Get Indian Girls For Sex

छत पर दोस्त की चुदाई – Indian Sex Stories With Nude Pic

छत पर दोस्त की चुदाई

मेरा नाम रेयान है, आई होप मेरी लास्ट 2 कहानिया आपको पसंद आई, यह मेरी एक और न्यू देसी सेक्स स्टोरीस आपके सामने ला रहा हूउ, यह स्टोरी मेरी और मेरी फ्रेंड रीत की है, रीत हमारे ही कॉलोनी के साइड वाले विंग मे रहती है.

हमारी बातें फ़ेसबुक पर चालू हुई, हम रोज़ रात को देर तक बाते किया करते थे, रीत दिखने मे बहोत स्वीट थी, रीत और मैं बहोत क्लोज़ हो चुके थे, मेरा उसके प्रति लगाव बढ गया था, एंड रीत भी मुझसे खुलके बात किया करती थी.

अब आपको स्टोरी की और लेके जाता हू, रीत और मैं कॉलोनी मे कम मिला करते थे, ज़्यादा तर बाहर ही मिलते थे, और कभी कभी टेरेस पे मिला करते थे.

ऐसे ही एक दिन रीत के घरवाले बाहर गये थे, पर घर पर जाना मुमकिन नही था तो हमने टेरेस पर मिलना ठीक समझा, खाना खाने के बाद मैं टेरेस पर जाकर रीत का वेट कर रहा था.

कुछ देर बाद रीत आई, उसने टी शर्ट और शॉर्ट्स पहनी हुई थी, जिसमे उसके बूब्स और गॅंड उभर कर दिख रही थी, फिर हमने थोड़ी बात की, मैं थोड़ा साइड होकर एक कोने मे नीचे जाकर बैठा.

और रीत को अपने पास बैठने बुलाया, वो आई तो मैने रीत को अपने गोद मे बैठने को कहा, पहले वो शरमाई पर बाद मे वो बैठ गई.

मैने रीत का हात अपने हातो मे लेकर उपर आसमान की और हात बढ़ते स्टार्स गिनने लगे, कुछ देर बाद मैने अपना हात नीचे लिया और रीत के हेर्स पर हात फेरते हुए उसके हेर्स आगे लिए और धीरे से अपने लिप्स रीत की नेक पर रख कर किस करने लगा, रीत हल्के से मोन करने लगी, उसको भी सब अछा लग रहा था.

फिर कुछ देर बाद मैने रीत का टी शर्ट उतारा और रीत की पीठ पर चूमने लगा रीत धीरे धीरे मोन करने लगी थी, फिर मैने हल्के से रीत के ब्रा का हुक निकाल उसकी पीठ पर हात फेर रहा था.

अब रीत का फेस अपने फेस की और करके मेरे लॅप्स पर बैठने कहा, रीत अपनी ब्रा उतार मेरे लॅप्स पर बैठ गई, मैने अपना हात रीत की कमर पर रख उसे अपने और क्लोज़ किया और उसके नोस पर से चूमते चूमते धीरे धीरे नीचे आकर रीत के लिप्स पर अपने होट रख कर स्मूच करने लगा, रीत की साँसे तेज़ हो चुकी थी और वॉर्म हो रही थी.

कुछ देर स्मूच करते मैने अपना एक हात रीत के बूब्स पर सहलाते उसके निप्पल्स को सहला रहा था, रीत ज़्यादा ही एग्ज़ाइट हो रही थी, वो अपने हात मेरे बालो पर फेरते अपनी टंग मेरी टंग से लगाकर स्मूच कर रही थी.

मैं रीत के निप्पल्स को अपने मुहह मे लेकर चूस रहा था, उसके निप्पल्स पिंकिश और उभरे थे, पूरे मिल्की मज़ा आ रहा था, मैं रीत के बूब्स चूसे जा रहा था, रीत सिसकिया भर मज़े ले रही थी, मैं पूरी तरह एग्ज़ाइट हो गया था.

अब मैने रीत को नीचे सुलाकर उसकी नेवेल पर अपने होट फेरते हुए शोर्ट्ज़ नीचे कर ली, और पैंटी के उपर से रीत की चुत सहलाते हुए बूब्स चूस रहा था, फिर मैने रीत की पैंटी उतार उसके जाँघो पर चूमने लगा.

रीत मेरे बाल नोचते हुए मेरा सरर अपनी चुत की और दबा रही थी, मैने रीत की टॅंगो को फैलाते हुए उसकी चुत पर स्मूच कर चुत के दाने को अपनी टॅंग से सहला रहा था, रीत मोन किए जा रही थी, रीत की चुत से हल्का हल्का पानी निकले जा रहा था.

अब रीत पूरी तरह एग्ज़ाइट हो गयी थी, मैने अपने कपड़े उतारा रीत को अगेन अपने लॅप्स पर बिठाते हुए हल्के से उसकी चुत को अपने लंड पर रखा, धीरे धीरे उपर नीचे करते हुए रीत ने पूरी तरह मेरा लंड उसकी चुत मे समा लिया, अब धीरे धीरे उपर नीचे होते हुए चुदाई का मज़ा लिए जा रही थी.

रीत के कमर पर हात रख मैं बीच बीच मे उसके निप्पल्स चूसे जा रहा था, रीत जोरो से उपर नीचे हुए जा रही थी जिससे मेरा लंड पूरी तरह खुल गया थाअ, रीत अब झड़ने आ रही थी मैने उसे उतार चुत सक करने लगा.

चूत से पानी निकल रहा था, वो पूरी तरह वर्म्थ वाली फीलिंग थी, मैने रीत को स्मूच करते कुछ टाइम रोल प्ले करते अगेन चुदाई के लिए रेडी किया, अभी रीत को नीचे सुलाकर उसे डॉगी स्टाइल मे रख कर अपना लंड रीत की चूत पर धीरे धीरे घुसाने लगा.

रीत अपनी चुत अंदर की और टाइट करे जा रही थी मैने एकदम से झटका देकर रीत की चुत मे पूरा लंड घुसा दिया, और धीरे धीरे स्पीड बढ़ाते हुए अपने लंड को रीत के चुत का मज़ा दे रहा था, रीत मजेसे अपनी गॅंड पीछे और कर मेरा साथ दे रही थी, हम दोनो बोहोत एग्ज़ाइट हो चुके थे, मैं अपनी पूरी स्पीड से चोदने लगा.

रीत जोरो से मोन कर रही थी, मैं अब झड़ने वाला था, कॉंडम ना पहने होने के वजह से मैने अपना लंड बाहर निकाल रीत के हात मे दिया रीत मेरे लंड को सहलाते हिला रही थी.

रीत ने जोरो से हिलाते हिलाते मेरा लंड निगल लिया और मैं रीत के मूह मे ही झड़ गया, मुझे जोरो वाला ज़टका लगा, रीत ने पूरी तरह मेरा लंड चूस कर सॉफ किया, फिर हमने एक दूसरे को हग कर, स्मूच करने लगे.

रीत का बदन अभी तक गरम था, कुछ टाइम स्मूच कर हमने कपड़े पहने और रीत के घर जाकर एक बार और चुदाई की, जिसमे मैने रीत की गॅंड मे भी अपना लंड डाला, रीत और मैने पूरी रात एक दूसरे को अपना मज़ा दिया.वो रात बेहतरीन रात थी, रीत के घर वाले आने तक हम रोज़ चुदाई करते रहे.

छत पर दोस्त की चुदाई

छत पर दोस्त की चुदाई , Jawan Ladki,chudai,chudakkad,Desi intercourse tales,impartial appropriate friend,padosan,appealing, Jawan Ladki,chudai,chudakkad,Desi intercourse tales,impartial appropriate friend,padosan,appealing .

छत पर दोस्त की चुदाई
Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email. इस ब्लॉग की सदस्यता के लिए अपना ईमेल पता दर्ज करें और ईमेल द्वारा नई पोस्ट की सूचनाएँ प्राप्त करें।

Name *

Email *

Advertisement