भैया के साथ चुदाई का अनुभव

प्रेषक: ममता …

हैलो दोस्तों, मेरा नाम ममता है, मेरी उम्र 1 9 साल है, मेरे घर में 6 लोग रहते हैं, में एक सेक्सी पंजाब लड़की हूँ। मेरे घर में मामी, बह, एक बहन, दो भाई है। मेरे एक बड़े भाई जो जालंधर में काम करते हैं, एक छोटी बहन जो कि सोलह साल की है, वो पढ़ना है और एक सबसे छोटा भाई वो भी पढ़ना है और भी पढ़ना है। मेरा फिगर 34-30-32 है, मेरी बहुत ही सेक्सी टाइट चूचीएं है अगर मुझे कोई बूढ़ा भी देखेगा तो उसके भी लंड खड़ा हो जाता है। यह बात आज से 6 महीने पहले की है, जब भैया जालंधर में काम करते थे, में उन्हें पंजाबी में वीरा कहकर बुलाती था। मेरे वीरा की उम्र 22 साल है और हाइट 6 फुट में, मेरी हाइट 5 फुट 6 इंच है। तो तब मैं 12 वीं का एग्जॉम क्लियर कर लिया था तो मुझे भी बी। कम करने के लिए जालंधर में एडममिशन लेना पड़ा।

अब में और मेरा वीरा एक साथ एक फेट में रहने लग रहा था। अब में सुबह कॉलेज चली जा रहा था और मेरा वीरा सेवा पर चले जाओ थे। फिर मेरे कॉलेज में एक लड़का मेरा बॉयफ्रेंड बन गया और एक दिन वो मुझको पार्टी के बहाने एक होटल में ले गया और वहां उसने मुझे कोल्डड्रिंक में विस्की मिलाकर पीला दी, जिससे मुझे नशा हो गया और फिर उसने ज़बरदस्ती मेरे साथ सेक्स किया और मेरी वीडियो बना ली और मुझे ब्लैकमेल करने लग रहा है। अब वो मेरे साथ रोजाना सेक्स कर रहा था, लेकिन कुछ दिनों के बाद उसकी ड्रग्स लेने की वजह से मौत हो गया और उसकी मौत होने से मुझे छुटकारा मिल गया। अब मेरे भैया को मेरी परेशानी रहने की वजह से कुछ शक हो गया था तो उन्होंने कहा कि कोई प्रोब्लम है तो बांस? में तुम्हारा दोस्त मैं कुछ भी मत छुपाओ, लेकिन मैंने उन्हें कुछ भी नहीं दिया और उनसे कहा कि सब नॉर्मल है।

फिर कुछ दिन तक सब नॉर्मल चल रहा है, लेकिन अब मुझे सेक्स जागने लग रहा था, में 1 9 साल की एक जवान लड़की हो तो सेक्स तो नॉर्मल है, इस उम्र में सभी लड़कियां हैं। फिर एक रात भैया काफ़ी लेट हो, तो मुझे नींद आ रही थी तो सो गया, में और भैया एक ही डबल बिस्तर पर सोते है। फिर रात को भैया लेट आ और खाना खाकर सो लिंग। फिर रात के 12 बजे के पास मुझे मेरी गोल- गोल चूची पर किसी का हाथ का अहसास हुआ तो मैंने अपने आँख खोलकर देखा, तो वो भैया का हाथ था। अब वो नींद में कुछ बड़बड़ा रह रहे थे, वो किसी लड़की का नाम ले रहे थे और मेरी चुचियां धीरे-धीरे सहला रहे थे, तो मैंने उन्हें हाथ हटा दिया और सो गया। अब वो शायद सपने में किसी लड़की के साथ सेक्स कर रहे थे।

अब भैया के हाथों के स्पर्श से मेरे अंदर सेक्स जाग उठाया था, लेकिन में भैया के साथ यह सब नहीं कर सकता था में अपने चूत में उंगली डालकर आगे पीछे लग रहा है और 5 मिनट के बाद झटका और सो गया। फिर अगले दिन सुबह उठाने भैया जॉब पर चले संकेत और में कॉलेज चली गया। फिर कॉलेज में मेरी एक फ्रेंड ने मुझे एक सेक्स स्टोरी की साइट का नाम दिया hdsexvid.pick up। तो मैंने घर पर आकर यह साइट खोला तो उसमें देखा देखा कि उन एक स्टोरी भाई बहन की थी। फिर मैं भाई बहन की सेक्स स्टोरी पढ़ी तो मेरा दिमाग़ खराब हो गया। अब में अपने भैया के बारे में सोचने लग रहा था और फिर मैं अपने पर्स से आई-ब्रोकर पेन निकाला, जो काफ़ी चिकना था और वो छोटे से लंड की तरह लग रहा था। अब में उसे अपने चूत में डालकर सोचने लग रहा है कि यह मेरे भैया का लंड है और आगे पीछे लग रहा है और कुछ देर में झड़ गया।

फिर मुझे बड़ा बुरा लगा, लेकिन कुछ देर के बाद सोचा कि जब दुनिया की शुरू हुई थी तो फिर भगवान ने दुनिया बसने के लिए एक औरत और एक आदमी भेजा था। फिर उसके बाद उनके लड़के लड़की होगें, वो भी भाई बहन हो अगर वे सेक्स ना किया जाता है तो यह दुनिया इतनी बड़ी कैसे होती है? इसका अर्थ आपस में तो हम सब भाई बहन हीड़, जब मुसलमान अपने सगी चाचा की लड़की से शादी कर लेते हैं, तो हम उसके भाई के साथ सेक्स क्यों नहीं कर सकते? तो तभी से में अपने भैया के बारे में सोचने लग रहा है और उनके मोटा लंड खुद चूत में डलवास को बेबिंग लग रहा है। अब मुझे जब भी कोई मौका मिल तो में छुपकर उनके मोटे लंबे लंड के दर्शन कर लेती थी। अब में रात को सोते समय उनके लंड पर अपना हाथ रखता था और भैया जब भी नींद में बड़बड़ाते और अपना हाथ मेरी मोटी चूचीओं पर रखता है, तो चुपचाप सोती रहती है, लेकिन भैया इससे आगे कुछ नहीं करते थे।

फिर मैंने सोचा कि भैया को कैसे पटाया जा? तो मैं घर पर हाफ और टाइट वी-शेप वाली टी-शर्ट पहननी कर कर दी और जिसमें से मेरी मोटी चूचीियां आधी दिखती थी और अब मैंने चुन्नी डालनी बंद कर दी, मेरे मेरे भाई को मेरी मोटी और मेरी तनी हुई चूचीयियां दिखती है और उनको देखकर वो मुझे चोदने की कोशिश करो। फिर मैंने एक दिन एक प्लान बनाया, एक दिन भैया जब शाम को जल्दी घर और वें चेंज कर टी देखने के लिए देख रहे थे और कहा कि ममता मेरे लिए चाय बना दो मेरे सिर में दर्द हो रहा है, तो मुझे चाय बनाकर थेको दे दी। अब मुझे उनकी चाय में उत्तेजित करने के लिए गोली मार दी गई थी और अब में उनके सामने झुककर झाड़ू लगाने लग रहा था, मेरी मेरी चुचियां भैया को पूर्ण दिखने लग रहा था और मेरी मेरी चुचियां देखने लग रही थीं। फिर मैंने पूछा कि भैया क्या देख रहे हो? तो उन्होंने कहा कि कुछ नहीं, अब उनके ऊपर गोली मार असर भी हो रहा था।

फिर मैंने कहा कि भैया में आपका सिर दबाता है, तो भैया मान,, मैं उनके सिर को अपने जाँघो पर रख दिया और उनके सिर दबाने लग रहा था। अब मेरी चुचीएं भैया के मुंह पर था और मेरी चुची के निप्प भैया के होंठो से टकरा रहे थे। अब में जानबूझ कर भैया के होंठो से अपने चुचियां टच कर रही थी। अब भैया काफ़ी उत्तेजित हो गया था, लेकिन पता नहीं क्यों वो आप पर कंट्रोल कर रहे थे? फिर कुछ देर के बाद वे दूर हटने के लिए कहा, फिर फिर में हटा दिया। लेकिन अब भैया काफ़ी परेशान लग रहे थे, तो मैंने देखा कि उनके लंड तंबू की तरह खड़ा हुआ था। तो में फिर से उनके सामने झाड़ू लगाने लग रहा था और फिर मेरे दिमाग में एक और प्लान 1। फिर मैं अपने कमर में दर्द होने का नाटक किया और भैया से बाम लगाने के लिए कहा, तो भैया ने कहा उल्टा लेट जाने को कहा। अब भैया मेरा टॉप ऊपर कर मेरी कमर पर बाम लगाने लग रहा था, तो भैया के हाथों का स्पर्श मिलते ही मेरी पूरी बॉडी में करंट लग रहा था।

अब भैया भी मेरी कोमल बॉडी को टच कर अपना कंट्रोल खो रहा था और में भी यही चाहता था। फिर मैं भैया से कहा कि भैया थोड़ा और ऊपर मेरी पीठ पर बाम लगा दो, तो उन्होंने मेरे टॉप को थोड़ा और ऊपर कर दिया। अब मेरा टॉप बिल्कुल ऊपर आ गया था, अब मेरी पूरी पीठ नंगी था। अब भैया मेरी पीठ पर बाम लगाने लग रहा था, अब वह मेरी ब्रा के कारण बाम लगाने में कुछ परेशानी हो रही थी, तो मैंने भैया से ब्रा के हुक खोलकर बाम लगाने के लिए कहा। तो भैया मेरी तरफ देख लग रहा है, तो मैंने एक सेक्सी स्माइल दे दी। तो भैया मेरे इराद को समझने और फिर उन्होंने मेरी ब्रा के हुक खोल दिया और मैं उल्टे लेटे ले रहा है खुद ब्रा भाकर अलग कर दी। अब मेरे चुचे साइड से बाहर निकल रहे थे, अब भैया मेरी पीठ पर मालिश करने-मैं इतनी उत्तेजित हो रही थी कि कभी कभी-कभी साइड से मेरी टाइट चुचियां भी कर रही लग रही थी, जिससे में लग रहा था और मेरी चूत भी गीली होने लग रहा था।

अब भैया कभी मेरे चूतड़ भी सहला रहे थे, तो ऐसा करते हैं मेरे मुंह से सिसकारी निकल गया। तो भैया बोले कि ममता क्या हुआ? तो में सीने में बहुत दर्द होने का नाटक कर रहा है भैया की साइड सीधी हो गया, जिसके साथ मेरी मोटी तनी हुई चूचीयां भैया की तरफ हो और हो देखकर भैया अपना होश खो बैठे और में दर्द होने का नाटक हो रहा है। अब वो मेरा दर्द कम करने के लिए मेरे सीने को सहलाने लग रहा था और मौका मिलते ही मेरी चुची लोग भी कर रहे थे। फिर भैया ने कहा कि ममता मेरी बहन अब प्यार नहीं जा रहा है, में तुम्हारी इन मस्त मोटी तनी हुई चूचीयों को दबाना इच्छा है और इन्हें चूसना चाहता हूँ, तुम प्यार करना चाहते हो। तो मैंने भैया को अपने बाँहों में भरते हुए कहा कि भैया में भी आप बहुत प्यार करते हैं आई लव यू, में तुम्हारा है भैया आप भी चाहते हैं प्यार करते हैं।

तो वो मुझे अपने बाँघों में भरने के साथ लग रहा है और बोले कि ममता आप बहुत अच्छी बहन हो, आप बहुत सेक्सी हो, आई लव यू बहना। अब में भी उनके किस जवाब का बोलना बोल रहा था ओह मेरे प्यारे भैया और ज़ोर से किस करो, अपने बहन की बरसो की प्यास बुजा दो। फिर वो मुझे 5 मिनट तक लगातार कर रहे हैं और फिर उन्होंने मेरा टॉप उतार दिया और मेरी एक चुची को अपने मुंह में ले चूसने लग रहा है। तो में पागल होने लग रहा था और बोलती जा रही थी ओह मेरे प्यारे भैया और ज़ोर से चूसो अपनी छोटी बहन की चूची, यह आपके लिए है, खुद छोटा बहन की चूची का सारा रस चूस लो, ओह आआआआआआआ। अब में सिसकारी ले जाने पागल हो जा रही था, तो तबी भैया ने मेरी जींस उतार दी, अब में सिर्फ पेंटी में था। फिर मेरे भैया ने अपने सारे कपड़े खोल दिए और में उनके लंड को देखकर पागल हो गया, उनके लंड आठ इंच लंबा और चार इंच मोटा था।

फिर में उनके लंड पर अपना थूक लगाकर आगे पीछे लगी, तो भैया के मुंह से सिसकारी निकलने लगते और वो कहने लगे कि ऊऊउउउहह मेरी प्यारी बहन, आआआआअ और और से हिलाओस अपने भाई का लंड, यह तुम्हारी चूत में जाने के लिए बेब हो रहा है ममता, आआआआआआ मेरी छोटी बहन जल्दी से अपने पेंटी उतारो और यह कहकर उन्होंने मेरी पेंटी भी उतार दी और मेरी चूत में बहुत सारा थूक लगाकर खुद एक उंगली से मेरी पूरी चूत पर अ ना थूक लगा दिया, जिससे मेरी चूत चिकनी हो गयी। फिर भैया ने एक जो कर दिया कहा कि ममता बहन आप अपने भैया से अपने चूत में लंड डलवाना के लिए तैयार हो। तो मैंने कहा कि भैया प्लीज़ बातें कम काम ज्यादा करो, तो भैया बोले कि वाह मेरी बनो आप तो बहुत समझदार हो गया हो। फिर उन्होंने अपनी लंड का टोपा मेरी चूत के छेद पर रख दिया और एक और झटका मारा तो उनके आधा लंड मेरी चूत में अंदर चला गया और मेरे मुंह से चीख निकल गया।

फिर मैं भैया से कहा कि भैया मेरी चूत से अपना लंड बाहर निकालो, मुझे बहुत दर्द हो रहा है। तो भैया रुक और मेरी चुचीसों को चूसना जारी कर दिया गया और मुझे छोटा बच्चा की तरह प्यार करने वाला और मेरी बहना बस हो गया अब थोड़ा सा दर्द होगा फिर बहुत मज़ा आया और यह कहकर उन्होंने फिर से एक ज़ोरदार झटका मारा, उनके पूर्ण लंड मेरी चूत में फिट हो गया। अब मुझे बहुत दर्द हो रहा था, लेकिन भैया फिर भी नहीं रुके और मुझे चोदने लगे। अब भैया मेरी चूत में अपना लंड दनादन पेले जा रहे थे और बोलते थे कि ओह मेरी प्यारी बहना तूने मेरी बरसों कि तमन्ना पूर्ण कर दी, में तुम कब से चोदना चाहता था? लेकिन भाई बहन के रिश्ते की वजह से नहीं चोद मिले, आई लव यू ममता। तो अकेले में मेरा दर्द भी कम हो गया और मुझे भी मज़ा आ रहा है तो अब भी नीचे से अपने गांड उठा-उठाकर भैया के धक्का का देन था और बोल रहा था कि आहह भैया चोद दो अपनी छोटी बहन को, फाड़ दो अपने बहन की चूत को, ओह मेरे प्यारे भैया।

आप दुनिया के सबसे अच्छे भाई हो, आआआअहह ऊहह औररर से भैया, तुम्हारी बहन आज से तुम्हारी बीवी है, फुक मी भैया। अब भैया भी बोलते थे कि ओह मेरी प्यारी बहना, आआआआआ ले ले तेरी चूत में तेरे भाई का लंड, झेल अपने भाई के झटका, आई लव यू मेरी प्यारी बहना, बस तू उससे भी चुदवाती रहना मेरी प्यारी बहना, ऊहह आआआआआआहह। फिर करीब 10 मिनट तक भैया मुझे ऐसा ही चोदते रहे और फिर वोहे-ज़ोर से झटके मारते हुए बोले कि मेरी बहना में झड़ने वाला हूँ। तो मैंने कहा कि भैया तुम मेरी चूत में झाड़ देना, फिर फिर वे 3-चार ज़ोर-ज़ोर के झटके मारे और मेरी चूत में ही खुद पिचकारी मार दी। तो मुझे अपने चूत में गर्म-गर्म लावा महसूस हुआ और में भी झड़ गया और हम दोनों भाई बहन ऐसे ही नंगे सो। फिर हम दोनों भाई बहन को जब भी सेक्स करना होता है हम हम बहुत सेक्स करते हैं, अब में और भैया अपने लाईफ से बहुत खुश है। मेरी पूजा बहस करने के लिए सलाह है कि जब वो बाहर के किसी भी लड़के से चुदवा शायद है, तो अपने भाई से क्यों नहीं? हम बाहर के लड़को को कुछ दिन में ही खुद चूत दे देता है और बाहर सेक्स करना सुरक्षित भी नहीं होता है, जैसा कि मेरे साथ हुआ और भाई तो हमारे साथ बचपन से ही रहता है और कोई भी भाई अपने बहन की इज़ज़त को नीलाम नहीं कर हो सकता है भाई के साथ सेक्स करना सुरक्षित भी है और अच्छा भी है और दुनिया की प्रेम भी भाई बहन के सेक्स से ही हुआ था ..

धन्यवाद …