तक ऑफिस ही नहीं गई। रिया ने मुझे बहुत फोन किए लेकिन मैंने उसका फोन नहीं उठाया अगर मैं उसका फोन उठाती तो वह मुझसे बहुत सवाल करती है और उन सवालों के जवाब मैं उसे दे नहीं सकती थी फिर हमारे स्टाफ के किसी दोस्त ने रिया को बताया कि मैं काफी दिन से अपने घर पर हूं। ससुराल में नहीं हूं और उस दिन रिया ऑफिस से सीधे हमारे घर पर आई। उस ने बेल बजाई और मैं दरवाजा खोलने गई जैसे ही मैंने दरवाजा खोला सामने रिया खड़ी थी। मैं उसे देखकर हैरान रह गई कि वह इस समय यहां क्या कर रही है वह तो मेरा हालचाल पूछने आई थी कि मैं ऑफिस क्यों नहीं आ रही हूं। फिर उसने मुझे पूछा कि मैं इतने दिन से कहां थी और ऑफिस क्यों नहीं आ रही थी और मैं उसे अपने कमरे में लेकर गई फिर उसके काफी कहने पर मैंने उसे अपनी सारी बात बताई।  अब मैं उस घर में शादी करके पछता रही हूं पहले तो मुझे लगा कि बहुत अच्छा परिवार है लेकिन जब मैं शादी कर के वहां गई तो मुझे पता चला कि वह लोग कैसे हैं।

मैंने रिया को बताया कि मेरे पति  गे हैं। इसी वजह से हम लोगों ने हनीमून में भी कोई इंजॉय नहीं किया और मैंने तुम्हें कुछ भी नहीं बताया कि हमारे बीच में क्या हुआ। अब मैं बहुत परेशान हूं इसलिए मैं अब अकेले ही रहना चाहती हूं मुझे कोई नहीं चाहिए  जिससे मैं बात करूं। रिया ने मुझे कहा तू चिंता मत कर मैं तेरी सारी समस्या का हल कर दूंगी तू मुझे बता कि तुझे अभी क्या जरुरत है। उसने मुझे कहा कि मैंने बड़ी उम्मीदों से शादी की और मैंने अपनी चूत भी नहीं मरवाई। मैं ऐसे ही बैठी रही कई दिनों से मेरी प्यास नहीं बुझी  है। रिया ने कहा कि एक काम करते हैं हम जिगोलो सर्विस में फोन करते है और किसी को बुलाते हैं। हमने जिगोलो सर्विस में फोन किया और वहां से थोड़ी देर बाद एक लड़का हमारे घर पर आ गया। वह दिखने में बहुत ही हैंडसम और उसकी बॉडी एकदम पर्फेक्ट थी। रिया ने मुझसे कहा कि तू फिलहाल अपनी टेंशन भुलकर  इससे अपनी चूत मारवा तुझे बहुत अच्छा लगेगा। मैंने उसे कहा ठीक है मैं इसे अपनी चूत मरवाती हूं। तू भी क्या मेरा साथ देगी उसने कहा मैं भी सथ मे चुदवाऊंगी हमने उस लड़के से उसका नाम पूछा उसने अपना नाम जैकी बताय। उसने हम दोनों के कपड़े  बड़े ही आराम से खोलें और उन्हें साइड में रख दिया अब उसने भी अपने कपड़े खोल दिए थे और उसका लंड खड़ा हो रखा था। हमने उसके लंड को अपने मुंह में लिया। पहले मैंने ही उसके लंड को अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू किया जैसे ही मैं उसके लंड को अपने मुंह में लेती तो वह मेरे गले तक अपने लंड को उतार देता। जिसे मेरे मुंह से झाग बाहर आ जाता।

थोड़ी देर तक मैंने ऐसा किया। उसके बाद रिया ने भी उसके लंड को अपने मुंह में लेना शुरू किया और उसे अच्छे से चूसती रही मुझे फिलहाल तो सब अच्छा लग रहा था। उसने हम दोनों को घुटने के बल घोड़ी बना दिया और हमारी चूत चाटने लगा जैसे ही उसने ऐसा किया तो मुझे बहुत अच्छा लग रहा था। हम दोनों की गांड को वह चाट रहा था हम दोनों बहुत खुश हो रही थी। वह अपनी जीभ से ऐसे ही अच्छे से चाटे जा रहा था। उसने हम दोनों की गांड को पूरा गीला कर दिया था। रिया ने उसके लंड को अपने हाथ से हिलाया और मेरी चूत में डाल दिया जैसे ही उसने मेरी चूत मे डाला। उसका पूरा लंड मेरे अंदर तक जा चुका था। वह मेरी चूतड़ों को पकड़कर धक्के मार रहा था। यह सब मुझे ऐसा लग रहा था मानो जो मेरे पति नहीं कर पाए हो वह जैकी कर रहा है। वह बड़ी तेजी से झटके मारता और मेरे चतडो को हिला कर रख देता मैं भी अपने चूतड़ों को उसकी तरफ करती जा रही थी। ऐसा हम दोनों ने काफी देर तक किया मेरा अब झड़ने को हो गया था। मैं तो ऐसे ही घोड़ी बनी रही और जैकी धक्के मारे जा रहा था। कुछ ही समय बाद उसका भी वीर्य गिरने वाला था तो मैंने उसके माल को अपने मुंह में ले लिया।

उसने रिया की चूत को भी चाटना शुरू किया। वह बहुत ही अच्छी तरीके से चाट रहा था उसने रिया की भी चूत मे अपना लंड डाल दिया जैसे ही उसने अपना लंड डाला तो वह चिल्ला उठी और बहुत ही मजे लेने लगी। वह बड़ी तेज झटके मारे जा रहा था। जिससे कि रिया बहुत खुश हो रही थी उसने रिया को भी ऐसे ही 10 मिनट तक चोदा उसके बाद उसका गिरने वाला था तो उसने रिया की चूत मे ही अपना वीर्य गिरा दिया।

मेरी प्यास बुझी नहीं थी और मैंने उसे कहा कि मुझे तुम एक और शॉट मारो लेकिन इस बार बड़ी जानदार और अच्छी तरीके से मुझे चोदना। उसने कहा आप चिंता मत कीजिए इस बार मैं आपकी चूत को पूरा उठा कर रख दूंगा। उसने मुझे वही बिस्तर पर लेटा दिया और मेरी दोनों टांगों को चौड़ा किया। उसके बाद उसने पहले तो मेरी चूत को अच्छे से चाटा अब मेरा पानी निकलने लगा। तो उसने अपने लंड को मेरी चूत मे डाल दिया। मेरा शरीर बहुत ही गर्म हो रहा था और उसका भी शरीर एकदम गर्म  हो गया। वह ऐसे ही झटके मारता रहा और आधे घंटे तक उसने मेरी चूत को अपने लंड से रगडता रहा। मुझे उसने इतना चोदा की मेरा शरीर पूरा पसीना-पसीना हो चुका था और मेरा कब का झड़ चुका था लेकिन वह मुझे छोड़ ही नहीं रहा था। उसका झड़ने वाला था तो उसने मेरी चूत के अंदर डाल दिया और आपने लंड बाहर निकाला मुझे बहुत अच्छा लगा। उसने हम दोनों को कपड़े पहनाए और अपने कपड़े भी पहने उसके बाद मैंने रिया का धन्यवाद कहा और उसे कहा कि तुम मेरी बहुत अच्छी दोस्त हो। तुमने मेरी हर जगह मदद की है। मैंने अपने पति को डिवोर्स दे दिया था और जब हमारा मन होता तो हम किसी जिगोलो को बुला लेते हैं और उससे ही अपनी चूत मरवाते है।

शादी टूटने के बाद जिगोलो से अपनी प्यास बुझाई

शादी टूटने के बाद जिगोलो से अपनी प्यास बुझाई , Antarvasna – अन्तर्वासना,antarvasna,desi lund,hindi intercourse kahaniyan,indian chut, Antarvasna – अन्तर्वासना,antarvasna,desi lund,hindi intercourse kahaniyan,indian chut .

शादी टूटने के बाद जिगोलो से अपनी प्यास बुझाई