Get Indian Girls For Sex
   

सील तोड़ी सेक्स गेम खेल के - Best Indian Sex Stories, Porn Stories & Desi Sex Kahaniya

सील तोड़ी सेक्स गेम खेल के - Best Indian Sex Stories, Porn Stories & Desi Sex Kahaniya: हैल्लो दोस्तों, आप सभी लोगों को अपनी एक सच्ची सेक्स घटना और मेरा दूसरा सेक्स अनुभव बताने जा रहा हूँ, जिसमें मैंने अपनी नई पड़ोसन मेरी प्यारी अदिति को चोदऔर उसकी वर्जिन चूत की सील को तोड़ दिया। तो कहानी शुरू करने से पहले में आप सभी indiansexbazar.com के चाहने वालों को अपने बारे में पूरा विस्तार से बता देता हूँ। दोस्तों मेरा नाम अभी कुमार है और मेरी उम्र 20 साल है, में दिखने में एकदम ठीक-ठाक हूँ और मेरी लम्बाई 5.7 फिट है, में विदिशा का रहने वाला हूँ। फिर दोस्तों यह बात कुछ दिनों पहले की है जब मेरे पड़ोस में एक परिवार रहने आया जो कि साउथ इंडियन था और उस परिवार में एक अंकल, आंटी और एक बहुत मस्त सी सुंदर लड़की थी, जिसका नाम अदिति था

Bleeding virgin pussy XXX Pic चूत में से खून निकालते हुए फोटो (6)

दोस्तों वो लड़की दिखने में बहुत ही ज्यादा सेक्सी लगती थी और उसका रंग गोरा, पतली कमर, लंबे काले बाल और उसके थोड़े मध्यम आकार के बूब्स थे और उसके फिगर का आकार 34-32-36 के आसपास होगा। दोस्तों में हमेशा मौका देखते ही उसे निहारता, उसकी छाती को घूरता रहता था और में कभी कभी उसके बारे में सोच सोचकर मुठ मारता था, क्योंकि वो मुझे बहुत ही हॉट लगती थी, वो अक्सर बिल्कुल टाईट टी-शर्ट्स पहनती थी और नीचे एकदम फिट वाली जीन्स पहनती, जिससे उसका

बदन और भी उभरने लगता और उसे देखते ही मेरा लंड उछलने लगता था और उसकी टी-शर्ट पहनने की वजह से उसके बूब्स के साईज़ और बड़े लगने लगते थे और बहुत गोल लगते थे। फिर मेरे दिन ऐसे ही मुठ मारते मारते गुज़रने लगे थे, लेकिन मुझे उसके साथ सेक्स करने का कभी मौका ही नहीं मिलता था और में बस उसे दूर से ही देखकर अपनी आखें सेकने लगा था। दोस्तों अदिति की माँ का नाम पूजा था और वो भी दिखने से एकदम सेक्सी बम थी उसको देखकर भी हर किसी की नियत खराब हो

जाए, पूजा आंटी और मेरी मम्मी की बहुत ही कम समय में बहुत अच्छी दोस्ती हो गई थी और उन दोनों का हर कभी साथ घूमना फिरना होता रहता था, लेकिन अदिति और में हम लोग कभी इतनी बातें नहीं करते थे, लेकिन में उससे बात करने के कोई ना कोई मौके जरुर ढूंढता रहता था। फिर एक दिन क्या हुआ कि मेरी माँ और पूजा आंटी साथ में घूमने बाहर चले गये और उस समय में अपने घर पर एकदम अकेला था और उस समय में अपने लॅपटॉप पर सेक्सी फिल्म देख रहा था, लेकिन तभी अचानक से मेरे घर की घंटी बजी और में अपने लेपटॉप को मिनिमाईज़ करके दरवाज़ा खोलने चला गया और फिर मैंने पिन होल से बाहर की तरफ झांककर देखा तो बाहर सफेद रंग की टी-शर्ट में कोई खड़ा हुआ था, लेकिन मुझे उसका चेहरा नजर नहीं आ रहा थाऔर जब मैंने दरवाज़ा खोलकर देखा तो में देखता ही रह गया, क्योंकि बाहर अदिति खड़ी हुई थी और अब मुझे अपनी आखों पर बिल्कुल भी विश्वास नहीं था, क्योंकि में उसको अपने घर के बाहर खड़ा हुआ देखकर मन ही मन बहुत खुश था।

फिर उसको मैंने हाए कहा तो वो मुझसे पूछने लगी कि अभी क्या तुम्हे पता है हमारी मम्मी कब तक वापस आयेगी? तो मैंने उससे कहा कि नहीं मुझे भी नहीं पता, क्योंकि उनका फोन भी नहीं लग रहा है और में भी बहुत देर से उनको फोन लगा रहा हूँ, लेकिन मेरी उनसे बात नहीं हो सकी तो उसने भी मुझसे कहा कि हाँ मेरी भी उनसे कोई बात नहीं हो पा रही है और ऊपर से रात के 10.00 बज गया और अब मुझे घर पर अकेले बहुत डर लग रहा है, क्योंकि पापा भी हमेशा देरी से आते है।

फिर मैंने उससे कहा कि कोई बात नहीं है वो अभी आ जाएँगे, वो कहीं अटक गए होंगे तब तक तुम एक काम करो तुम मेरे घर पर उनका इंतजार कर लो और उनके आने तक तुम यहीं पर रहो। फिर वो मेरी यह बात मान गई और अब हम दोनों थोड़ा इधर उधर की बातें करने लगे और बात करते करते मैंने उससे पूछा कि क्या तुम्हारी लाइफ में कभी कोई बॉयफ्रेंड था? तो उसने मुझसे बहुत धीमी आवाज़ में कहा कि हाँ कुछ समय पहले था, लेकिन अब मेरी उससे किसी बात को लेकर लड़ाई हो गई है और हम अब एक दूसरे

से कभी बात नहीं करते है। फिर मैंने उससे कहा कि तुम बुरा ना मानो तो क्या में जान सकता हूँ कि तुम्हारा अपने बॉयफ्रेंड से झगड़ा क्यों हो गया? और अब वो मेरी बात का बिना बुरा माने मुझे अपने दोस्त के बारे में बताने लगी और तब दोस्तों मुझे उसकी बातों से पता चलने लगा कि वो एक वर्जिन थी और उसकी सेक्स में भी बहुत रूचि थी, वो सेक्स को लेकर बहुत उत्साहित रहती थी, लेकिन उसने अब तक कभी भी सेक्स नहीं किया था और अब हम दोनों जानबूझ कर थोड़े दो मतलब की बातें भी करने लगे थे जिसका मतलब हम दोनों को बहुत अच्छी तरह से समझ में आ रहा था और फिर हमने एक दूसरे के मोबाईल नंबर भी ले लिए थे।

फिर कुछ देर बाद हमारी मम्मी भी आ गई और वो मुझसे बाय कहकर अपने घर पर चली गई और उसके बाद से हम हर कभी जब भी हमें मौका मिलता तो फोन पर बातें करते रहते थे और हम दोनों इस तरह बहुत ही कम समय में एक दूसरे के बहुत करीब हो चुके थे और अब हम साथ में बाहर घूमने भी चले जाते थे और में हमेशा उसे देखता रहता था और कभी कभी सही मौका देखकर में उसके बूब्स को भी छू लिया करता था, लेकिन वो मुझसे कुछ ना कहते हुए मेरी तरफ स्माइल कर लेती थी।

फिर ऐसे ही और एक बार फिर से हमारी माँ बाहर घूमने जाने वाली थी तो मैंने यह बात जानकर तुरंत अदिति को एक मैसेज कर दिया और मैंने उसमें लिखा कि तुम तुम्हारी मम्मी के चले जाने के बाद मेरे घर पर आ जाना, तो वो मान गयी और फिर हमारी मम्मी के चले जाने के बाद वो मेरे घर पर आ गई और मैंने उसे हग किया, क्योंकि वो सब हमारे बीच हर कभी होता रहता था और मैंने उसके बूब्स को अपनी छाती से दबता हुआ महसूस किया और आज मैंने उसे मौका देखकर थोड़ा ज़ोर से उसको हग किया था, वो अब बहुत खुश लग रही थी

और में भी बहुत मन ही मन में उछल रहा था। फिर मैंने अपने लेपटॉप पर अपने घर पर एक छोटी फिल्म को चालू कर दिया और कुछ पॉर्न फिल्म को भी उसके पीछे डाल दिया था। अब में उसको वो शॉर्ट फिल्म दिखाने लगा और फिर में चालाकी से रूम से बाहर आ गया और अब में छुपकर उसे देखने लगा तो मैंने देखा कि वो शॉर्ट फिल्म थोड़ी देर बाद ख़त्म हो गई और वो पॉर्न फिल्म शुरू हो गई तब वो एकदम से चौंक गई और फिर पहले वो इधर उधर देखने लगी कि उसके आसपास कोई तो नहीं है या कोई उसे देख तो नहीं रहा है, फिर जब वो समझ गई कि अब वो