loading...

Get Indian Girls For Sex
           

उस औरत ने पैसे से मेरा लन्ड खरीदी

उस औरत ने पैसे से मेरा लन्ड खरीदी :

Desi intercourse legend, hindi intercourse kahani, उस औरत ने पैसे देकर मेरा लन्ड खरीदी। हेलो फ्रेंड्स, तो दोस्तों अब आज हम आपनई मस्ती भरी सेक्स स्टोरी पर आते हैं. गमें एक बार कॉलेज जाने के लिए बस स्टॉप पर बस का इंतजार कर रहा था. की तभी थोड़ी देर में वह पर अचानक एक इनोवा कार मेरी बगल में रुकी और उसमें से एक लेडीज ने कांच निचे किया और वह मुझे पास में बुलाने लगी में उसके पास गया तो उसने मुझे एक एड्रेस पूछा. वह एड्रेस मेरे कोलेज के आगे का था. मैंने कहा की मैं भी वहीं जा रहा हूं अगर आपको कोई तकलीफ ना हो तो मैं आपके साथ चल सकता हूं? आप मुझे भी वही ड्राप कर देना उसने कहा हा जरुर कोई प्रॉब्लम नहीं हे आप आइए और बैठ जाइए. में यह सुन कर खुश हो गया की आज तो कार में बैठ के शान से सवारी करेंगे. और मुझे ख़ुशी हुई की में आज अपने कोलेज में समय से पहोच जाऊँगा और मुझे रोज की तरह बस में मर मर के नहीं जाना पड़ेगा.

हमें उनकी कार में बैठ गया थोड़ा दूर चलने के बाद कुछ बातें हुई उसने मेरे बारे में पूछा क्या करते हो? कहा पर रहते हो वगेरा वगेरा और फिर मैंने भी उनके बारे में पूछा. तो उन्होंने अपना नाम रीना बताया. उसने कहा कि वह गवर्नमेंट टीचर है और उसका हसबैंड फॉरेन कंट्री में इंजीनियर है और परदेस में ही काम कर के रहता हे.

मैंने उन्होंने कहा कि तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है क्या? मैं कहां नहीं पहले थी लेकिन अब नहीं है. तब उन्होंने ब्रेकअप का कारण पूछा तो मैंने बता दिया.

फिर उन्होंने कहा की मेरा भी एक बॉय फ्रेंड था लेकिन अब ब्रेक अप हो गया है. उनके मुह से यह सुन कर में एकदम से दंग रह गया. मैंने पूछा लेकिन आप तो शादीशुदा हैं तो फिर बॉयफ्रेंड की क्या जरूरत हे आपको तो वह कहने लगी के क्या करूं? मजबूरी है अकेलापन फील होता क्योंकि मेरे पति तो कभी कभी साल में सिर्फ एक बार मेरे पास आते हे और हमेशा मर्द के लिए तडपती रहती हु. मेने कहा की मैं समझ सकता हूं. फिर थोड़ी देर ऐसे ही हंसी मजाक चलती रही और मेरा कॉलेज आ गया. उसके बाद मेने उन्हें आगे का एड्रेस बताया और बाय कहा उसने कहा कि अगर तुम्हें कोई परेशानी ना हो तो क्या तुम्हारा मोबाईल नंबर मिल सकता है? तो में तो यह सुन कर मन में बहोत खुश हो गया और कहा अरे इस में परेशानी वाली कोण सी बात हे. अब तो हम एक अच्छे दोस्त बन गये हे और फिर मेने उसे अपना मोबाईल नंबर दे दिया.

और फिर मैं कॉलेज चले गया

रात को १० बजे उसका मैसेज आया और हमारी बात हुई थी. फिर उसने बाते करते करते उसने कहा की कल मिल सकते हो? तो मैंने भी हां कर दिया. अब में तो मन ही मन बहोत खुश हो रहा था की इस आंटी को मुज में कुछ ज्यादा ही इंटरेस्ट हे. और क्यों ना हो में कोई बुरा भी नहीं हु और अपनी अपनी जरूरत की बात हे. वह प्यासी थी और में उसकी प्यास को बजा सकता था. तो में मन ही मन खुश हो गया.

में अपनी बस स्टॉप वाली जगह पर खड़ा होकर उनका इंतजार करने लगा फिर वह आई और में कार में बैठ गया. फिर हम एक होटल में गए वहां उसने पहले से ही एक रुम ले रखा था, जो कि मुझे पता नहीं था. जैसे ही रूम में गये तो मैंने कहा की रम क्यों? तो उसने कहा कि मैं एक टीचर हूं कोई स्टूडेंट या कोई रिलेटिव हमे साथ में न देख ले इसीलिए.. हम अंदर गए तो कुछ खाने पीने का आर्डर किया.

खाने पीने के बाद हम ऐसे ही टीवी चालू कर के बातें करने लगे. उसने कहा मैं फ्रेश होकर आती हूं मैंने कहा ठीक है. थोड़ी देर में वह आई और उस टाइम वह कुछ अलग लग रही थी. वह आ के बेड पर लेट गयी और मुझे कहा कि तुम भी यहीं पर बैठ जाओ. मैंने कहा मैं अभी आया और मैं टॉयलेट चला गया. में जब वहा से आया तो उसे अपनी साड़ी थोड़ी ऊपर की हुई थी और दोस्तों उस एकदम गोरी सी टांग पे एक भी बाल नहीं था. और में घूरते हुए बेड़ में बैठ गया और हम बातें करने लगे.

फिर टीवी में जिस्म २ मूवी आ रही थी और किसिंग सिन देख कर वह बोली यार कुछ करने का मन कर रहा है. मैं थोड़ा नॉटी हूं तो मेने कहा कि मेरा भी मन है. तो वह बोली क्यों ना हम भी कुछ करें?

में तो जैसे खुशी से पागल हो गया और मैंने एक स्माइल पास की. उसने जल्दी से उठ कर मुझे किस करना शुरु कर दिया. क्या बताऊ दोस्तों वह क्या किस कर रही थी? मुझे बहुत मजा आ रहा था और में भी उसे खूब जोर जोर से किस करने लगा. थोड़ी देर किस करने के बाद उसने मेरा हाथ अपने बूब्स पर रखा और फिर मैं समझ गया कि अब इसे पूरा चुदवाना है. और मैं एक हाथ से उसके बूब्स को दबाने लगा मैं जोर जोर से दबा रहा था तो उसके मुंह से किस करते करते सिसकियां निकल रही थी.

उसके बाद वह जा कर लेट गई और आंखें बंद कर दी. मैं भी उसके ऊपर लेट गया और किस करते करते उसके बूब्स को दबाता रह और फिर मेने उसकी साड़ी का पल्लू हटाया उसके ब्लाउज के बटन खोल दिए, एकदम मस्त दुध से थे उसके बूब्स. उसने लाल कलर की ब्रा और पेंटी पहनी हुई थी. मेने ब्रा को ऊपर किया और उसके बूब्स बाहर निकल गए. वह एकदम मस्त बूब्स थे और साइज़ 34 के थे. फिर मैं पागलों की तरह उन्हें चूसना शुरु कर दिया वह जोर जोर सिसकियां लेने लगी और मेरे बालों में हाथ फेरने लगी.

फिर में रुका और बैठ गया उस ने आंखें खोली और खड़े होकर ब्लाउज और ब्रा उतार के लेट गई. मैंने फिर दोनों हाथों से उसके बोबे दबाए पर किस करता रहा. फिर मैंने उसकी साड़ी ऊपर खींची तो वह ढीली हो गई. मैंने उसके पेटिकोट का नाडा खोला और साड़ी और पेटीकोट को उतार दिया. उसने ब्लैक कलर की पेंटी पहनी थी गोरे बदन पे काला कलर क्या खूब लग रहा था यार मे तो जैसे देख के घायल हो गया था.

उसने अपनी टांगें बंद कर दी मैंने उसकी टांगे खोली और बीच में आ के उसकी नाभि को चाटने लगा वह जोर जोर से सीसकियां लेने लगी. में किस करते करते नीचे आया और उसकी पैंटी निकालने लगा कि उसने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे ऊपर खींचा और किस करते करते मेरी शर्ट निकाल दी. मैंने भी अपनी पेंट खोली और नीचे करके निकाल दी उसने मुझे अपने निचे कर दिया और खुद मेरे ऊपर आ गई और मेरा अंडरवीयर निकाल दिया.

उसने मेरा लंड देखा जो कि पूरा खड़ा था और एक स्माइल देकर वह मेरे लोडे पर एक किस किया और थोड़ी देर में से जोर जोर से चूसने लगी कभी लंड चुस्ती तो कभी आंड दबाती. में अब फुल जोश में था. वह मेरे लंड को हाथ से मुठ मारते मारते चूसने लगी. मैं झड़ने वाला था मैंने कहा कि मेरा होने वाला है उसने बिना कुछ कहे स्पीड बढ़ा दी और मैं उसके मुंह में झड़ गया.

उसने मेरे माल को वापिस लंड पर थूक दिया और मुझे कहा कि जाओ धोदो के आओ तो में गया और धो के आया फिर मैं थोड़ा रिलैक्स हुआ और कहा कि मेरे पास कंडोम नहीं है उसने कहा मेरे की मेरे पास है.

और मैं फिर से उसके ऊपर आ कर नेक और बूब्स को दबाने लगा और किस करने लगा.

पर मैंने टाइम वेस्ट न करते हुए उसकी चूत को हाथ से रगड़ने लगा और उसकी पैंटी उतार दी और मेरे सामने उसकी प्यारी सी चूत आ गई, एकदम क्लीन सेव थी उसकी चूत हल्की काली और गुलाबी थी. मैं उसके बीच में आ कर उसके बोबे दबाने लगा और उसके पूरे शरीर को किस भी करने लगा. मैं कहा कि कंडोम दो. उसने बड़ी दबी आवाज में कहां की यार प्लीज मेरी चूत चाट दो बड़ा मजा आएगा. मुझे घिन सी आने लगी लेकिन फिर मैंने ट्राय करने की सोची और मैंने उसकी टांगे खोल कर चूत को चाटने लगा. मैं उसकी चूत के दाने पर जिभ फेरने लगा तो वह एकदम पागल सी हो गई. अब वह अपने मुह से आह ल्ह्ह्ह ओह्ह अहह हह अहह उम्म्म अहह ओह्ह और जोर जोर से आवाज निकालने लगी.

और मेरे बालों पर हाथ फेरने लगी और मेरा सर दबाने लगी. कभी कभी वह अपनी टांग के बिच सर को दबा देती. मेने एक उंगली उसकी चूत में डाली और जोरों से हिलाने लगा और चूत का ऊपरी हिस्सा चाटता रहा. वह भी तेजी से आवाज निकालने लगी और उसने मेरा सर दबाया और टांगे चिपका ली.

तभी उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया. उसकी चूत पूरी गीली हो गई थी. तब उसने कहा कि अब रहा नहीं जा रहा. वह बैठी और अपने पर्स से कंडोम निकाला और पहले मेरे लंड को चूसा जैसे मेरा लंड ढंग से खड़ा हो गया, फिर उसने कंडोम लगाया और थोड़ा देर हिलाया और लेट गई. फिर मैंने उसकी टांगें चौड़ी की और उसकी गीली चूत के मुंह पर अपने लोडे को खूब जोर से रगड़ा. वह अपना सर इधर उधर करने लगी और प्यारी आवाज निकालने लगी मैं लगड़ता रहा उसे रहा नहीं जा रहा था.

उसने अपनने हाथ से लंड को चूत के छेद पर लगाया और कहा अंदर डाल दो यार अब. मेरे भी उसकी टांगें थोड़ी और फेलाई और अपने हाथों से दबा दी फिर मैंने एक जोर का झटका मारा और मेरा आधा लंड घुस गया और वह झटके से ऊपर की और हिली और कहां है अरे आराम बहुत मोटा है दर्द हो रहा है.

मैंने फिर से बाहर निकाला और एक धक्का मारा तो मेरा एकदम अंदर घुस गया और मैं धीरे धीरे चोदता रहा. लगभग 25 धक्को के बाद मैंने जोर से झटके मारना शुरू किया और वह हर धक्के पर आई औ आओ अहः ओह्ह एस एस एस करने लगी और मजे से चुदने लगी. फिर मैंने उसकी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखी और चोदने लगा. उसकी चूत से पानी फिर से निकलने लगा. मेने लंड को बहार निकाला और दो उंगली डाल कर उसकी चूत को सहलाने लगा वह बहुत इंजॉय कर रही थी.

मैंने उससे कहा कि तुम डॉगी स्टाइल में आ जाओ और वह आ गई मैंने लंड को उसकी चूत के मुंह पर लगाया और उसकी कमर को नीचे की तरफ दबाया और धक्का मारा तो जोरदार की चीख निकली और वह मजे से गांड को हिलाने लगी और मजे से चोदता रहा. थोड़ी देर ऐसा ही करने के बाद मेंने कहा कि यार तुम ऊपर आ जाओ तो वह मेरे ऊपर आ गई और लंड को अपनी चूत में लेकर ऊपर नीचे करने लगी मैं अब बहुत मजे में था वह मुझे लिप्स पर किस करते हुए ऊपर नीचे करने लगी.

मेने कहा की मेरा होने वाला हे तो उसने स्पीड बढ़ा दी और मैं झड़ गया. हम दोनों की सास फुल गई थी. वह मेरे ऊपर लेट गई और हम ऐसे ही लेटे रहे थोड़ी देर. फिर वह और मैं बाथरुम में गए और मैंने उसकी चूत साफ़ की और उसने मेरा लंड साफ किया. फिर उसने कहा कि अब घर जाना होगा सास ससुर मेरा इंतजार कर रहे होंगे. और हमने कपड़े पहने और उसने रम का पेमेंट किया और हम कार में चलने लगे.

उसने कहा यार सुमित तुम रियल में बहुत अच्छा सेक्स करते हो बहुत मजा आया आज. मैंने कहा नेक्स्ट टाइम तुम्हारी गांड में मारूंगा अगर तुम चाहो तो. उसने कहा ठीक है. और फिर मेरा स्टॉप आ गया तो उसने कहा कि सुमित यह लो वह मुझे पैसे दे रही थी. मैंने कहा यह क्यों? उसने कहा कि रख लो ना प्लीज मुझे अच्छा लगेगा मैंने कहा नहीं तो उसने कहा अरे नहीं यह मेरा प्यार समझ कर रख लो ना प्लीज. तब मैंने रख लीये उसने मुझे २000 रूपये दिए थे. फिर हम रोज रात को बात करने लगे.

अन्य मजेदार कहानियाँ

उस औरत ने पैसे से मेरा लन्ड खरीदी

हिंदी सेक्स कहानी, हिंदी सेक्स कहानी,

loading...


Related Post – Indian Sex Bazar

Alli Rae and her BF end up fucking in bed with her stepmom fucking as ... Alli Rae and her BF end up fucking in bed with her stepmom fucking as doggy style playing with tits ...
गर्ल्स हॉस्टल में रैगिंग के बहाने मेरी चूत का खिलौना बन गया... गर्ल्स हॉस्टल में रैगिंग Hindi English Adult Sex Stories गर्ल्स हॉस्टल में रैगिंग के बहाने मेरी चूत...
Hindi ( हिन्दी ) • Re: फटफटी फिर से चल पड़ी... मेरी समझ में कुछ आया नहीं. ओह god कल रात की रास लीला देखके जो माल निकला था वो तो कागज़ फिर से कंप्यू...
A Slave Known as Daisy Pt. 01 – 18+ Adults Handiest Authors Note: No one in this story is underage. The main character is 18 years old. ***** Right as t...
loading...