Get Indian Girls For Sex
   

क्लास की लड़की की जोरदार चुदाई की कहानी पढ़े - XXX Stories

क्लास की लड़की की जोरदार चुदाई की कहानी पढ़े - XXX Stories

क्लास की लड़की की जोरदार चुदाई की कहानी पढ़े - XXX Stories : दोस्तो, मेरा नाम रवी है, मैं ग्वालियर में रहता हूँ. मैं हिंदी चुदाई कहानी पढ़ना बहुत अच्छा लगता है.. मैं इसका एक नियमित पाठक हूँ. मैं कम्पटीशन की तैयारी कर रहा हूँ.. इसी के चलते कोचिंग की एक साथ पढ़ने वाली लड़की पूनम से मेरी दोस्ती हो गई. हम दोनों एक ही क्लास में पढ़ते हुए अपने कम्टीशन की तैयारी कर रहे थे.

श्रीदेवी को चोद कर उसके पति का कर्ज माफ़ करा – Indian Sex Stories

मैं एक रूम किराए से लेकर रहता था, उस कमरे की मकान मालकिन, लगे हुए कमरे में ही रहती थीं. मुझे रोज कमरे की चाभी आंटी को देकर जाना होता था ताकि साफ़-सफाई वाली कमरे की सफाई कर सके. मेरे कमरे के कुछ दूरी पर ही पूनम अपनी बहन शिखा के साथ रहती थी. शिखा भी इसी शहर में अपनी पढ़ाई करने आई थी.

एक दिन मेरा पोर्न फिल्म देखने का मुंड बन गया.. मैं कमरे में अकेला बैठा-बैठसेक्सी पोर्न फिल्म देख रहा था. इस वक्त मैं अपने कपड़े उतार कर लेटा था. में अपना दरवाजा लॉक करना भूल गया था और मस्त होकर पोर्न फिल्म देख रहा था| तभी पूनम आ गई.. उसने मुझे नंगा देखा तो जोर से बोली-

क्या तुम्हारे पास कपड़े नहीं हैं? मैंने तुरंत चादर ओढ़ ली.
मैंने पूछा- क्या काम है.. और तुमको आवाज देके आना चाहिए था ना?
पूनम बोली- इसमें आवाज देने की कौन सी बात है.

मैंने पूछा- बोलो क्या चाहिए?
वो बोली- जो तेरे पास है.. वो चाहिए.
मैंने कहा- मैं समझा नहीं?
तो बोली- यार.. बुक कौन सी मांगी थी.. तुझे नहीं मालूम?

मुझे भी लगता था कि पूनम मुझे लाइक करती है.. तो मैंने कुछ नहीं कहा और पूनम को बुक दे दी.
मैंने उससे कहा- शाम को दे जाना.
तो पूनम मुझसे बोली- हां दे दूंगी.. मगर तुमको भी कुछ देना होगा.

यह कहते हुए वो खिलखिला कर चली गई, मैं उसकी बात को समझ ही नहीं पाया.
शाम को जब पूनम आई तो मुझसे बोली- मुझे एक किस दोगे?
मैंने मुस्कुरा कर कहा- ओके ले लो!

तो पूनम मुझसे लिपट कर मेरे होंठों पर किस करने लगी. अब क्या था मेरा लिंग राज टाइट होने लगा और पूनम की चूत में चुभने लगा.
पूनम ने कहा- यार मुझे दिखा सकते हो?
मैंने कहा- क्या?
उसने मेरे लंड को पकड़ लिया- इसे!

मैं मस्त हो गया..घर बैठे चुत मिल गई थी.

आपको पूनम के बारे में बता दूँ.. क्या मस्त फिगर है 30-28-34 उसका.. क्या साली के उठे हुए चूतड़ हैं.. एकदम गोल-गोल.. उसकी पतली और दूध जैसी गोरी कमर.. सच में बड़ा मस्त माल है वो!

पूनम का लंड पकड़ना हुआ और मैं अपनी जिप खोल कर उसको लंड दिखाने लगा.
पूनम बोल पड़ी- ओह.. इतना बड़ा और मोटा..!
‘तेरे लिए ही है जान..!’
‘क्या मैं इसे हाथ में ले सकती हूँ?’
मैंने कहा- क्यों नहीं यार.. मुँह में भी ले सकती हो.
वो मेरा लंड सहलाने लगी और मैं उसके दूध मसलने लगा, वो बोली- धीरे करो ना यार.. दर्द होता है.
मैंने कहा- तूने तो मेरा देख लिया.. अब तू अपनी चुत दिखा.
तो उसने अपनी जींस उतार दी.

साली ने पेंटी ही नहीं पहन रखी थी और न ही ब्रा पहनी थी. मैं समझ गया था कि आज पूनम अपनी चूत चुदवाने ही आई थी. मेरे रूम के बाजू में ही आंटी रहती हैं तो मुझे हमेशा उनका डर लगा रहता है. मैंने पूनम से कहा- आंटी जी बगल में ही रहती हैं.. वो सब ताड़ती हैं.. तुझे जो कुछ भी करना है.. जल्दी कर लो.

पूनम लंड हिलाते हुए बोली- मुझे मालूम है, आते वक्त मेरी उनसे नमस्ते भी हुई थी.. उन्हें मालूम है कि मैं तेरे साथ कोचिंग में पढ़ती हूँ.

मैं सोच में डूब गया कि कोई समस्या न हो जाए. तभी पूनम बोली- मुझे तुम्हारे साथ सेक्स करना है. इतना सुनकर मैंने मन में कहा कि चलो चुत का कुछ तो इंतजाम हुआ. मैंने पूनम को अपने पलंग पर लेटा लिया और मैंने उसकी चूत में उंगली करना चालू कर दिया. कुछ ही पलों में पूनम बोली- यार कुछ और भी करो ना.. क्या उंगली से ही सेक्स हो जाएगा?

इतना सुनकर मैंने उसकी चूत पर थोड़ा तेल लगा दिया और अपना लंड उसकी चूत की फांकों में फंसा कर एकदम से पेल दिया.
पूनम तेज स्वर में चीख पड़ी उम्म्ह… अहह… हय… याह… तो आंटी जी की आवाज आई- क्या हुआ रवी?
मेरी तो गांड फट गई.. मैंने सोचा मर गया आज तो!
पूनम ने कहा- कुछ नहीं आंटी जी.. चूहा था, तो मैं डर गई थी.

आंटी ने कहा- तुम लोग क्या कर रहे हो?
तो पूनम बोली- हम दोनों पढ़ रहे हैं क्योंकि कल मेरी क्लास हो नहीं पाई थी.
आंटी बोलीं- ठीक है.

फिर क्या था.. लंड तो चुत में था ही.. धकापेल दस मिनट तक चुदाई चलती रही. इसी बीच पूनम झड़ चुकी थी, अब मैं भी झड़ने वाला था.. तो मैं उसकी चूत में ही झड़ गया.

चुत चुदवाने के बाद पूनम अपने कमरे पर चली गई. दूसरे दिन जब पूनम कोचिंग आई तो बोली- मैं तुम्हारे रूम पर गई तो आंटी ने तुम्हारे रूम की चाभी दी है. इसका मतलब यह हुआ कि आज आंटी जी कहीं चली गई थीं. मैंने उन्हें फोन लगाया तो वे बोलीं कि हाँ मैं अपने गाँव चली गई हूँ.. मुझे आने में कुछ दिन लग सकते हैं.

मैंने पूनम से कहा- आज तुम मेरे साथ चलोगी?
तो उसने हंसते हुए ‘हाँ’ कर दी.

हम दोनों ने कमरे पर पहुँच कर फिर से चुदाई शुरू कर दी.

इसमें आंटी की चाल थी.. उन्होंने पूनम की बहन शिखा को मेरे कमरे में पहले से ही छिपा दिया था. हम दोनों ने नंगे हो कर चुदाई शुरू की ही थी कि शिखा ने हम दोनों को पकड़ लिया.

शिखा ने पूनम को कपड़े पहन कर घर जाने को कहा.

पूनम की दीदी शिखा की उम्र 20 साल की है.. शिखा ने कहा- रवी, तुम मुझे अपना नम्बर दो.
मुझे डर लगने लगा था कहीं ये कुछ गड़बड़ न करे, मैंने अपना नंबर शिखा को दे दिया.

रात को 12 बजे मेरे पास एक कॉल आया, वो बोली- पहचान लिया?
तो मैंने कहा- नहीं.. आप कौन?
वो बोली- शिखा बोल