Get Indian Girls For Sex

मैं उसे सेक्स ( चुदाई ) के लिए कैसे राज़ी करूँ?

मैं उसे सेक्स ( चुदाई ) के लिए कैसे राज़ी करूँ?

लड़के का सवाल : आंटी जी मेरी मेरी गर्ल फ्रेंड सेक्स ( चुदाई ) करने के लिए हमेशा ना कहती रहती है। मैं जब भी इस बारे में बात करता हूँ, वो नाराज़ हो जाती है और हमारा झगड़ा हो जाता है। प्लीज़ मुझे बताइये कि अपनी गर्ल फ्रेंड को सेक्स ( चुदाई ) करने के लिए कैसे राज़ी करूँ।

मैं उसे सेक्स ( चुदाई ) के लिए कैसे राज़ी करूँ? लड़के का सवाल आंटी का जवाब

मैं उसे सेक्स ( चुदाई ) के लिए कैसे राज़ी करूँ? सरकारी अफसर पूरे जोर शोर से चुदाई करते हुए विधवा जवान लड़की की मजबूर विधवा की चुदाई (13)

आंटी जी लड़के के सवाल ” मैं उसे सेक्स ( चुदाई ) के लिए कैसे राज़ी करूँ? ” का जवाब देते हुए :  लो बताओ! बेटा रौनक़, मुझे नहीं पता मुझे क्या कहना चाहिए – मेरी एक आँख जैसे हंस रही है और दूसरी तेरे लिए थोड़ी दुखी हो रही है।

अब हम सीधी बात करते हैं। बेटा जी, हम कभी किसी को सेक्स ( चुदाई ) के लिए ‘राज़ी’ नहीं कर सकते…क्यूंकि यह खुद उस इंसान का निर्णय होता है, जब भी वो तैयार हों, सच बात यही है! देख पुत्तर चुदाई के लिये सारे लड़के तडपते है यह एक ऐसी स्तिथि है जो काफ़ी बार काफ़ी लोगों के सामने आती है कुछ लड़के चुदाई अर्थात सेक्स के लिए लडकियों को राज़ी करने कि निम्न प्रकार से प्रयास करते है :

ब्लैकमेल?

तो चलो मान लेते हैं कि तूने अपनी गर्ल फ्रेंड के साथ सेक्स ( चुदाई ) कि बात करनी शुरू करी। तो लड़के सबसे पहली लाइन क्या बोलते हैं? “बेबी, अगर तुम मुझसे प्यार करती हो, तो चलो सेक्स ( चुदाई ) करते हैं”, या “अगर तुम मुझसे प्यार करती हो, तो सेक्स ( चुदाई ) के लिए तुम मुझे ना नहीं कहोगी।”

यह कोई बात हुई? क्या अपना प्यार साबित करने के लिए उसे सर्टिफिकेट देना पड़ेगा? और इसके अलावा और किस-किस चीज़ के लिए सर्टिफिकेट मांगेगा तू उससे बेटा? ना बेटा ऐसा ना कर तू और यह बकवास बात तू भूल ही जा।

और फिर यह दूसरा तख़िया-कलाम: “तुम्हारी प्रॉब्लम क्या है, सब तो कर रहे हैं, तो तुम क्यूँ नहीं?”

लो जी, तो मतलब यह तो वो बात हो गयी कि क्यूंकि हर कोई ग़जनी स्टाइल के बाल कटवा रहा है तो तुम क्यूँ नहीं? नहीं ना? तो फिर यह अपेक्षा क्यूँ रखें कि क्यूंकि सब को वो करना ठीक लगता है तो तेरी गर्ल फ्रेंड को भी ठीक लगना चाहिए?

बेटा जी, यह एक तरह से अपनी गर्ल फ्रेंड पर दादागिरी चलाने जैसा है, और शायद इसे ब्लैकमेल भी कह सकते हैं।

loading...

प्यार के नियम

तो तू समझ रहा है ना कि मैं क्या कहना चाह रही हूँ, कि ऐसा कोई तरीका नहीं है जिससे कोई भी किसी को ज़बरदस्ती सेक्स ( चुदाई ) के लिए राज़ी कर सके, क्यूंकि ज़बरन सेक्स ( चुदाई ) को शोषण माना जायेगा…और मुझे लगता है तू यह तो नहीं चाहेगा। है ना?

सेक्स ( चुदाई ) के लिए तैयार होने का सबका अपना समय और सीमा होती है – और यह हो सकता है कि सेक्स ( चुदाई ) के लिए जितना तैयार तू महसूस करे उतना वो महसूस ना करे और उसके इस निर्णय कि तुझे इज़ज़त करनी चाहिए। क्यूंकि यह तो प्यार के बिना लिखे गए नियम हैं!

हाँ…हाँ, मैं समझती हूँ कि उसके यौन अधिकारों कि तरह तेरे भी यौन अधिकार हैं। अब तू सेक्स ( चुदाई ) चाहता है और वो नहीं – तो क्या करें?

अच्छा तरीका यह होगा कि सेक्स ( चुदाई ) तब करो जब तुम दोनों पूरी तरह इसके लिए तैयार हो – ताकि सेक्स ( चुदाई ) का पूरा मज़ा भी तुम दोनों ले सको – और हाँ साथ में सेक्स ( चुदाई ) के साथ जुड़ी ज़िम्मेदारियाँ भी तुम दोनों पूरी तरह उठा सको।

छोटे कदम दूर तक जाते हैं

बेटा जी, तुम ना और यह बात मैं सभी रांड बाज और आम लड़को को कहूँगी कि, तुम लोग लड़कियों को इज़ज़त दो केवल गांड चुत और बूब्स के पीछे मत भागो । उनपर गांड और चुत मरवाने के लिये दबाव ना डालो। बॉय फ्रेंड के साथ-साथ तू उसका दोस्त भी बन और उसके मन और उसकी मर्ज़ी को समझ। हाँ, अपनी पसंद और अपनी मर्ज़ी भी उसको बता लेकिन उसकी भी तो सुन और समझ। और अगर तू यह कर पाया ना पुत्तर तो लम्बी रेस में फायदा तुझे ही होगा और वो तेरा लंड तू जंहा बोलेगा वंहा लेलेगी तुम इस के बाद भले उसको रंडी की तरह चोद लेना। अधिकतर लड़के यह समझते हैं कि सेक्स ( चुदाई ) का मतलब है पूरी तरह सेक्स ( चुदाई ) करना – यानि अपना लिंग योनि में डालना! अरे पुत्तर, अपने साथी के साथ अपने समय का उपयोग कुछ प्यारे पल बिताने के लिए भी कर, और हाँ अगर तेरी गर्ल फ्रेंड ने कोई सीमा बना रखी है तो उसे लांग मत। चुम्बन, छूना, हाथ पकड़ना…जो कुछ भी उसके लिए कम्फर्टेबल हो, बस वही करने कि कोशिश कर।

क्या यह तूने पहले कभी सुना है ?

हाँ..हाँ…मैं जानती हूँ कि तू समझ रहा है जो मैं केह रही हूँ, प्यार में सौदा नहीं! इसलिए कोई ज़बरदस्ती, धमकी या विनती – इस मामले में ब्लैकमेल जैसे मानी जायेगी!

क्या तुझे पता है कि लड़के किस तरह के वाक्य बोलते हैं, लड़कियों को ‘राज़ी’ करने के लिए? शायद कुछ तूने सुने हों और कुछ यहाँ मैं बता रही हूँ। आशा करती हूँ कि तू इनका इस्तेमाल नहीं करेगा:

•             “मेरे साथ सेक्स ( चुदाई ) करो, नहीं तो मैं सबको यह बता दूंगा कि तुमने मेरे साथ सेक्स ( चुदाई ) किया है”

•             “मेरे साथ एक्स करो नहीं तो हमारा रिश्ता ख़त्म!”

•             ” मेरे साथ सेक्स ( चुदाई ) करो, नहीं तो मुझे अपने लिए किसी और को ढूंढना पड़ेगा”

•             “मुझे सेक्स ( चुदाई ) चाहिए, तुम्हे पता है कि बिना सेक्स ( चुदाई ) के मेरी तबियत ठीक नहीं रहती”

•             “अगर मुझे सेक्स ( चुदाई ) ना मिले तो मुझे बहुत गुसा आताहै, फिर बात में मुझे दोष ना देना”

•             “सेक्स ( चुदाई ) हमें और भी पास ले आएगा…”

…और अगर तू भी इस तरह कि बातें करेगा तो ‘हम’ से बहुत दूर चला जायेगा तेरा रिश्ता और तुम दोनों कभी एक अच्छे बराबरी वाले रिश्ते का मज़ा नहीं ले पाओगे। और फिर क्या पता यह रिहस्ता आगे चले भी ना, फिर तो तू उसकी ज़िन्दगी में बस एक खट्टी-मीठी याद ही बनकर रह जायेगा ना!

अगर आपको प्यार, सेक्स ( चुदाई ) या रिश्तों से जुड़े किसी भी सवाल पर आंट